script झाड़-फूंक के नाम पर नरबलि, गर्दन झुकाओ कहकर तांत्रिक ने धड़ से अलग कर दिया शख्स का सिर | narabali case mp ritualistic human sacrifice in name of exorcism by Tantrik cut down head | Patrika News

झाड़-फूंक के नाम पर नरबलि, गर्दन झुकाओ कहकर तांत्रिक ने धड़ से अलग कर दिया शख्स का सिर

locationसिंगरौलीPublished: Feb 05, 2024 07:58:12 pm

Submitted by:

Faiz Mubarak

झाड़फूंक के दौरान ओझा द्वारा अधेड़ का सिर धड़ से अलग कर हत्या करने से पूरे गांव में दहशत का माहौल है। बताया गया कि वारदात के बाद ओझा अपने गांव भाग गया था, जहां से पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है।

news
झाड़-फूंक के नाम पर नरबलि, गर्दन झुकाओ कहकर तांत्रिक ने धड़ से अलग कर दिया शख्स का सिर

आधुनिकता की ओर बढ़ते भारत में आज भी अंधविश्वास ने अपनी जड़ें मजबूती से जमा रखी हैं। इसी अंदविश्वास के खेल में पड़कर कई बार लोग खुद को गंभीर नुकसान पहुंचा लेते हैं तो खुद की या अपने किसी खास की जान तक गवा देते हैं। अंधविश्वास की भेंट चढ़ा ऐसा ही एक सनसनीखेज मामला मध्य प्रदेश के सिंगरौली जिले से सामने आया है। यहां झड़फूंक के चक्कर में एक शख्स की जान चली गई है। इस सनसनीखेज घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया है।

बता दें कि, ये सनसनीखेज मामला जिले के चितरंगी थाना इलाके के अंतर्गत आने वाले सूदा गांव का है। रविवार को सूदा गांव में एक गुनिया नाम के ओझा को झाड़फूंक के लिए बुलाया गया था। ओझा यहां रामचंद्र पनिका नाम के अधेड़ व्यक्ति की झाड़फूंक करने आया था। देखते ही देखते झाड़फूंक का खेल शुरु हुआ और मंत्र पढ़ते हुए ओझा ने शख्स को झुकने को कहा। जैसे ही शख्स झुका तो ओझा ने एक धारदार हथियार से उसकी गर्दन पर धीरे से हमला किया। इस हमले में उसकी गर्दन से मामूली खून बहने लगा। इसके बाद भी ओझा ने झाड़फूंक जारी रखी और मंत्र पढ़ते हुए एक बार फिर शख्स से झुकने को कहा। इस बार जैसे ही शख्स ने अपनी गर्दन झुकाई ओझा ने हथियार से इतनी तेज हमला किया कि रामचंद्र का सिर धड़ से अलग हो गया और मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

यह भी पढ़ें- यहां मास्क वाला चोर गिरोह मचा रहा आतंक, CCTV कैमरों का भी इन्हें खौफ नहीं, पुलिस के लिए बने चुनौती


घटना के बाद पूरे गांव में सनसनी

news

झाड़फूंक के दौरान ओझा द्वारा अधेड़ का सिर धड़ से अलग कर हत्या करने से पूरे गांव में दहशत का माहौल है। बताया जा रहा कि वारदात को अंजाम देने के बाद ओझा गुनिया अपने गांव गर्दी भाग निकला। घटना की जानकारी के बाद मौके पर पहुंची चितरंगी थाना पुलिस ने पंचनामा बनाकर शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल पहुंचा दिया है। वहीं पुलिस की एक टीम आरोपी ओझा के घर पहुंची और उसे गिरफ्तार कर वापस चितरंगी ले आई है। बताया जा रहा है कि यहां आरोपी से पूछताछ की जा रही है।


आरोपी और मृतक आपस में रिश्तेदार भी हैं

news

मामले की जांच में जुटी चितरंगी थाना पुलिस का कहना है कि आरोपी ओझा मृतक रामचंद्र पनिका आपस में रिश्ते का समधी भी था। बीते कई दिनों से रामचंद्र की तबीयत खराब थी। परिवार को रामचंद्र पर जादू-टोना होने का संदेह था। इसी के चलते रामचंद्र के बड़े भाई का बेटा गुनिया को उसके घर से झाड़फूंक कराने के उद्देश्य से बुला लाया था। बताया जा रहा है कि झाड़फूंक शुरु करने से पहले गुनिया ने प्रसाद चढ़ावे के रूप में शराब मंगाई थी, जिसे उसने खुद ही पी लिया था। इसके बाद नशे में झाड़फूंक करते हुए उसने इस सनसनीखेज वारदात को अंजाम दे दिया। फिलहाल, झाड़फूंक के नाम पर अधेड़ की बलि देने से पूरे गंव में दहशत का माहौल है।

ट्रेंडिंग वीडियो