छत्तीसगढ़ कोरोना के दूसरे पीक पर, एक्टिव केस डेढ़ लाख पार होने का अनुमान

Corona at second wave in Chhattisgarh - रोजाना आ रही डराने वाली खबर के बीच एक अच्छा संकेत।
- 10 से 17 अप्रैल तक: प्रदेश में रोजाना औसतन 14,227 मरीज हो रहे रिपोर्ट।

By: Bhupesh Tripathi

Published: 19 Apr 2021, 03:53 PM IST

'पत्रिका' एक्सक्लूसिव -

रायपुर @ प्रशांत गुप्ता । प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। मौतों का आंकड़ा 100 से कम नहीं हो रहा। लगभग पूरा शहर लॉकडाउन पर है। मगर, इस सबके बीच एक अच्छी खबर यह है कि छत्तीसगढ़ में कोरोना का दूसरा पीक आ गया है। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि भले ही कुछ दिन मरीजों की संख्या बढ़े, एक्टिव मरीज 1.50 लाख से भी अधिक पहुंच जाएं मगर जल्द बढ़ते संक्रमण ग्राफ में गिरावट (डाउन-फॉल) दर्ज होगी।

'पत्रिका' ने स्वास्थ्य विभाग के अनुमान पर आंकड़ों को लेकर पड़ताल की। 10 से 17 अप्रैल के बीच रोजाना औसतन 14,227 मरीज रिपोर्ट हुए। शनिवार को पहली बार 16 से अधिक मरीज रिपोर्ट हुए थे। उधर, बीते 3 दिनों से स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या भी बढ़ी है। उधर, बीते 13 महीने से कोरोना नियंत्रण कार्यक्रम से जुड़े स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों का कहना है कि हमें अनुमान ही नहीं था कि वायरस इतना घातक होगा। हां, बस केंद्र ने यह कहा था कि केस बढ़ेंगे। मगर, इतने किसी ने नहीं सोचा था।

Read More : लोगों की मनमानी बन रही पुलिस के लिए चुनौती, Lockdown में भी न मास्क न मास्क न फिजिकल डिस्टेसिंग

पीक मापने के 2 पैमाने
पहला- 7 दिन तक मिलने वाले मरीजों की संख्या लगभग एक समान हो। प्रदेश में यह 14 से 16 हजार के बीच है। दूसरा- संक्रमण दर निश्चित हो। वह भी 26 से 28 प्रतिशत के बीच है।

स्वास्थ्य विभाग का अनुमान
शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के साथ हुई बैठक में स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा था कि 1.50 लाख से अधिक, 2 लाख तक एक्टिव मरीजों के पहुंचने का अनुमान है। हम इसी के मद्देनजर तैयारियां भी कर रहे हैं।

बीते एक हफ्ते का रिपोर्ट कार्ड

तारीख- मरीज मिले

10 अप्रैल- 14,098
11 अप्रैल- 10,521 (रविवार)

12 अप्रैल- 13,576
13 अप्रैल- 15,121

14 अप्रैल- 14,250
15 अप्रैल- 15,256

16 अप्रैल- 14,912
17 अप्रैल- 16,083

(नोट- स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक)

Read More : राहत और चिंता भी : 170 मौतें, संक्रमित मिले 12345, स्वस्थ हुए 14075

इन जिलों में भी 7 दिनों से लगभग एक समान संख्या में मरीज मिल रहे-
रायपुर, दुर्ग, राजनांदगांव, बिलासपुर, बेमेतरा, बलौदाबाजार। कुछ जिलों में संक्रमण बाद में बढऩा शुरू हुआ, वहां आने वाले दिनों में मरीज बढऩे के अनुमान हैं।

इधर, होम आइसोलेशन में रहकर 66.1 प्रतिशत मरीजों ने जीती कोरोना पर जंग
प्रदेश स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक प्रदेश में 18 मार्च 2020 से 17 अप्रैल 2021 तक प्रदेश में 5,32,495 लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 75-80 प्रतिशत मरीजों ने होम आईसोलेशन का विकल्प चुना। कुल स्वस्थ हुए 3,96,357 मरीजों में से 66.1 प्रतिशत मरीज होम आईसोलेशन में रहते हुए स्वस्थ हुए। यह एक बड़ी उपलब्धि है।

उधर, 1 अप्रैल से कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। 15, 16 और 17 अप्रैल को कुल 46251 मरीज रिपोर्ट हुए, इस दौरान होम आईसोलेशन में रहने वाले 30,259 मरीजों ने कोरोना को मात दी। ये इस लिहाज से अच्छे संकेत हैं कि स्वस्थ होने की औसत अब बढ़ रही है।

सीधी बात

मौतों और मरीज मिलने से इनकार नहीं, मगर यह पीक है
डॉ. धमेंद्र गहवईं, राज्य नोडल अधिकारी, कोरोना नियंत्रण कार्यक्रम, स्वास्थ्य विभाग

सवाल- छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति क्या है? विभाग का अनुमान क्या है?

जवाब- बीते एक हफ्ते के आंकड़े और संक्रमण दर से हम आकलन कर रहे हैं कि यह पीक का दौर है। क्योंकि अभी मरीजों के मिलने की संख्या स्टेबल हो गई है। बीते 3-4 दिनों में अधिक मरीज ठीक भी हो रहे हैं। हां, यह जरूर है कि हो सकता है कि एकाध दिन अधिक मरीज भी मिल सकते हैं।

सवाल- मगर, मौतों की संख्या रोजाना 100 से अधिक है?

जवाब- कोरोना मरीजों की मौत से इंनकार नहीं है। मरीजों को तत्काल बेड, ऑक्सीजन और अन्य चिकित्सकीय सुविधाएं मिले। इस दिशा में सभी प्रयास जारी हैं।

Read More : रेमडेसिविर की कालाबाजारी रोकने इस नंबर में करें शिकायत, पुलिस ने जारी किया नंबर

Read More : कोरोना काल में दिल को झकझोर कर देने वाली कहानी - कहीं कोविड सेंटर से महिला गायब तो किसी ने मामूली दवाई के दिए लाखों रुपए

Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned