Para Asian Games: फिट एथलीटों से ज्यादा पदक जीत चुके हैं शारीरिक रूप से अक्षम भारतीय एथलीट

कोई जरूरी नहीं कि शारीरिक अक्षमता इंसान को लाचार बना कर छोड़ दे। यदि कुछ खास करने का जुनून हो तो कामयाबी छक मार आती है। ये बात साबित हुई है पैरा एशियन गेम्स 2018 में भारतीय एथलीटों के प्रदर्शन से...

By:

Published: 13 Oct 2018, 03:49 PM IST

नई दिल्ली। इंडोनेशिया की राजधानी जर्काता में जारी तीसरे पैरा एशियन गेम्स का आज (शनिवार) आखिरी दिन है। समापन से पहले ही शारीरिक रूप से असक्षम एथलीटों के बीच जारी खेलों के इस महाकुंभ में भारतीय एथलीटों ने बड़ा मुकाम हासिल कर लिया है। भारत के पैरा एथलीटों ने एशियन गेम्स 2018 में किए भारत के सामान्य एथलीटों के प्रदर्शन को पीछे छोड़ दिया है। गौरतलब हो कि 18 अगस्त से 2 सितंबर के बीच आयोजित हुए 18वें एशियन गेम्स में भारत को 15 स्वर्ण कुल 69 पदक हासिल हुए थे। भारतीय पैरा एथलीटों ने इस प्रदर्शन को पीछे छोड़ते हुए अबतक 15 स्वर्ण पदक सहित कुल 72 पदक हासिल कर लिए है।

शनिवार को मिले दो और स्वर्ण-
पैरा एशियन गेम्स में शनिवार को अबतक भारतीय एथलीटों ने दो और स्वर्ण पदक हासिल कर लिए है। इन दो स्वर्ण पदकों के साथ ही भारत के स्वर्ण पदकों की संख्या 15 हो गई है। शनिवार को मिले ये दोनों स्वर्ण बैडमिंटन में मिले। तरुण ने पुरुषों के एसए-4 एकल वर्ग में सोने का तमगा हासिल किया तो वहीं प्रमोद ने एसएल-3 श्रेणी में स्वर्ण जीता। दोनों भारतीय खिलाड़ियों ने इंडोनेशियाई खिलाड़ियों को मात देकर खिताबी जीत हासिल की।

तरुण और प्रमोद ने दिलाया स्वर्ण-
तरुण ने फ्रेडी सेतियावान को 10-21, 21-13, 21-19 से मात दी। पहला गेम हारने के बाद भारतीय खिलाड़ी ने दमदार वापसी की और फिर जीत हासिल करते हुए सोने का पदक अपने गले में डाला। प्रमोद को भी जीतने के लिए तीम गेम का मैच खेलना पड़ा। उन्होंने रुकाएनडीयुकु को 21-19, 15-21, 21-14 से हराया।

पदक तालिका का हाल-
पदक तालिक में चीन 172 स्वर्ण सहित कुल 319 पदकों के साथ शीर्ष पर है। दूसरे स्थान पर 53 स्वर्ण सहित कुल 145 पदकों के साथ कोरिया है। ईरान तीसरे स्थान पर है। ईरान के खाते में 51 स्वर्ण सहित कुल 136 पदक है। जापान 45 गोल्ड सहित कुल 198 पदकों के साथ चौथे स्थान पर है। पांचवें स्थान पर मेजबान इंडोनेशिया 37 स्वर्ण सहित कुल 135 पदकों के साथ बना हुआ है। भारत 15 स्वर्ण, 24 रजत और 33 कांस्य सहित कुल 72 पदकों के साथ दसवें नंबर पर है।

भारत का सफलतम प्रदर्शन-
बताते चले कि पैरा एशियन गेम्स के पहले संस्करण में भारत के खाते में मात्र 15 पदक थे। साल 2010 में आयोजित में इस टूर्नामेंट में भारत ने एक स्वर्ण, चार रजत और 9 कांस्य पदक हासिल किया था। कुल 14 पदकों के साथ भारतीय दल पहले आयोजन में 15वें स्थान पर थी। जबकि साल 2014 में हुए दूसरे आयोजन में भारत तीन स्वर्ण, 14 रजत और 16 कांस्य सहित कुल 33 पदकों के साथ 15वें नंबर पर था। इस लिहाज से पैरा एशियन गेम्स 2018 भारत के लिए सर्वाधिक कामयाबी वाला साबित हो रहा है।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned