ujjain corona update: बढ़ते संक्रमण के बीच जंग जीतने वालों की कमी नहीं

ujjain corona update: बढ़ते संक्रमण के बीच उज्जैन जिले में ठीक होने वाले लोगों की संख्या बढ़ी...।

By: Manish Gite

Published: 16 Apr 2021, 06:10 PM IST

उज्जैन। इसमें कोई संशय नहीं कि इस बार कोरोना का संक्रमण (covid 19 new cases) और भी तेजी से फैल रहा है, लेकिन यह भी हकीकत है कि इसे हराने वालों की भी कमी नहीं है। अप्रैल के दो सप्ताह में जहां अब तक सबसे तेजी से संक्रमण फैला वहीं इस दौरान सबसे अधिक लोग संक्रम मुक्त होने पर डिस्चार्ज (corona recovery rate) भी किए गए हैं। ऐसे में भले ही अभी स्थिति थोड़ी चिंताजनक हो लेकिन संक्रमण से बचने के लिए सावधानी बरत और बीमारी से लड़ने के लिए हिम्मत रख जल्द ही इस संकट से उज्जैनवासी पार पा लेंगे।

 

यह भी पढ़ेंः थम गई जिंदगी...अपनों को बचाने के लिए चाहिए 'इंजेक्शन'

ujjain corona update. अप्रेल में बड़ी संख्या में लोग संक्रमण से मुक्त हो रहे हैं। इस माह औसत प्रतिदिन 60 से अधिक लोग डिस्चार्ज किए गए हैं। इस माह जहां पहली बार जिले में नए मरीजों की संख्या 200 के पार पहुंची है, वहीं एक साल में ऐसा भी पहली बार हुआ है, जब 24 घंटे के दौरान 164 लोग डिस्चार्ज किए गए हैं। 1 से 14 अप्रैल तक दो सप्ताह में ही कुल 881 लोग अस्पताल से घर जा चुके हैं। कोरोना की दस्तक के बाद सेस जिले में अब तक कभी 14 दिन में इतनी बड़ी संख्या में रिकवरी नहीं हुई है। जानकार उम्मीद यह भी जता रहे हैं कि आने वाले दिनों में लगातार बड़ी संख्या में कोरोना मरीज संक्रमण को हराकर इसके जाल से बाहर निकलेंगे।

 

यह भी पढ़ेंः ऑक्सीजन की कमी से खंडवा में 11 तो जबलपुर में 5 की मौत

 

40 फीसदी से अधिक रिकवरी

अप्रेल के दो सप्ताह में जितने लोग स्वस्थ होकर लौटे हैं, इतनी रिकवरी पूरे मार्च के माह में नहीं हुई। इस साल मार्च में 31 दिनों के दौरान कुल 1 हजार 76 लोग संक्रमित हुए, जबकि 373 लोग डिस्चार्ज किए जा सके। ऐसे में मार्च का रिकवरी रेट 34.66 फीसदी रहा। इधर 1 से 14 अप्रेल तक कुल 2 हजार 200 लोग संक्रमित हुए, जबकि 881 लोग कोरोना को हराकर डिस्चार्ज हुए। इन दो सप्ताह का रिकवरी रेट 40 प्रतिशत से अधिक रहा है।

यह भी पढ़ेंः हे प्रभु ! अब तो रहम कर, दिनभर श्मशान घाटों में जल रही हैं चिताएं

मास्क पहने, सोशल डिस्टेंसिंग रखें

कोरोना संक्रमण की संख्या तेजी से बढ़ रही है, इनमें गंभीर मरीज अधिक होने के कारण उपचार की सुविधाओं पर भी दबाव बढ़ गया है। आक्सीजन व रेमडेसिविर के साथ ही अस्पतालों में जगह तक नहीं बची है। हालात चिंता जनक है। ऐसे में लोगों को कोरोना गाइडलाइन का पालन करना चाहिए। मास्क पहनकर ही जरूरी काम से बाहर निकलना चाहिए और सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन करना चाहिए।

 

यह भी पढ़ेंः Corona: कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह हुए कोरोना संक्रमित, दिल्ली में हुए क्वारंटीन

कब कितने मरीज मिले

  • 10 अप्रैल- 218
  • 11 अप्रैल- 212
  • 12 अप्रैल- 317
  • 13 अप्रैल- 249
  • 14 अप्रैल- 267
  • 15 अप्रैल- 275
  • 6 दिन में 1538

यह भी पढ़ेंः MP Corona Update: 24 घंटे में 10166 पॉजिटिव, संक्रमितों की संख्या पहुंची 3 लाख 73 हजार के पार, 24 घंटे में 53 की मौत

Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned