केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी समेत तीन पर एमपी एमएलए कोर्ट में केस दर्ज, इंटरनेशनल शूटर ने लगाया घूस मांगने का आरोप

-एमपी-एमएलए कोर्ट इस मामले की दो जनवरी 2021 करेगा सुनवाई
-स्मृति ईरानी पर केस दर्ज होने के बाद राजनीतिक हल्कों में हलचल

By: Mahendra Pratap

Updated: 24 Dec 2020, 11:19 AM IST

सुलतानपुर. अंतरराष्ट्रीय निशानेबाज वर्तिका सिंह केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और उनके सचिव समेत तीन लोगों पर भ्रष्टाचार का गंभीर आरोप लगा कर एमपी एमएलए कोर्ट में केस दर्ज कराया है। वर्तिका का आरोप है कि केंद्रीय महिला आयोग का सदस्य बनाने के नाम पर उनसे 25 लाख रुपए की डिमांड की गई। सूत्रों की मानें तो वर्तिका के वकील ने एमपी-एमएलए कोर्ट में स्‍मृति के करीबी द्वारा की गई अश्‍लील चैटिंग के प्रमाण भी पेश किए हैं। एमपी-एमएलए कोर्ट इस मामले की दो जनवरी 2021 को सुनवाई करेगी। स्मृति ईरानी पर केस दर्ज होने के बाद राजनीतिक हल्कों में हलचल पैदा हो गई है।

किसान दिवस पर देश का किसान सड़कों पर संघर्ष करने को मजबूर : अखिलेश यादव

केंद्रीय महिला आयोग का सदस्य बनाने का ऑफर :- प्रतापगढ़ जिले की रहने वालीं वर्तिका सिंह का आरोप है कि स्मृति ईरानी की शह पर उनके करीबियों ने उन्‍हें केंद्रीय महिला आयोग का सदस्य बनाने का ऑफर दिया। पहले बड़ी-बड़ी बातें कर अंतरराष्‍ट्रीय शूटर को गुमराह किया गया, फिर पद पर बिठाने का एक करोड़ रुपए रेट बताया गया। इसके बाद अच्‍छी प्रोफाइल होने की बात कहकर वर्तिका से 25 लाख रुपए की डिमांड हुई।

यूपी ग्राम पंचायत चुनाव 2020, यूपी में अंगूठा टेक नहीं लड़ पाएंगे चुनाव

सोशल साइट पर अश्‍लील बातें :- यही नहीं, वर्तिका का आरोप है कि स्मृति के करीबी ने उनसे एक सोशल साइट पर अश्‍लील बातें भी कीं। आरोप है कि वर्तिका ने भ्रष्टाचार का खेल उजागर कर देने की चेतावनी दी थी। इससे बौखला कर स्मृति ईरानी के करीबी विजय गुप्ता ने मुसाफिरखाना थाने में उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया था।

UP Top News : फूलपुर इफ्को प्‍लांट में अमोनिया गैस लीक, 15 कमर्चारी अचेत दो की मौत

जिम्मेदार अफसरों से शिकायत की पर उन्होंने किया अनसुना :- वर्तिका सिंह ने बताया कि जिम्मेदार अफसरों के सामने कई बार शिकायत की गई। सुनवाई न होने पर उन्‍होंने कोर्ट की शरण ली है। विशेष न्यायाधीश पीके जयंत ने क्षेत्राधिकार पर सुनवाई को लेकर दो जनवरी की तारीख तय की है। वर्तिका के अधिवक्ता रोहित त्रिपाठी ने कोर्ट में वर्तिका की तरफ से अपना तर्क रखा।

Smriti Irani
Show More
Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned