कोरोना टीकाकरण का दूसरा चरण सोमवार से शुरू, जानिए किन अस्पतालों में लगेगा मुफ्त और कहां देने होंगे पैसे

HIGHLIGHTS

  • Corona Vaccination In India: टीकाकरण के दूसरे चरण में 60 साल या उससे अधिक आयु वर्ग के बुजुर्गों और 45 से 59 साल के आयुवर्ग के ऐसे लोगों को टीका लगाया जाएगा जो गंभीर रूप से बीमार हैं।
  • कोरोना टीकाकरण के लिए निजी अस्पतालों में आपको कोरोना वैक्सीन की एक डोज के लिए अधिकतम 250 रुपये चुकाने होंगे।

नई दिल्ली। कोरोना महामारी से पूरी दुनिया जूझ रही है और इससे निपटने के लिए अब कई देशों में जोरों-शोरों से टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। भारत में भी तेजी के साथ टीकाकरण किया जा रहा है। अब एक मार्च यानी की सोमवार से टीकाकरण का दूसरा चरण शुरू होगा। इसके लिए सरकार ने कुछ खास तैयारियां की हैं।

कल (सोमवार) से शुरू हो रहे कोरोना टीकाकरण के दूसरे चरण में 60 साल या उससे अधिक आयु वर्ग के बुजुर्गों और 45 से 59 साल के आयुवर्ग के ऐसे लोगों को टीका लगाया जाएगा जो गंभीर रूप से बीमार हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय की और से टीकाकरण को लेकर दिशानिर्देश जारी किए गए हैं।

Corona Alert: देश में तेजी से बढ़ते नए मामलों के बीच केंद्रीय गृह सचिव की राज्यों को चिट्ठी, दिए ये निर्देश

सरकार ने देशभर के तमाम उन अस्पतालों की सूची जारी की है, जहां टीकाकरण किया जाएगा। इसमें उन सभी निजी अस्पतालों का नाम शामिल है, जो देशव्यापी टीकाकरण में भाग ले रहे हैं। इसके अलावा सरकार ने यह भी बताया है कि कोरोना टीका लगाने के लिए निजी अस्पतालों में आपको कितने रुपये चुकाने पड़ेंगे। वहीं सरकारी अस्पतालों में मुफ्त में कोरोना टीका लगाया जाएगा।

निजी अस्पतालों में चुकाने होंगे पैसे

सरकार ने बताया है कि कोरोना टीकाकरण के लिए निजी अस्पतालों में आपको पैसे चुकाने होंगे। सरकार की ओर से जारी दिशानिर्देशों के अनुसार, निजी अस्पतालों में कोरोना वैक्सीन की एक डोज के लिए आपको अधिकतम 250 रुपये चुकाने होंगे। इनमें से 150 रुपये वैक्सीन की कीमत है और 100 रुपये सर्विस चार्ज के तौर पर वसूला जाएगा।

वहीं करीब 12 हजार सरकारी अस्पतालों और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के 24 हजार स्वास्थ्य केंद्रों में कोरोना का टीका मुफ्त में लगेगा। इसके साथ ही मेडिकल कॉलेज अस्पताल, जिला अस्पताल, उप-विभागीय अस्पताल, सीएचसी, पीएचसी, स्वास्थ्य उप केंद्र और स्वास्थ्य और कल्याण केंद्रों में भी टीकाकरण किया जाएगा।

कोरोना संकट के बीच इस देश ने बनाई एक डोज वाली वैक्सीन, 66 फीसदी ज्यादा प्रभावी होने का दावा

बता दें कि आयुष्मान भारत एवं प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PMJAY) के तहत करीब 12,000 अस्पतालों को चिन्हित किया गया है। केंद्र सरकार की स्वास्थ्य योजना (Central Government Health Scheme, CGHS) के तहत कोरोना टीकाकरण के इस अभियान में निजी अस्पतालों को शामिल किया गया है। ये सभी निजी अस्पताल कोरोना टीकाकरण के सेंटर (COVID Vaccination Centres, CVCs) के रूप में काम करेंगे।

मालूम हो कि पहले चरण में सिर्फ सरकारी अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों में ही कोरोना का टीका लगाया जा रहा था। अब आयुष्मान भारत के अस्पतालों या CGHS अस्पतालों में भी टीका लगाया जाएगा। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण की वेबसाइट पर उन सभी निजी अस्पतालों की एक सूची अपलोड की गई है, जहां टीकाकरण किया जाएगा।

इस लिंक पर क्लिक कर निजी अस्पतालों की सूचू देख सकते हैं..

www.mohfw.gov.in/pdf/CGHSEmphospitals.xlsx

https://www.mohfw.gov.in/pdf/PMJAYPRIVATEHOSPITALSCONSOLIDATE" rel="nofollow

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned