scriptपीलीभीत टाइगर रिजर्व में 1.67 करोड़ की लागत से पर्यटन सुविधाओं का विस्तार | Expansion of Tourism facilities in Pilibhit Tiger Reserve at a cost of Rs. 1.67 crore | Patrika News
पीलीभीत

पीलीभीत टाइगर रिजर्व में 1.67 करोड़ की लागत से पर्यटन सुविधाओं का विस्तार

पीलीभीत टाइगर रिजर्व बना पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र.

पीलीभीतJun 21, 2024 / 08:20 am

Ritesh Singh

Tourism

Tourism

 उत्तर प्रदेश के महत्वपूर्ण वन्यजीव अभ्यारण्यों में से एक, पीलीभीत टाइगर रिजर्व, अपनी जैव विविधता और बंगाल टाइगर के संरक्षण के लिए प्रसिद्ध है। उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग द्वारा इको टूरिज्म को बढ़ावा देने के उद्देश्य से यहां पर्यटन सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है। इसके अंतर्गत 1.67 करोड़ रुपये की लागत से गेस्ट हाउस के पास पार्किंग एरिया, वेटिंग हॉल, प्रतीक्षालय एवं एक सुविधाजनक हॉल का निर्माण किया गया है।

नए पर्यटन सुविधाएं

प्रदेश के संस्कृति और पर्यटन मंत्री  जयवीर सिंह ने बताया कि पर्यटकों के लिए कई नई सुविधाएं जोड़ी गई हैं। इनमें सेल्फी पॉइंट शामिल है, जिससे पर्यटक यादगार तस्वीरें ले सकें। इसके अलावा, रिजर्व के प्रवेश द्वार को भव्य और आकर्षक बनाया गया है। रिसेप्शन और टिकट काउंटर को पर्यटकों के लिए अधिक सुविधाजनक बनाया गया है। पर्यटकों को धूप से बचाने के लिए टेंट भी लगाए गए हैं। प्रकृति के करीब रहने का अनुभव प्रदान करने के लिए बांस के कॉटेज (बैम्बू कॉटेज) बनाए गए हैं। रोमांचक अनुभव के लिए एडवेंचर स्पोर्ट्स की सुविधा भी शुरू की गई है। परिसर में सोलर लाइटें लगाई गई हैं ताकि पर्यावरण अनुकूलता बनी रहे।
Tourism

पीलीभीत का समर डेस्टिनेशन के रूप में विकास

जयवीर सिंह ने बताया कि पीलीभीत को उत्तर प्रदेश के समर डेस्टिनेशन के रूप में भी जाना जाता है। इस पहल को और मजबूत करते हुए, पीलीभीत टाइगर रिजर्व में चूका बीच पर बैम्बू कैंटीन का निर्माण कराया गया है, जिससे पर्यटकों को एक अद्वितीय और आनंददायक अनुभव मिलेगा। इन विकास कार्यों से पीलीभीत टाइगर रिजर्व में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और यह क्षेत्र स्थानीय और विदेशी पर्यटकों के लिए एक प्रमुख आकर्षण का केंद्र बनेगा।

इको टूरिज्म की अपार संभावनाएं

जयवीर सिंह ने कहा कि प्रदेश में इको टूरिज्म की अपार संभावनाएं हैं। वन्यजीव अभ्यारण्य और बर्ड सेंचुरी पर्यटकों को प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद लेने का अवसर देती हैं। इको टूरिज्म पर्यटन को बढ़ावा देने के साथ-साथ स्थानीय रोजगार के अवसर भी प्रदान करेगा। सरकार इको टूरिज्म के लिए इको टूरिस्ट डेस्टिनेशन का विकास, स्थानीय प्रशिक्षण और जागरूकता अभियान चला रही है।
यह भी पढ़ें

Good News: उत्तर प्रदेश प्रवर्तन दस्ते के वाहनों को मिलेगा GPS और वीएलटी डिवाइस 

पीलीभीत टाइगर रिजर्व में 1.67 करोड़ की लागत से नए पर्यटन सुविधाओं का विस्तार किया गया है, जिससे यह स्थान पर्यटकों के लिए और भी आकर्षक बन गया है। इको टूरिज्म को बढ़ावा देने के उद्देश्य से किए गए इन कार्यों से न केवल पर्यटकों को बेहतर अनुभव मिलेगा, बल्कि स्थानीय रोजगार के अवसर भी उत्पन्न होंगे।

Hindi News/ Pilibhit / पीलीभीत टाइगर रिजर्व में 1.67 करोड़ की लागत से पर्यटन सुविधाओं का विस्तार

ट्रेंडिंग वीडियो