कश्मीर: पीडीपी ने वरिष्ठ नेता अल्ताफ बुखारी को किया बर्खास्त, पार्टी विरोधी गतिविधियों का आरोप

कश्मीर: पीडीपी ने वरिष्ठ नेता अल्ताफ बुखारी को किया बर्खास्त, पार्टी विरोधी गतिविधियों का आरोप

Mohit sharma | Publish: Jan, 20 2019 07:28:44 AM (IST) | Updated: Jan, 20 2019 09:12:28 AM (IST) राजनीति

पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) ने शनिवार को पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री सैयद अल्ताफ बुखारी को पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण पार्टी से बर्खास्त कर दिया।

नई दिल्ली। पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) ने शनिवार को पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री सैयद अल्ताफ बुखारी को पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण पार्टी से बर्खास्त कर दिया। पीडीपी द्वारा जारी एक बयान में कहा गया कि पार्टी काफी समय से अपने एक नेता सैयद अल्ताफ बुखारी की गतिविधियों पर नजर रख रही है। बयान में आगे कहा गया कि हमारे संस्थापक मुफ्ती मोहम्मद सईद के गुजरने के बाद से ही वे अपने निजी राजनीतिक महत्वाकांक्षाओं को पार्टी और राज्य के हितों की कीमत पर आगे बढ़ा रहे थे।

ममता की रैली पर भाजपा का पलटवार, शत्रुघ्न सिन्हा को लेकर दिए कार्रवाई के संकेत

बुखारी ने पार्टी के असंतुष्टों को बढ़ावा दिया

पीडीपी ने कहा कि बुखारी ने पार्टी के असंतुष्टों को बढ़ावा दिया, जिसके परिणामस्वरूप हमारी गठबंधन सरकार में गठबंधन के एजेंडे को लागू करने में दिक्कतें आई। बयान में कहा गया कि दुर्भाग्यपूर्ण है कि गठबंधन के खत्म होने के बाद भी बुखारी ने हमारे वोटर्स के उम्मीदों के अनुरूप पार्टी के हितों को आगे बढ़ाने की बजाए विरोधियों के साथ मिलकर पार्टी तोड़ने की गतिविधियों में लिप्त रहे। इसलिए बुखारी को पार्टी की मूल सदस्यता से तत्काल प्रभाव से निष्काषित करने का फैसला लिया गया है।

कर्नाटक: भाजपा के विधायकों को गुरुग्राम से वापस बुलाया, 'सरकार को अस्थिर करने का नहीं प्रयास'

पीडीपी से निष्काषित कर दिया गया

इसके साथ ही चार वरिष्ठ नेताओं और पूर्व कैबिनेट मंत्रियों - इमरान रजा अंसारी, बसरत बुखारी, जावेद मुस्तफा मीर और अल्ताफ बुखारी को भी पीडीपी से निष्काषित कर दिया गया है। पीडीपी की ओर से जारी बयान में यह भी कहा गया कि पार्टी के संस्थापक मुफ्ती मोहम्मद सईद के निधन के बाद से अल्ताफ बुखारी पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त हैं। वह राज्य के हित को दाव पर लगाकर व्यक्तिगत राजनीतिक हितों के लिए काम कर रहे हैं। यही नहीं पीड़ीपी ने बुखारी पर अपने प्रतिद्वंद्वियों के साथ मिल कर पार्टी को नुकसान पहुंचाने का भी आरोप लगाया।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned