महज दस दिन के भीतर मछलियां बन जाती हैं मादा से नर, जानें इसके पीछे का रहस्य

महज दस दिन के भीतर मछलियां बन जाती हैं मादा से नर, जानें इसके पीछे का रहस्य

Deepika Sharma | Updated: 17 Jul 2019, 11:32:26 AM (IST) विज्ञान और तकनीक

  • Fish: कुुछ ही दिन में बदल लेती है अपना 'लिंग'
  • ऐसी प्रजातियां 500 से अधिक पाई गई है
  • इन मछलियों में होते हैं जेनेटिक बदलाव

 

नई दिल्ली: वैज्ञानिकों ने समुद्री मछलियों की प्रजाति और उनमें होने वाले व्‍यवहार को लेकर एक अनोखी खोज invent की है। उन्होंने अपनी खोज में पहली बार ऐसी मछलियों की प्रजातियों को खोजा है, जिनमें मछलियों की लगभग 500 प्रजाति पाई गई, जो जवान होते ही अपना 'लिंग' परिवर्तित कर लेती हैं। इनमें प्रसिद्ध क्लाउनफिश को भी शामिल किया गया हैं।

बता दें कि इस रहस्मय गुत्थी को न्यूजीलैंड ( Newziland ) की ओटैगो यूनिवर्सिटी ( university ) के वैज्ञानिकों ने सुलझाया है। उन्होंने मछलियों की कई तरह की प्रजातियों में जैसे क्‍लाउनफि‍श, कोबुलाई, ब्‍लू हेड रेस्‍से कब-कब अपना 'लिंग' परिवर्तन कर लेती हैं इसके बारे में पता लगाया।

 

fish

दरअसल, न्यूजीलैंड की ओटैगो यूनिवर्सिटी के एरिका टॉड के अनुसार, समुद्र ( sea ) में पाई जानें वाली मछलियों में ब्लू-हेड रेस्से जन्म से मादा होती हैं और बाद में जवांन होने पर नर में बदल जाती हैं।

इस प्रक्रिया में केवल 10 से 20 दिन का समय लगता है। इस खोज की सबसे चौकाने वाली बात ये है कि ये मछलियां समूह में रहती हैं और अपने सदस्‍यों पर नजर बनाए रखती हैं। यदि कभी इन मछलियों के समूह का नर खो जाता है, तो उसी समूह की सबसे बड़ी मादा दस दिन के अंदर अंदर नर में बदलने लगती है। जिसमें सबसे पहले उसका रंग बदलता है और फि‍र 'लिंग' और शारीरिक बनावट भी बदल जाती है।

 

fish

जेनेटिक ( genetic ) बदलाव होता इन स्पिशीज मेंं
शोधकर्ताओं ने खोज के दौरान इस बात का भी पता लगाया कि मछलियों की कई तरह की प्रजाति में बहुत बड़ा जेनेटिक बदलाव होता है, जो उनकी बनावट को पूरी तरह बदल कर रख देता है। इसके अलावा शोघकर्ताओं ने एक ऐसी चीज के बारे में भी पता लगाया है जिसमें मछलियों की प्रजाति में मौजूद जीन में अद्भुत परिवर्तन होता है।

fish

इसके अनुसार जब मछली मादा से नर में बदलती है, तो उसके जीन काम करना बंद कर देते हैं और जब मछली पूरी तरह से नर में बदल जाती है तो जीन अपना काम करना शुरू कर देते हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned