पाकिस्तानी युवक से मिलने दुबई पहुंची मेरठ की युवती, संसद में गूंजा मामला तो घर वापस लौटी

Highlights:

-युवती का चार नवंबर को ही पासपोर्ट बना था और वह 7 नवंबर को घर से निकली थी

-थाने में सुनवाई नहीं होने पर परिजनों ने सांसद राजेंद्र अग्रवाल से मदद मांगी

-दुबई में भारतीय दूतावास की मदद से युवती वापस अपने घर लौट आई है

नोएडा। सोशल मीडिया पर पाकिस्तानी युवक के झांसे में आकर दुबई पहुंची मेरठ की युवती करीब 33 दिनों बाद वापस लौट आई है। जिससे पुलिस पूछताछ कर रही है। वहीं पिछले दिनों यह मामला संसद में भी गूंजा था जिसके बाद दुबई स्थित भारतीय दूतावास के सक्रिय होने पर आरोपी नदीम दुबई से भाग निकला। उधर, दिल्ली दूतावास से शिक्षिका को क्राइम ब्रांच और उसके परिवार के लोग मेरठ ले आए हैं।

यह भी पढ़ें : दुबई गई शिक्षिका एक माह बाद घर लौटी, भावुक हुए भाई ने लोगों से की अपील, देखें Video

nadeem_1573720847.jpg

दरअसल, मेरठ के कंकरखेड़ा क्षेत्र के रामनगर निवासी युवती ने इसी वर्ष 12वीं की पढ़ाई पूरी की है। वर्तमान में वह अपनी मां के स्थान पर एक प्ले स्कूल में शिक्षिका के तौर पर नौकरी कर रही थी। युवती का चार नवंबर को ही पासपोर्ट बना था। वहीं वह 7 नवंबर को अपना पासपोर्ट, शैक्षिक प्रमाण पत्र और सात हजार रुपये लेकर घर से निकली थी। जब वह वापस नहीं लौटी तो परिजनों ने इसकी शिकायत पुलिस से की। थाने में सुनवाई नहीं होने पर परिजनों ने सांसद राजेंद्र अग्रवाल से मदद मांगी। सांसद द्वारा जब मामले में संज्ञान लिया गया तो एसएसपी अजय साहनी ने पुलिस की टीम गठित की।

nadeem_1574335364.jpg

पुलिस ने जब परिजनों से जानकारी जुटाई तो युवती के पासपोर्ट लेकर निकलने की बात सामने आई। इस एंगल पर पुलिस ने छानबीन शुरू की और विदेश मंत्रालय से जानकारी जुटाई। तब पता चला कि युवती आठ नवंबर की रात को ही दिल्ली एयरपोर्ट से दुबई पहुंच चुकी थी। वहीं जम्मू-कश्मीर के एक सोशल मीडिया एक्सपर्ट ने नदीम का पता ढूंढ निकाला था।

यह भी पढ़ें: यूपी के देसी छोरे ने चीनी मोबाइल कंपनी को बनाया जीरो से हीरो और बन गया 320 करोड़ का मालिक

m.jpg

संसद में उठा मुद्दा

मेरठ सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने इस मुद्दे को संसद में उठाया और युवती की बरामदगी की मांग की। जिसके बाद यह मामला दूतावास तक पहुंचा और दुबई में सुरक्षा एजेंसियां व भारतीय दूतावास ने युवती की खोजबीन शुरू की। मंगलवार रात तो दुबई स्थित भारतीय दूतावास के अधिकारियों ने युवती के परिजनों से संपर्क साध और युवती की बरामदगी की जानकारी दी। साथ ही दूतावास के अधिकारी युवती को दुबई से लेकर दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचे। जहां युवती के भाई व पिता मेरठ क्राइम ब्रांच के साथ पहुंचे और युवती को लेकर मेरठ आए।

युवती ने खोले राज

पुलिस के मुताबिक युवती ने पूछताछ में बताया है कि सोशल मीडिया के जरिए वह पाकिस्तान के निवासी नदीम के संपर्क में आई थी। फेसबुक पर दोनों की रोज बात होती थी। नदीम ने एक दिन युवती को दो लाख रुपये की नौकरी लगवाने की बात कहकर दुबई बुलाया था। नदीम ने ही शिक्षिका के टिकट का 22 हजार दो सौ रुपये का भुगतान दुबई से दिया था। युवती ने बताया कि जब वह दुबई पहुंची तो एयरपोर्ट पर नदीम उसे लेने नहीं पहुंचा और उसने धोखा दिया। वहां रहकर उसने दुबई की भाषा सीखी। केरल की एक फैमिली ने दुबई में उसकी मदद की और जब उसके पैसे खत्म हो गए तो उसने भारतीय दूतावास के अधिकारियों से बात की।

यह भी पढ़ें : पिता चिल्लाता रहा 'डंडे से मार इसको', डर से बच्चा दूसरे मासूम को रोते हुए पीटता रहा, देखें वीडियो

nadeem_1574335396.jpg

एसपी सिटी अखिलेश नारायण सिंह ने बताया कि भारतीय दूतावास की मदद से युवती वापस अपने घर लौट आई है। पूछताछ के दौरान युवती ने बताया है कि जिस नदीम पर उसके अपहरण का आरोप लगाया जा रहा था, दुबई में उससे उसकी मुलाकात हुई ही नहीं। नौकरी ना मिलने के कारण युवती दुबई में एक भारतीय परिवार के घर पर शरण लिए हुए थे। मामला हाईलाइट होने पर उसने खुद भारतीय एंबेसी से संपर्क कर अपने घर लौटने की इच्छा जाहिर की। जिसके बाद वह वापस लौट आई है।

युवती ने सरकार और पुलिस को दिया धन्यवाद

युवती के भाई का कहना है कि सोशल मीडिया पर इस तरह के कई गिरोह सक्रिय हैं जो लड़कियों को बहला-फुसलाकर बुलाते हैं और फिर गलत काम की ओर धकेल देते हैं। उन्होंने भगवान का शुक्रिया अदा किया कि उनकी बहन के साथ कोई ऐसा गलत काम नहीं हुआ। वहीं उन्होंने सरकार और पुलिस को भी सहयोग के लिए धन्यवाद दिया।

nadeem_1574335427.jpg

सोशल मीडिया एक्सपर्ट ने नदीम से साधा संपर्क

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सोशल मीडिया एक्सपर्ट ने शुक्रवार रात को नदीम के मोबाइल पर संपर्क किया। आरोपी का असली नाम नदीम इकबाल है। वह पाकिस्तान में पंजाब प्रांत का रहने वाला है। नदीम इकबाल दुबई में एसईसीईएल कंपनी में इलेक्ट्रिकल असिस्टेंट है। कंपनी की ओर से दुबई के एक होटल में तैनात है। नदीम ने एक्सपर्ट को फोन पर बताया कि उसके पास 20 से 25 कॉल आ चुकी हैं और उसे लड़की के बारे में कोई जानकारी नहीं है। उसने कहा कि उसका ट्विटर अकाउंट किसी और ने यूज कर लिया हो। नदीम ने दुबई से पाकिस्तान जाने की बात भी कही। वहीं माना जा रहा है कि दुबई में जांच एजेंसियों के निशाने पर आने के बाद नदीम पाकिस्तान चला गया है।

Show More
Rahul Chauhan
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned