टिकट आवंटित होते ही भाजपा में छिड़ी महाभारत

टिकट आवंटित होते ही भाजपा में छिड़ी महाभारत

Iftekhar Ahmed | Updated: 06 Nov 2017, 05:01:18 PM (IST) Saharanpur, Uttar Pradesh, India

भाजपाइयाें ने लगाया आराेप कार्यकर्ताआें का दरकिनार कर नए लाेगाें काे बांट दिए गए टिकट

सहारनपुर. नगर निगम सहारनपुर के लिए पार्षद उम्मीदवाराें की जाे सूची भाजपा ने जारी की है, उससे भाजपाइयाें में अन्तर्कलह हाे गया है। यहां भाजपाईयाें ने प्रेस वार्ता कर अपने गुस्से का इजहार किया। इस दौरान टिकट कटने से नाराज नेताओं ने साफ कहा कि यदि भाजपा ने जारी की घई सूची पर पुनर्विचार करते हुए उसे संशाेधित नहीं किया ताे इसका असर सहारनपु मेयर सीट पर पड़ेगा।

मुसलमानों के लिए निकाय चुनाव से ठीक पहले देवबंद से आया बड़ा बयान

दरअसल, भाजपा में चल रही गुटबाज़ी के चलते यहां पूर्व दिग्गज भाजपा सभासदों को टिकट नहीं दिलवा पाए। यही कारण है कि भाजपा के अंदर ही विराेध के स्वर फूटने लगे हैं। पार्षदों के चयन के लिए यहां जाे कमेटी गठित की गई थी, उसमें कैबिनेट मंत्री और सहारनपुर के प्रभारी मंत्री सूर्य प्रताप शाही मुख्य रूप से शामिल थे। इनके अलावा प्रदेश के संगठन मंत्री सुरेश बंसल व महेंद्र धनोरिया के अलावा सांसद राघव लखन पाल शर्मा आैर पूर्व विधायक लाज कृष्ण गांधी के अलावा पूर्व विधायक राजीव गुम्बर आैर भाजपा महानगर अध्यक्ष अमित गगनेजा को स्क्रीनिंग कमेटी में रखा गया था। पूर्व महानगर अध्यक्ष हेमंत अरोड़ा को भी अलग से अपने सुझाव देने के लिए गया था। बताया जा रहा है कि 10 से अधिक नाम सांसद राघव लखन पाल शर्मा की आेर से दिए गए थे। इस तरह कुल मिलाकर क्षेत्रीय अध्यक्ष भूपेंद्र ने अंतिम सूची तैयार कराई। इस तरह जाे तैयार सूची बनाई गई है, उससे भाजपाईयाें में बेचैनी है। इतना ही नहीं, सिर्फ बेचैनी ही नहीं है, बगावत भी दिखने लगी है।

चुनाव से पहले सपा को लगा बड़ा झटका, अखिलेश के इस सिपाही ने थामा लाेकदल का हाथ

अब भाजपाइयाें का सवाल यह है कि जब अधिकांश नामाें की घाेषणा स्क्रीनिकंग कमेटी के बाहर के लाेगाें की की गई है ताे फिर इस स्क्रीनिंग कमेटी की जरूरत ही क्या थी। इसी बात काे लेकर भाजपाइयाें में गुस्सा है। काेर्ट राेड स्थित एक हाेटल में रविवार काे वह भाजपाई इकट्ठा हुए, जिन्हें टिकट मिलने की उम्मीद थी, लेकिन उन्हें टिकट नहीं मिल सका। इन्हाेंने यहां भाजपा के क्षेत्रीय नेतृत्व पर खुले आराेप लगाए आैर साफ कहा कि पार्टी काे अपनी यह लिस्ट बदलनी हाेगी। पुनः विचार करना हाेगा। यदि एेसा नहीं किया ताे इसका प्रभाव मेयर के चुनाव पर पड़ेगा। इस माैके पर नीरज कुमार माहेश्वरी, मनाेज ठाकुर, नंदर किशाेर शर्मा, विजय, संजय कपूर, मनीष सचदेवा, राजीव सैनी, सतीश त्यागी, दीपक रहेजा, चंद्र कालड़ा, अजय वशिष्ठ, अजय शर्मा, सुरेंद्र कालड़ा, अमित गुप्ता, राजेश जैन समेत अन्य माैजूद रहे।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned