शामली में जंगल से मिला बारहसिंघा का कटा हुआ सिर, गुस्से में ग्रामीण

गांव वालों ने कहा तीन युवकों ने मिलकर किया बारह सिंघा ( reindeer ) का शिकार, गांव वालों में घटना को लेकर रोष, आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग

By: shivmani tyagi

Updated: 18 Jun 2021, 06:07 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क, शामली
बाबरी थाना क्षेत्र के जंगल मे एक बारह सिंघा हिरण का शव मिला है। बारह सिंघा हिरण ( reindeer ) का शव मिलने से शाममली ( Shamli ) के ग्रामीणों में सनसनी फैल गई। ग्रामीणों का आरोप है कि हिरण की हत्या की गई है और उन्होंने हत्यारों को हिरण की हत्या कर भागते हुए भी देखा है। अब ग्रामीणों के इस दावे के बाद पुलिस ( shamli police ) ने पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें: लखनऊ को मिलेगा अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल स्टेडियम, देश के टॉप पांच स्टेडियम में से होगा एक

ग्रामीणों का कहना है कि तीन युवक हिरण का शिकार कर रहे थे। उसी दौरान तीनों ने हिरण को दबोच लिया और धारदार हथियार से उसकी गर्दन काट दी। आसपास के लोगों ने जब शिकारियों को देखा तो उन्होंने शोर मचा दिया। ग्रामीणों को शोर मचाते देख शिकारी हिरण को मृत अवस्था मे छोड़कर फरार हो गए जिसके बाद ग्रामीणों ने इस पूरे मामले की सूचना पुलिस को दी। फॉरेस्ट अफसर व स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची और हिरण के शव को कब्जे में लेकर पूछताछ की। फिलहाल ग्रामीणाें ने शिकारियों का हुलिया बताते हुए तीनों के पास के ही गांव के हाेने का दावा किया है।

यह भी पढ़ें: राप्ती नदी खतरे के निशान के करीब पहुंची, बढ़ा रहा जलस्तर

दरअसल यह पूरी घटना बाबरी थाना क्षेत्र के गांव गोगवान जलालपुर की है। यहां पर गांव गोगवान के जंगलों में शिकारियों ने एक बारह सिंघा हिरण का शिकार किया और धारदार हथियार से हिरण की गर्दन काटकर हत्या कर दी। आसपास के खेतों में काम कर रहे ग्रामीणों मौके की तरफ दौड़े। ग्रामीणों को आता देख शिकारी मौके से हिरण को छोड़कर फरार हो गए। ग्रामीणों का कहना है कि शिकारियों ने बारह सिंघा हिरण का शिकार किया है। एक ग्रामीण कपिल ने बताया कि उसने शिकारियों की पहचान कर ली है। आरोप हैं की शिकारी पड़ोसी गांव के ही रहने वाले हैं। घटना को लेकर ग्रामीणों में भारी आक्रोश है। गुस्साए ग्रामीणों ने उक्त प्रकरण में शिकारियों की गिरफ्तारी की मांग की है। पुलिस ने मामले में अभियोग पंजीकृत कर लिया है और मामले की जाँच पड़ताल शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें: यूपी के अधिकतर जिलों में बारिश की संभावना, राप्ती खतरे के निशान के करीब पहुंची
यह भी पढ़ें: Quick Read: ड्राइविंग लाइसेंस के लिए 30 सितंबर तक मिली मोहलत

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned