scriptCG Naxal: कुख्यात नक्सली ने पत्नी के साथ किया सरेंडर, 86 मुठभेड़ समेत इन बड़े वारदातों में था शामिल, उपमुख्यमंत्री भी रहे मौजूद | CG Naxal Giridhar surrendered along with his wife | Patrika News
राजनंदगांव

CG Naxal: कुख्यात नक्सली ने पत्नी के साथ किया सरेंडर, 86 मुठभेड़ समेत इन बड़े वारदातों में था शामिल, उपमुख्यमंत्री भी रहे मौजूद

CG Naxal: छत्तीसगढ़ सीमा से सटे महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में दो हार्डकोर नक्सलियों ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया है।

राजनंदगांवJun 24, 2024 / 10:16 am

Khyati Parihar

CG Naxal
CG Naxal: छत्तीसगढ़ सीमा से सटे महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में दो हार्डकोर नक्सलियों ने पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया है। दोनो नक्सली छत्तीसगढ़ के अलावा महाराष्ट्र में लंबे समय से सक्रिय थे। गढ़चिरौली पुलिस के मुताबिक शनिवार को हार्डकोर नक्सली मनकू तुमरेटी उर्फ गिरीधर उर्फ बच्चु और संगीता उर्फ ललिता चैनू उसेंडी ने आत्म समर्पण किया है। महाराष्ट्र सरकार ने मनकू तुमरेटी उर्फ गिरीधर पर 25 लाख और संगीता उर्फ ललिता चैन पर 16 लाख रुपए का इनाम घोषित किया है।
अधिकारी ने बताया कि गिरिधर की पत्नी संगीता उसेंडी उर्फ ललिता पर 17 मामले दर्ज हैं। उसके सिर पर 16 लाख रुपये का इनाम रखा गया था। उन्होंने बताया कि गिरिधर 1996 में एटापल्ली दलम में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) में शामिल हुआ था। वह गढ़चिरौली में संगठन की गतिविधियों का प्रमुख था।

CG Naxal: अब तक इतने घटनाओं में था शामिल

पुलिस ने बताया कि गिरिधर के खिलाफ 179 मामले दर्ज हैं। जिनमें से 86 मुठभेड़ और 15 आगजनी के हैं। उसकी पत्नी संगीता पर 17 मामले दर्ज हैं। उसके सिर पर 16 लाख रुपये का इनाम था। आत्मसमर्पण और पुनर्वास योजना के तहत केंद्र और राज्य सरकार से गिरिधर को 15 लाख रुपये और ललिता को 8.50 लाख रुपये मिलेंगे।

CG Naxal: नक्सलवाद के खिलाफ पुलिस-प्रशासन को मिली बड़ी कामयाबी: फडणवीस

पत्रकारों से बातचीत के दौरान फडणवीस ने कहा कि गिरिधर के आत्मसमर्पण से गडचिरोली में माओवादी आंदोलन की रीढ़ टूट गई है। उन्होंने नक्सल समस्या को समाप्त करने और उग्रवादियों को मुख्यधारा में वापस लाने के लिए गडचिरोली पुलिस के अथक प्रयासों की सराहना की।
इससे पहले 28 मई को जिले में 6 लाख रूपये के इनामी नक्सली ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया था। वह कई मुठभेड़ों में शामिल था। पुलिस के बयान के अनुसार पड़ोसी राज्य छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के निवासी गणेश गट्टा पुनेम ने पुलिस उपमहानिरीक्षक (अभियान) जगदीश मीणा के सामने आत्मसपर्मण कर दिया। पुनेम को 2017 में भमरामगढ़ एलओएस से संबद्ध आपूर्ति दल का सदस्य नियुक्त किया गया था। अगले साल उसे इस दल का उपकमांडर बना दिया गया। वह 2017 एवं 2022 में बीजापुर में क्रमश: मिर्तूर और टिम्मेनार मुठभेड़ों में शामिल रहा था।

Hindi News/ Rajnandgaon / CG Naxal: कुख्यात नक्सली ने पत्नी के साथ किया सरेंडर, 86 मुठभेड़ समेत इन बड़े वारदातों में था शामिल, उपमुख्यमंत्री भी रहे मौजूद

ट्रेंडिंग वीडियो