पैगंबर कार्टून विवाद ने पकड़ा ​तूल, टीचर की हत्या के बाद अब दो मुस्लिम महिलाओं को मारा चाकू, दी गालियां

फ्रांस (france) में एफिल टॉवर (Eiffel Tower) के पास दो मुस्लिम महिलाओं (Muslim Women) को चाकू मारकर घायल किया घायल। दी गालियां। इस हादसे की तस्वीरें सोशल मीडिया पर हुई वायरल। मचा बवाल। आक्रोश में लोग....

नई दिल्ली। पैगंबर मोहम्मद के कार्टून को लेकर फ्रांस (prophet muhammad cartoon‍ controversy france) में हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। पहले इस्लामिक कट्टरपंथी (Islamic fundamentalist) ने 47 वर्षीय स्कूल टीचर सैमुअल पेटी (Samuel Patty) की गला काटकर हत्या कर दी और अब एफिल टॉवर के पास दो मुस्लिम महिलाओं (Muslim Women) को चाकू मारकर घायल करने के साथ उन्हें गालियां भी दी गई। इस हादसे के बाद सोशल मीडिया (Social Media) पर काफी बवाल मचा हुआ है। कई लोगों ने सोशल मीडिया पर इस हादसे की तस्वीरें शेयर की हैं। पुलिस ने हमलावर महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया है।

Donald Trump ने फौसी पर निशाना साधा, कहा-वे टीम में काम करने वाले इंसान नहीं

किस बात पर हुआ विवाद
हमले में घायल महिला केंजा के मुताबिक, जब वह अमेल और बच्चों के साथ घूमने आई थी तो दो अन्य महिलाएं अपने कुत्तों के साथ धूम रही थी। जैसे वे हमारी तरफ आईं तो कुत्ते भौंकने लगे और हमने उन्हें कहा कि बच्चे डर रहे प्लीज इन्हें थोड़ा दूर ले जाइए। जब उन्होंने दूर जाने से मना कर दिया तो तीखी बहस हुई और उन्होंने चाकू निकालकर हमला कर दिया।

जूनियर ट्रंप ने PM Modi से रिश्तों को बताया अविश्वसनीय, कहा-भारत के लिए जो बिडेन ठीक नहीं

कौन हैं हमले में घायल महिलाएं
एफिल टॉवर के पास हमले में घायल महिलाओं की पहचान अल्जीरिया मूल की फ्रांसीसी महिला केन्‍जा और अमेल के रूप में हुई है। केंजा को 6 बार चाकू मारा गया और उन्‍हें अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं हमला करने वाली महिलाएं यूरोप की बताई जा रही हैं।

US Presidential Election: डोनाल्ड ट्रंप आखिरी डिबेट में जो बिडेन से इस मुद्दे पर चाहते हैं बहस

कैसे पनपा यह विवाद
दरअसल, 15 अक्बूर को स्कूल टीचर सैमुअल पेटी ने छात्रों के साथ पैगंबर कार्टून को लेकर चर्चा की। इसके बाद पेरिस में सड़क पर उनकी गला काटकर हत्या कर दी। इसके विरोध में फ्रांस की सड़कों पर जनसैलाब उमड़ पड़ा। टीचर के सर्मथन में फ्रांस की सड़कों पर रैलियां निकाली गईं, जिसमें कई बड़े नेताओं ने भी भाग लिया।

2015 में भी हुआ था विवाद
पैगंबर मोहम्मद के कार्टून को लेकर इससे पहले वर्ष 2015 में विवाद हुआ था। उस दौरान फ्रांस के चार्ली हेब्दो पत्रिका के दफ्तर पर हमला किया गया था और 12 लोगों की हत्या कर दी गई थी।

Show More
भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned