दस साल में आढ़ती से अरबपति बन गया था ये शख्स, चौंकाने वाली है कहानी

दस साल में आढ़ती से अरबपति बन गया था ये शख्स, चौंकाने वाली है कहानी

Nitin Sharma | Publish: Apr, 17 2018 02:12:17 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

बाइक सवार बदमाशों ने दिन दहाड़े कर दी हत्या

नोएडा।हार्इटेक शहर नोएडा में सोमवार शाम को हुए बड़े रियल एस्टेट कारोबारी मोती गोयल की हत्या मामले में पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। बदमाशों की गोली का शिकार हुए मोती गोयल नोएडा से लेकर गाजियाबाद में एक बड़ा नाम था। उसने पिछले दस सालों में एक आढ़ती से अरबपति तक सफर तय किया था। इतना ही नहीं इस बीच मोती गोयल पर ग्रेटर नोएडा से लेकर गाजियाबाद पुलिस थानों में दर्जन से भी ज्यादा मुकदमें दर्ज है। इन मामलों में वह जेल भी जा चुका था।

यह भी पढ़ें-...तो इसलिए बीच सड़क पर घर बनाने जा रहे लोग, सरकार में मची खलबली!

आढ़ती से एेसे अरबपति तक तय किया सफर

जानकारी के अनुसार गाजियाबाद के नवयुग निवासी मोती गोयल के पिता लज्जाराम गोयल आढ़त का काम करते थे। उनके इस काम में मोती गोयल भी उनकी मदद करते थे। इसके बाद मोती गोयल ने आढ़त का काम छोड़कर नवयुम मार्केट में अपना फर्नीचर शोरूम शुरू कर दिया। इसे बंद कर फिर गाेयल ने प्लाइवुड का काम शुरू किया। दुकान से काम बढ़ाकर उन्होंने आैद्योगिक क्षेत्र में प्लाइवुड की फैक्ट्री शुरू की। इसके बाद जमीनों के दाम बढ़ते देख मोती गोयल ने प्राॅपट्री में हाथ डालना शुरू कर दिया। उन्होंने कुछ जमीन खरीदने के साथ ही आरोप है कि कुछ सरकानी जमीनों पर कब्जा शुरू कर दिया। जमीन पर कब्जा जमाने के लिए गोयल ने अमीन, लेखपाल से लेकर तहसील के कर्मचारियों से सांठगांठ कर ली। जिसके बाद आरोप है कि मोती गोयल एमएलसी की जमीन पर पट्टे कटवाकर अपने जानकारों के नाम आैर बाकी सरकारी जमीन अपने नाम कर करोड़ों रुपये का खेल किया। एेसे ही कर्इ मामले खुलने पर मोती गोयल के खिलाफ मुकदमें दर्ज हुए। जिसके बाद माेती गोयल ने नोएडा आैर फिर ग्रेटर नोएडा की जमीनों पर कब्जा जमाना शुरू किया। आरोप है कि यहां भी ग्राम समाज की जमीन को घेरकर गोयल ने करोड़ों रुपये का मुआवजा उठा लिया। वहीं एक के बाद एक सरकारी जमीनों पर कब्जा करने के मामले में गोयल को जेल भी जाना पड़ा। उधर मोती गोयल ने अरबों रुपये की संपत्ति भी एकत्र कर ली।

यह भी पढ़ें-युवती का नंबर पाने के लिए फर्जी अधिकारी बन गया शख्स, फिर किया ये काम

सपा सरकार में था अच्छा दबदबा

गाजियाबाद के मोती गाेयल जमीन कब्जाने के साथ ही बड़े बड़े अधिकारियों ने दोस्ती कर करोड़ों का वारे न्यारे करता था। सपा सरकार में मोती गोयल का कद्दावर नेताआें से उठना बैठना था। जिसके दम पर वह प्राधिरकरण से लेकर गाजियाबाद के आवास विकास के उस दौरान के आधिकारियों पर सिफारिश का जोर दिखाकर उल्टे कामों को भी सही करा लेता था।

यह भी पढ़ें-छात्रा के साथ रास्ते में हुआ कुछ एेसा कि स्कूल जाने से किया तौबा

60 करोड़ रुपये के जमीन के विवाद में हत्या की आशंका

वहीं पुलिस अधिकारियों के अनुसार मोती गोयल का बरौला के पास हिंडन विहार में एक बड़ा प्लाॅट है । इसको लेकर उनका कर्इ लोगाें से विवाद चल रहा है, लेकिन इस पर मोती गाेयल का कब्जा है। सोमवार शाम को वह इसी प्लाॅट पर बिल्डिंग का निर्माण करा रहे थे। तभी दो बाइक सवार बदमाशों ने उनके पास आकर गोली मारकर हत्या कर दी। मोती गोयल के बेटे की शिकायत पर पुलिस चार लोगों के खिलाफ नाम दर्ज मुकदमा दर्ज कर आरोपियों का पता लगाने में जुटी है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned