scriptसंसद अहंकार की ईंटों से नहीं, संवैधानिक मूल्यों से बनती है: राहुल गांधी | Rahul Gandhi attacks PM Modi over the inauguration of the new Parliament House | Patrika News
राष्ट्रीय

संसद अहंकार की ईंटों से नहीं, संवैधानिक मूल्यों से बनती है: राहुल गांधी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि नए संसद भवन के उद्घाटन के लिए देश के राष्ट्रपति को आमंत्रित नहीं करना देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद का अपमान है।

May 24, 2023 / 03:02 pm

Shaitan Prajapat

Rahul Gandhi

Rahul Gandhi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नए संसद भवन के उद्घाटन को लेकर विपक्ष लगातार हमलावर है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने कहा कि नए संसद भवन के उद्घाटन के लिए देश के राष्ट्रपति को आमंत्रित नहीं करना देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद का अपमान है। इसको लेकर राहुल गांधी ने ट्वीट किया है कि संसद घमंड की ईंटों से नहीं बनी है। उनका कहना है कि संसद संवैधानिक मूल्यों से बनती है। बता दें कि राहुल गांधी और मल्लकार्जुन खड़गे पहले ही कार्यक्रम का उद्घाटन राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से करवाने की मांग कर चुके हैं।


देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद का अपमान

विपक्षी पार्टियों की ओर से बहिष्कार के ऐलान के बाद राहुल गांधी ने ट्वीट किया है कि राष्ट्रपति से संसद का उद्घाटन नहीं करवाना और नहीं ही उन्हें समारोह में बुलाना, यह देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद का अपमान है।

https://twitter.com/RahulGandhi/status/1661283364803080192?ref_src=twsrc%5Etfw


राष्ट्रपति दौपदी मुर्मू करें नए संसद भवन का उद्घाटन

लोकसभा मंत्रालय ने नए संसद भवन के उद्घाटन के लिए आधिकारिक आमंत्रण पत्र जारी कर दिया है और साफ है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसका उद्घाटन करेंगे। इस समय विपक्ष प्रधानमंत्री मोदी के संसद भवन का उद्घाटन करने के खिलाफ बौखलाया हुआ है। नया संसद भवन सत्ताधारी दल की अतिशयोक्ति नहीं है। यह लोकतंत्र का प्रतीक है। अतः राष्ट्रपति दौपदी मुर्मू इस भवन का उद्घाटन करें। कांग्रेस ने संवैधानिक पद के अपमान के रूप में प्रधान मंत्री के उद्घाटन की आलोचना की।

यह भी पढ़ें

नई संसद पर विपक्ष के बायकॉट को लेकर अमित शाह बोले- अपनी-अपनी सोच, हमने सबको बुलाया



19 पार्टियां नई संसद बिल्डिंग के उद्घाटन का करेंगी बहिष्कार

नए संसद भवन के उद्घाटन समारोह का 19 विपक्षी पार्टियों ने बहिष्कार करने का ऐलान किया है। इन सभी ने एक संयुक्त बयान जारी किया है। उन्होंने कहा कि हमारी निरंकुश प्रधानंमत्री और उनकी सरकार के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी। इसमें संसद भवन के उद्घाटन को महत्वपूर्ण अवसर बताते हुए कहा गया है कि सरकार लोकतंत्र को खतरे में डाल रही है।

यह भी पढ़ें

28 मई को नए संसद भवन का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी, जानिए इसकी खासियतें

कांग्रेस की आलोचना पर बीजेपी का पलटवार

केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कांग्रेस की आलोचना पर पलटवार करते हुए कहा है कि कांग्रेस विवाद पैदा करना पसंद करती है। राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री दोनों संसदीय प्रणाली का हिस्सा हैं। हालांकि, राष्ट्रपति संसद के किसी भी सदन का सदस्य नहीं होता है। प्रधानमंत्री संसद का सदस्य होता है। तो उन्होंने ट्वीट किया कि इस भवन का उद्घाटन प्रधानमंत्री कर रहे हैं।

Hindi News/ National News / संसद अहंकार की ईंटों से नहीं, संवैधानिक मूल्यों से बनती है: राहुल गांधी

ट्रेंडिंग वीडियो