Rashi Parivartan: कन्या में जा रहे शुक्र, किसके लिए शुभ किसके लिए अशुभ

सभी 12 राशियों पर होगा असर

By: दीपेश तिवारी

Published: 07 Aug 2021, 09:24 PM IST

अगस्त 2021 के 11वें दिन यानि बुधवार,11 अगस्त 2021 को दैत्यगुरु शुक्र अपनी राशि में परिवर्तन करने जा रहे हैं। ऐसे में इस दैत्युगुरु के इस राशि परिर्वतन का सभी 12 राशियों में असर होगा।

ज्योतिष में जहां शुक्र को भाग्य का कारक माना गया हैं वहीं इस बार शुक्र अपनी नीच राशि यानि कन्या में प्रवेश करने जा रहे हैं। ऐसे में ज्योतिष के जानकारों का मानना है कि जहां कुछ राशियों को इसके अच्छे फल मिलेंगे तो वहीं कई राशियों के बनते काम बिगड़ सकते हैं।

पंडित एके शुक्ला के अनुसार शुक्र का ये राशि परिवर्तन बुधवार,11 अगस्त 2021 को सुबह 11:20 बजे होगा और वे इस राशि में 06 सितंबर 2021 तक रहेंगे।

ऐसे समझें: शुक्र के परिवर्तन का 12 राशियों पर असर-

1. मेष राशि
इस समय शुक्र आपकी राशि से षष्टम भाव यानि शत्रु व रोग भाव में गोचर करेंगे। इस दौरान आपकी इम्यूनिटी में कमी की संभावना के बीच आपको अपने संबंधों को लेकर दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है। शत्रु इस समय सक्रिय रहेंगे।

इस दौरान नियमों का पालन करें नहीं तो आप कोर्ट-कचहरी से जुड़ें मामलों के शिकंजे में आ सकते हैं। दांपत्य जीवन में तनाव की संभावना के बीच आप दोनों की किसी एक चीज पर सहमति नहीं बनेगी। र्और जरा जरा सी बातों पर आपसी मतभेद खुलकर सामने आएंगे। इस समय आपके जीवन साथी को, सेहत से संबंधित कुछ दिक्कतें भी हो सकती हैं।

इस समय साझेदारी के व्यापार में अधिक सतर्क रहना होगा। अन्यथा साझेदार के साथ तालमेल खराब हो सकते हैं, जो बाद में बड़े विवाद का कारण बन सकता है।
वहीं आर्थिक जीवन में इस दौरान उधारी लेने से दूर रहें, वरना परेशानी में फंस सकते हैं। इस समय आपको खर्च और आमदनी में संतुलन बनाना होगा।

नौकरीपेशा जातकों को इस समय प्रतिकूल फलों की प्राप्ति संभव है। वरिष्ठ महिला अधिकारी से खास तौर से सतर्क रहें।

उपाय- रोज़ाना खाली पेट नींबू पानी पिएं।

Must Read- Astrology: शुभता का संकेत,ऐसे पहचानें

2. वृषभ राशि
इस समय शुक्र आपकी राशि से पंचम भाव यानि पुत्र व बुद्धि भाव में गोचर करेंगे। यह समय शिक्षा से भ्रमित होने का है, ऐसे में छात्रों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

इस समय आपके सामने विस्तार के कई अवसर आएंगे जिससे आपकी आय में वृद्धि होगी साथ ही आपको अपने अच्छे कार्य के चलते सराहना भी मिलेगी। वहीं आपमें से कुछ को इस समय अपने विचारों और नीतियों को अपनाने में कुछ परेशानी हो सकती है। इसका सबसे अधिक प्रभाव आपके कार्यस्थल पर दिखाई देगा।

इस समय आपको अपने प्रेमी के साथ आपका कुछ टकराव हो सकता है जिसका असर आपके प्रेम संबंधों में पड़ेगा। वहीं चिकित्सा क्षेत्र से जुड़े जातकों के लिए समय सामान्य से बेहतर रहने की उम्मीद है।

उपाय- हर रोज शुक्रदेव के मंत्र “ॐ शुक्राय नमः” का 108 बार जप करें।

Must Read- Rain Astrology: अभी ओर हैं जल्द ही जोरदार बारिश के योग

rain_alert

3. मिथुन राशि
इस समय शुक्र आपकी राशि से चतुर्थ भाव यानि माता व सुख भाव में गोचर करेंगे। इस समय आप अपने परिवार से थोड़ा अलग-थलग पड़ सकते हैं। इस समय आपको स्वभाव में सकारात्मक बदलाव करना होगा। वहीं यदि आप मकान या ज़मीन का कोई निवेश सोच रहे हैं, तो अभी इंतजार करें। वहीं शेयर बाजार से जुड़ा निवेश करना फायदेमंद रह सकता है। यह समय सर्विस सेक्टर में काम करने वालों के लिए ज्यादा लाभकारी रहने की उम्मीद है।

उपाय- रोज माता लक्ष्मी की पूजा करें।

Must Read- अगस्त 2021 के राशि परिवर्तन, यहां देखें


4. कर्क राशि
इस समय शुक्र आपकी राशि से तृतीय भाव यानि पराक्रम व छोटे भाई बहनों के भाव में गोचर करेंगे। इस समय आपको कुछ खाली खाली सा महसूस होगा। भाई-बहनों के साथ कुछ समस्या के बीच पैसे को लेकर भी चुनौतियां इस समय सामने आएंगी। इस समय खर्चों पर लगाम लगानी होगी। इस समय संबंधों को सुधारने के लिए ज्यादा प्रयास करने होंगे। वहीं कार्यक्षेत्र में भी सफलता के लिए अधिक प्रयास करने होंगे।

उपाय- हर रोज माता पार्वती की पूजा करें।


5. सिंह राशि
इस समय शुक्र आपकी राशि से द्वितीय भाव यानि धन व वाणी भाव में गोचर करेंगे। इस समय आपके प्रयासों को अहमियत कम मिलने के चलते आपको कुछ कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा। ऐसे में अपना आत्मविश्वास बनाए रखें। इस दौरान आर्थिक स्थिति भी संतुष्टि दायक होती नहीं दिख रही है। किसी महिला अधिकारी से बहस के चलते आपको अपमान का घूंट पीना पड़ सकता है। उचित होगा इस समय निवेश से बचने के साथ ही खर्चों पर रोक लगाएं।

इस समय आपकी विनम्रता ही आपको समस्याओं का हल प्रदान करेगी। इस अवधि में आपको सेहत को लेकर सतर्क रहना होगा।

उपाय- शुक्रवार के दिन देवी मां की पूजा करें।

Must Read- अगस्त 2021 के व्रत,पर्व व त्यौहार?


6. कन्या राशि
इस समय शुक्र आपकी ही राशि यानि आपके लग्न भाव में गोचर करेंगे। इस समय आपकी आलोचना हो सकती है। जिससे बचने के लिए आप जरूरत से ज्यादा धन खर्च कर सकते हैं। वहीं दांपत्य जीवन में भी संतुष्टि की कमी रहेगी। वहीं इस समय आपका प्रेमी भी आपको किसी बात को लेकर उलाहना दे सकता है। आमदनी और ख़र्चों में इस समय भारी अंतर देखने को मिल सकता है। पिता से तनाव की संभावना के बीच आय और बचत को लेकर खुद को काफी असुरक्षित महसूस करेंगे।

उपाय- भगवान शिव की पूजा करें।

Must Read- Corona तीसरी लहर आना तय, इस माह आएगा चरम

corona_update

7. तुला राशि
इस समय शुक्र आपकी राशि से द्वादश भाव यानि व्यय भाव में गोचर करेंगे। इस समय सेहत का खास ध्यान रखना होगा। पैसे से जुड़ा कार्य करने वाले जातकों के लिए ये समय अनुकूल रहेगा। दांपत्य जीवन में कुछ परेशानियों के बीच इस दौरान खान पान की ओर विशेष ध्यान देना होगा। विदेश यात्रा के लिए ये समय अनुकूल रहेगा। इस समय आपको परिवार से दूर रहना पड़ सकता है। वहीं इस कालखंड में वाहन चलाते समय खास सतर्कता बरतनी होगी।

उपाय- मां दुर्गा की पूजा करें।


8. वृश्चिक राशि
इस समय शुक्र आपकी राशि से एकादश भाव यानि आय भाव में गोचर करेंगे। यह समय आपके कॅरियर में परेशानियां ला सकता है। साथ ही इस समय खर्चे ज्यादा होने के कारण आप अपनी आय से संतुष्ट नहीं रह पाएंगे। इस समय गलतफहमी का शिकार होने के साथ ही भाग्य भी आपका कम ही साथ देता दिख रहा है।

उचित होगा किसी के सामने अपनी भौतिक सुख-सुविधाओं का बखान न करें। उचित होगा कि दीर्घकालीन निवेश से बचने के साथ ही यात्रा को भी टालें। महिलाकर्मियों से एक निश्चित दूरी बना कर रहने के साथ ही तर्क वितर्क से भी दूर रहें। बड़े भाई-बहनों से मतभेद की संभावना है। वहीं कुछ रिश्तों में भी दरार आने की संभावना है।

उपाय- शनिदेव को तेल चढ़ाएं।

Must Read- त्रिदेवियों की पूजा का खास दिन शुक्रवार


9. धनु राशि
इस समय शुक्र आपकी राशि से दशम भाव यानि कर्म भाव में गोचर करेंगे। इस समय कार्यों में लापरवाही आपके कॅरियर को चौपट कर सकती है। अपने कार्य करने के तरीको को सुधारने के साथ ही अपनी वाणी में भी सुधार लाना होगा। व्यवसायी जातक इस समय कड़ी प्रतिस्पर्धा से जुझते दिख रहे हैं।

आपके नेतृत्व करने की क्षमता इस समय सबसे अधिक प्रभावित होने वाली होगी। सोच अनुरुप धन नहीं मिलने से कुछ दिक्कतों के बीच नुकसान भी उठाना पड़ सकता है। उचित होगा हर कार्य की कुछ समय सीमा तय करें। नौकरी पेशा वाणी में नियंत्रण के साथ ही अधिकारी से किसी भी स्थिति में मतभेद को टालें। इस समय तनाव के चलते आप घर को पूरा समय नहीं दे पाएंगे, जिससे परिजन नाराज हो सकते हैं।

उपाय- प्रति दिन सरस्वती वंदना करें।

Must Read- शिव की ध्वजा और ग्रहों में अनूठा संबंध

lord shiv flag

10. मकर राशि
इस समय शुक्र आपकी राशि से नवम भाव यानि भाग्य भाव में गोचर करेंगे। यह समय जहां कुछ जातकों के लिए खास रह सकता है, वहीं कई जातकों को इस समय भी भाग्य का साथ कम ही मिलता दिख रहा है। दरअसल इस समय आत्मविश्वास की कमी आपके अच्छे प्रदर्शन में खलल डाल सकती है।

इस समय कोई भी बड़ा निर्णय लेने से बचना होगा। कार्यक्षेत्र में मन नहीं लगने के चलते अधिकारियों में आप को लेकर कुछ ग़लतफहमी उत्पन्न हो सकती है। इस समय यात्रा भी ज्यादा लाभकारी होती नहीं दिख रही है। पिता से तनाव की संभावना के बीच मानसिक तनाव में वृद्धि की संभावना है। छात्रों के लिए भी ये समय ज्यादा उचित नहीं कहा जा सकता।

उपाय- देवी पार्वती की पूजा करें और शुक्रवार के दिन सफेद मिठाई का भाग लगाएं।

Must read- देवी लक्ष्मी का दिन है शुक्रवार, जानेंं माता लक्ष्मी से जुड़े अद्भुत रहस्य


11. कुंभ राशि
इस समय शुक्र आपकी राशि से अष्टम भाव यानि आयु भाव में गोचर करेंगे। इस समय आपको कड़ी मेहनत करनी होगी। इस दौरान घर में कुछ तनाव रह सकता है। अपनी दिनचर्या से असंतुष्टि के बीच कोई भी गलत कदम न उठाएं। भूमि संपत्ति निवेश से अभी दूरी बना कर रखें। कुल मिलाकर ये समय शुभ नहीं माना जा सकता। ज्यादा प्रयास आपको कुछ हद तक सफलता दिला सकते हैं। विदेश में रहने वालों को भी इस समय परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

उपाय- भगवान शंकर की पूजा करें।

Must read- राजकुमार बुध चले ग्रहों के राजा सूर्य के घर


12. मीन राशि
इस समय शुक्र आपकी राशि से सप्तम भाव यानि विवाह भाव में गोचर करेंगे। यह समय बहुत अच्छा फल प्राप्ति का नहीं दिख रहा है। इस समय मानसिक तनाव में वृद्धि के बीच खुद को शांत रखने की जरूरत है। काम पर ध्यान केंद्रीत नहीं रहने से नौकरी पेशा वालों के लिए भी ये समय ज्यादा अच्छा नहीं कहा जा सकता।

लेकिन इस समय भी आप पूरी ऊर्जा के साथ, हर समस्या को हल करने की कोशिश करते दिखेंगे। वहीं साझेदारी में व्यापार कर रहे जातकों को भी इस समय कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। समय कष्टकारी होने के चलते निवेश और नए सौदों में सावधानी रखें। दांपत्य जीवन में तनाव के बीच जीवन साथी से स्पष्ट बात करनी होगी। सेहत का भी खास ध्यान रखना होगा।

उपाय- शुक्रवार के दिन घर में शाम के समय कपूर जलाएं।

दीपेश तिवारी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned