काजू बेचने वाली ये छात्रा जाएगी नासा, चंदा मांगकर जुटाए 1.69 लाख रुपए

  • Jayalaxmi get chance to visit nasa : अदानाकोट्टई के सरकारी स्कूल में पढ़ती है जयलक्ष्मी, 11वीं कक्षा की है छात्रा

नई दिल्ली। अगर हौंसले बुलंद हो तो किसी भी चीज को हासिल किया जा सकता है। ये बात अदानाकोट्टई के सरकारी स्कूल में पढ़ने वाली कक्षा 11 की छात्रा जयलक्ष्मी (jaylaxmi) पर बिल्कुल सही साबित होती है। पढ़ाई के साथ काजू बेचकर अपना खर्चा उठाने वाली जयलक्ष्मी को अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (nasa) जाने का मौका मिला है। उसने एक ऑनलाइन परीक्षा के जरिए ये अवसर हासिल किया है। मगर अमेरिका जाने के लिए उसके पास पैसे नहीं है। मगर उसने हार नहीं मानी और चंदा मांगकर 1.69 लाख रुपए जुटा लिए हैं।

नासा में जाने का जयलक्ष्मी का सपना अब हकीकत बनने जा रहा है। मगर यहां तक पहुंचने की उसकी कहानी काफी रोचक है। बताया जाता है कि जयलक्ष्मी एक कैरम मैच का अभ्यास कर रही थी। इसी दौरान सामने बोर्ड पर समाचार पत्र से काटकर लगाई गई खबर में धान्य थासनेम की उसने स्टोरी पढ़ी। थासनेम ने पिछले साल नासा जाने का मौका जीता था। इसी से प्रेरित होकर उसने ऑनलाइन परीक्षा के लिए अपना पंजीकरण करा लिया, लेकिन जयलक्ष्मी अंग्रेजी नहीं जानती थी। उसने करीब एक महीने तक रात-दिन अंग्रेजी का अभ्यास किया और परीक्षा में ग्रेड-2 लाकर नासा जाने का अवसर प्राप्त कर लिया।

nsa.jpeg

नासा जाने के लिए जयलक्ष्मी को 1.69 लाख रुपये की रकम जुटानी थी। इसके लिए उसने सोशल मीडिया के और पुदुकोटै की जिलाधिकारी पी. उमा माहेश्वरी से मदद की गुहार लगाई। जयलक्ष्मी का सपना पूरा करने के लिए आगे आए और दिल खोलकर मदद की। मालूम हो कि जयलक्ष्मी घर से दूर रहकर पढ़ाई करती हैं। वो अपना खर्च उठाने के लिए ट्यूशन पढ़ाती हैं। साथ ही काजू भी बेचती हैं।

Show More
Soma Roy Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned