KISAN ANDOLAN: मध्यप्रदेश के किसानों में सरकार के खिलाफ गुस्सा

KISAN ANDOLAN: मध्यप्रदेश के रतलाम में किसानों में सरकार के खिलाफ गुस्सा बढ़ता जा रहा है। कृषि उपज मंडी में फसल बिक्री के लिए ले जाने के बाद उनको नगद भुगतान नहीं हो रहा है।

By: Ashish Pathak

Published: 05 Sep 2019, 10:59 AM IST

रतलाम (नामली)। Farmers Upset In Madhya Pradesh: मध्यप्रदेश के रतलाम में किसानों में KAMALNATH GOVT सरकार के खिलाफ गुस्सा बढ़ता जा रहा है। कृषि उपज मंडी में फसल बिक्री के लिए ले जाने के बाद उनको नगद भुगतान नहीं हो रहा है। इसका अब विरोध शुरू हो गया है। रतलाम के नामली से विरोध के स्वर शुरू हो गए है। यहां पर किसानों ने करीब 400 से अधिक कट्टे कारोबारियों ने नीलाम नहीं किए। इसकी वजह दो प्रतिशत टीडीएस है। मंडी में करीब 3 से 4 हजार कट्टे नीलाम होते आ रहे हैं। बुधवार शाम 4 बजे नीलामी बंद कर दी।

must read: मध्यप्रदेश में अब हरी टी-शर्ट में आएंगे कर्मचारी

किसानों का जमकर विरोध
दो प्रतिशत टीडीएस के विरोध स्वरूप मंडी व्यापारियों ने बुधवार को किसान, हम्माल-तुलावटी को नगद भुगतान नहीं किया। उपमंडी नामली में तो लहसुन के 400 से अधिक कट्टे व्यापारियों द्वारा नीलाम नहीं किए गए, मंडी प्रशासन के समझाईश के बाद भी 30-35 किसानों की उपज मंडी परिसर में नीलाम नहीं की गई, इसका किसानों ने भी विरोध किया। जबकि हर दिन 3 - 4 हजार कट्टे मंडी में नीलाम होते आ रहे हैं। शाम 4 बजे नीलामी बंद कर दी। दूसरी तरफ रतलाम अनाज मंडी में हम्माल-तुलावटी संघ ने नगद भुगतान को लेकर मंडी सचिव के नाम ज्ञापन सौंपकर अपनी समस्याएं बताई।

must read: आज है टीचर्स डे, शेयर करें Teachers Day 2019 से जुड़ें कोट्स

kamalnath.jpg

बैंक नहीं करती समय पर काम

नामली मंडी प्रभारी राजेंद्रकुमार व्यास ने बताया कि मंडी में 2000 - 3000 कट्टे लहसुन की आवक थी, व्यापारियों का कहना था कि बैंके समय पर आरटीजीएस और एनईएफटी नहीं करती है। कोई कह रहा था कि बैंक ऑफ इंडिया वाले पांच से अधिक एनईएफटी नहीं कर पाएगा। इस कारण शाम 4 बजे नीलाम बंद कर 400 - 500 से अधिक कट्टे नीलाम नहीं किए गए। व्यापारियों को समझाइश दी, लेकिन नहीं माने इसके बाद किसानों को समझाईश भी गई। नगद भुगतान होता तो नीलामी पूरी हो जाती। परिसर में अलाउंस भी बार-बार किया जा रहा था कि किसान बैंक पास बुक आधार साथ लाए। जिला कार्यालय पर सूचित कर व्यापारियों की चर्चा करवा दी गई थी।

must read: नींबू का एक टोटका, देता है जॉब से लेकर प्यार में सफलता

TDS will not be deposited, interest will be charged in bhilwara

नकद भुगतान की हो रही मांग

हम्माल-तुलावटी संघ अध्यक्ष अज्जु शैरानी, पूर्व प्रतिनिधि सुरेंद्रसिंह भाटी के नेतृत्व में बुधवार को नगद भुगतान करने के संबंध में मंडी सचिव के नाम ज्ञापन सौंपा गया। हम्माल-तुलावटियों का कहना था कि मंडियों में कार्यरत हम्माल-एवं तुलावटियों को नगद भुगतान के स्थआन पर बैंक में एनईएफटी के माध्यम से भुगतान करने की संबंधी मंडी प्रशासन ने सूचना चस्पा की है। इस पर हम्माल-तुलावटी एसोसिएशन द्वारा सामूहिक चर्चा कर नगद भुगतान प्राप्त करने का निर्णय लिया गया है, क्योंकि मजदूर वर्ग रोज ही कार्य कर मजदूरी प्राप्त करता है। बैंक के खाते में भुगतान से कई समस्याओं का सामना करना पड़ेगा। क्योंकि मंडी में कार्य का समय सुबह 10 से रात्रि 10 बजे तक रहता है।

must read: डस्टबिन रखा हो सही जगह तो मंदी के दौर में भी होगा लाभ

Show More
Ashish Pathak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned