एक वीकेंड एपिसोड के लिए Kapil Sharma चार्ज करते हैं इतनी मोटी फीस, कृष्णा और भारती की मिलते हैं बेहद कम पैसे

By: Neha Gupta
| Published: 21 Nov 2020, 07:10 PM IST
एक वीकेंड एपिसोड के लिए Kapil Sharma चार्ज करते हैं इतनी मोटी फीस, कृष्णा और भारती की मिलते हैं बेहद कम पैसे
Kapil Sharma

  • कॉमेडियन कपिल शर्मा की फीस जानकर रह जाएंगे हैरान
  • एक सप्ताह के लिए चार्ज करते हैं मोटी फीस
  • कृष्णा अभिषेक और भारती सिंह को मिलता है बेहद कम वेतन

नई दिल्ली | इंडिया के मोस्ट फेवरेट कॉमेडियन कपिल शर्मा (Kapil Sharma) का शो देखने के लिए लोग विदेश तक से आते हैं। उनके सेंस ऑफ ह्यूमर का कोई जवाब नहीं है। द कपिल शर्मा शो (The Kapil Sharma Show) की टीआरपी (TRP) भी बाकी शोज से हमेशा आगे ही रहती है। जिसका कारण यही है कि चाहे फैंस हो या फिर सेलेब्स सभी कपिल की कॉमेडी को बेहद पसंद करते हैं। उनके हर अंदाज पर लोग फिदा हैं लेकिन कपिल लोगों को हंसाने के लिए तगड़ी फीस भी लेते हैं। उनके एक एपिसोड की फीस (Kapil Sharma fees) सुनकर आपको होश उड़ जाएंगे। याद हो कि कपिल के फीस चार्ज को लेकर कई बार बॉलीवुड खिलाड़ी अक्षय कुमार (Akshay Kumar) भी शो में जिक्र कर चुके हैं। वहीं अब हाल ही में कपिल की फीस को लेकर एक रिपोर्ट सामने आई है।

Drug Case: कॉमेडियन भारती सिंह और उनके पति हर्ष लिंबाचिया को NCB ने हिरासत में लिया, वायरल हुई वीडियो

कपिल शर्मा की पॉपुलैरिटी किसी से छिपी नहीं है। वो टीवी के पॉपुलर सेलेब्स में से एक हैं। कपिल अपने करियर में बहुत लंबा सफर तय कर चुके हैं, ऐसे में वो एक वीकेंड एपिसोड की फीस भी तगड़ी लेते हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें, तो कपिल एक एपिसोड के लिए 50 हजार और पूरी वीकेंड एपिसोड के लिए 1 करोड़ रुपए लेते हैं। यानी शनिवार और रविवार आने के लिए कपिल 1 करोड़ की फीस चार्ज करते हैं। तो महीने भर में कपिल कितने पैसे कमा लेते हैं इसका अंदाजा आप आसानी से लगा सकते हैं।

वहीं कपिल के साथ शो में काम करने वाले बाकी साथियों की फीस उनसे बेहद कम है। कपिल के बाद शो में कृष्णा अभिषेक, कीकू शारदा और भारती सिंह मुख्य किरदार निभाते हैं। कृष्णा थोड़ी देर के लिए सपना के रूप में खूब हंसाते हैं लेकिन उनकी वीकेंड फीस 10-12 लाख के आसपास ही है। वहीं भारती सिंह को भी लगभग इतना ही भुगताना किया जाता है। तो अब आप समझ ही गए होंगे कि द कपिल शर्मा शो में कपिल की कितनी ज्यादा डिमांड है।