अर्थव्यवस्था पर सीएम शिवराजसिंह का बड़ा बयान, कहा— कड़की में हैं

CM Shivraj Singh Statement On Economy Of MP Government मध्यप्रदेश सरकार की आर्थिक स्थिति को लेकर कई सवाल उठ रहे हैं. अब स्वयं मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने इस मामले में बड़ा बयान दिया है.

By: deepak deewan

Updated: 12 Sep 2021, 03:45 PM IST

सतना. मध्यप्रदेश सरकार की आर्थिक स्थिति को लेकर कई सवाल उठ रहे हैं. सरकार ने कई जरूरी खर्चे कम किए हैं और कुछ जरूरी योजनाएं भी फंड के अभाव में रुकी पड़ी हैं. इस मामले में विपक्ष प्रदेश सरकार पर हमलावर रुख अपनाए हुए है. अब स्वयं मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने इस मामले में बड़ा बयान दिया है. रविवार को सतना आए सीएम शिवराजसिंह ने शिवराजपुर में सार्वजनिक रूप से यह बात कही.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शिवराजपुर में आयोजित जनदर्शन कार्यक्रम में शामिल होने आए थे. यहां उन्होंने सभा को भी संबोधित किया। उन्होंने स्वर्गीय जुगल किशोर बागरी को श्रद्धा सुमन अर्पित किए और वादा किया कि जुगलजी ने क्षेत्र के विकास के लिए जो सपने देखे थे उन्हें मैं पूरा करूंगा। सभा में उन्होंने प्रदेश की माली हालत को लेकर भी स्थिति साफ की.

उन्होंने कहा कि इस बार जब मैं सीएम बना तो लॉक डाउन लग गया, बाजार भी बंद हो गया और सरकार के खजाने में पैसे आना भी बंद हो गए थे। कोरोना से संक्रमित लोगों का इलाज कराना था,किसानों को राहत देना था,कमलनाथ ने जो योजनायें बंद कर दी थीं उन्हें चालू करना था। मैंने संकल्प लिया कि चाहे जो हो जाये जनता को कष्ट नहीं होने देंगे।

shiv.jpg

इसके लिए फंड उधार लिया लेकिन जनता को तकलीफ नहीं होने दी। किसान का गेहूं-धान सब खरीदा,उसके पैसे भी समय पर दिए। इतना ही नहीं मुख्यमंत्री ने साफ शब्दों में बताया कि प्रदेश सरकार आर्थिक दुरावस्था से जूझ रही है. शिवराज बोले, थोड़ी कड़की में जरूर हूँ लेकिन इसके बाद भी विकास के काम रुकने नही देंगे। हम और तेजी से काम करेंगे।

एमपी में दर्दनाक हादसा, गहरे कुंड में समा गए 4 युवा

सीएम ने इस बात पर खुशी जताई कि सतना में कोरोना के नए केस नही हैं लेकिन उन्होंने लापरवाही न बरतने की भी बात कही. उन्होंने लोगों से कहा— होशियार रहना,निश्चिंत नहीं, मास्क लगाना। उन्होंने टीका लगवाने और न लगवाने वालो के हाथ उठवाये और कलेक्टर को शिविर लगा कर गांव में तथा 30 सितंबर तक पूरे जिले में पूर्ण टीकाकरण कराने का संकल्प लिया।

एमपी में मकान खरीदने का सबसे अच्छा समय, कालोनाइजर्स दे रहे आकर्षक ऑफर्स

सभा में मुख्यमंत्री ने कलेक्टर से मुखाबित होकर कहा— अजय जवाबदारी दे रहा हूं, एटी फेटी परसेंट जनता नहीं जानती। शिविर लगाया जाए, पात्र छूट गया हो उसे भी जोड़ कर राशन देने का काम करो। अभी बता कर जनदर्शन करने आया हूं लेकिन आगे बता कर नही आऊंगा। पूरे प्रदेश में करूंगा। राशन में कोई गड़बड़ी करेगा तो उसे हथकड़ी लगवाएंगे। उन्होंने 2023 तक किसी भी तरह बरगी का पानी लाने का वादा किया। इस मौके पर शिवराजपुर में विद्युत सब स्टेशन स्वीकृत किया और हाट बाजार बनाने की घोषणा की।

deepak deewan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned