2019 आम चुनाव में बम्पर जीत के लिए भाजपा का T-20 फॉर्मूला

2019 आम चुनाव में बम्पर जीत के लिए भाजपा का T-20 फॉर्मूला

Anil Kumar | Publish: Sep, 16 2018 04:17:02 PM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 04:17:03 PM (IST) राजनीति

2014 चुनाव से पहले भाजपा ने प्रचार के लिए चाय पर चर्चा जैसे कैंपेन चलाई थी लेकिन इस बार 2019 चुनाव में बेहतर परिणाम के लिए भाजपा टी-20 फॉर्मूले पर काम रही है।

नई दिल्ली। आम चुनाव 2019 के लिए अब बस कुछ ही महीने शेष बचे हैं और सभी राजनीतिक दल अपनी-अपनी तैयारियों में लग गए हैं। भाजपा ने एक बार फिर से 2014 जैसे परिणामों को दोहराने के लिए कमर कस ली है और एक नया फॉर्मूला आजमाने का फैसला किया है। बता दें कि 2014 चुनाव से पहले भाजपा ने प्रचार के लिए चाय पर चर्चा जैसे कैंपेन चलाई थी लेकिन इस बार 2019 चुनाव में बेहतर परिणाम के लिए भाजपा टी-20 फॉर्मूले पर काम रही है।

क्या है T-20 फॉर्मूला

आपको बता दें कि भाजपा टी-20 फॉर्मूले पर काम कर रही है। इसका मतलब है कि हर एक कार्यकर्ता आम लोगों के घरों में जाकर चाय पिएगा और फिर मोदी सरकार की उपलब्धियों की जानकारी देगा। भाजपा इस फॉर्मूले के अलावा एक और अन्य फॉर्मूले पर काम कर रही है। इस फॉर्मूले के मुताबिक भाजपा ‘हर बूथ दस यूथ’, नमो एप सम्पर्क पहल एवं बूथ टोलियों के माध्यम से मोदी सरकार की उपलब्धियों को घर घर पहुंचने का कार्यक्रम तैयार कर रही है। बता दें कि भाजपा आलाकमान ने अपने सभी सांसदों, विधायकों, स्थानीय एवं बूथ कार्यकर्ताओं को साफ संदेश दिया है कि वह अपने क्षेत्र में जनता के बीच जाएं और लोगों तक सरकार की योजनाओं की जानकारी को पहुंचाएं। इसके अलावा पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा गया है कि हर गांव में जाएं और कम से कम एक कार्यकर्ता 20 घरों में जाकर चाय पिएं। इसके साथ सरकार के कार्यों के बार में उस परिवार को जानकारी दें।

सौ साल के इतिहास में पहली बार BHU में होगी राजनीतिक सभा, PM मोदी करेंगे संबोधित

नरेंद्र मोदी एप के जरिए प्रचार

आपको बता दें कि भाजपा तकनीक के सहारे इस बार व्यापक पैमाने पर प्रचार करने की तैयारी में है। इसके लिए नरेंद्र मोदी एप के जरिए लोगों को जोड़ने का काम किया जा रहा है। बता दें कि अगले सप्ताह नरेंद्र मोदी एप का नया प्रारूप आ जाएगा, जिसमें पहली बार पार्टी कार्यकर्ताओं के कार्यों के संबंध में भी एक खंड होगा। इसमें बताया जाएगा कि कार्यकर्ताओ को क्या करना है और लोगों को कैसे जोड़ना है। बता दें कि भाजपा ने प्रत्येक मतदान केंद्र पर 100 लोगों को नरेन्द्र मोदी एप से जोड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया है। इसके अलावा हर बूठ पर कम से कम 20 नए सदस्यों को जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है। बीते दिनों पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की हुई बैठक में मंथन के बाद कार्यकर्ताओं से ‘घर-घर दस्तक’ अभियान पर तेजी से अमल करने को कहा गया है।

Ad Block is Banned