यूपी चुनाव के बाद नहीं मिला लैपटॉप व फ्री डाटा, अब चौराहों पर वाई-फाई लगाने का आश्वासन

Devesh Singh

Publish: Nov, 14 2017 07:57:09 PM (IST)

Varanasi, Uttar Pradesh, India
यूपी चुनाव के बाद नहीं मिला लैपटॉप व फ्री डाटा, अब चौराहों पर वाई-फाई लगाने का आश्वासन

बीजेपी ने नगर निगम चुनाव के लिए जारी किया संकल्प पत्र, जानिए क्या है कहानी

वाराणसी. यूपी चुनाव में बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिल चुका है और नयी सरकार को बने छह माह से अधिक का समय बीत गया है। यूपी की कमान सीएम योगी आदित्यनाथ ने संभाली है। सीएम योगी के सामने नगर निगम चुनाव की परीक्षा पास करने की चुनौती है। बीजेपी ने नगर निगम चुनाव के लिए अपना संकल्प पत्र जारी कर दिया है। संकल्प पत्र में अन्य चीजों के साथ प्रमुख सार्वजनिक स्थलों पर नि:शुल्क वाई-फाई की सुविधा देने का उल्लेख किया गया है। संकल्प पत्र जारी होने के बाद सवाल उठने लगा है कि यूपी चुनाव में छात्रों को लैपटाप व फ्री डाटा देने का जो वायदा किया गया था वह कब पूरा होगा।
यह भी पढ़े:-अवैध बूचडख़ाना बंद होने के बाद भी मुख्तार के गढ़ में इस मुस्लिम समाज का बीजेपी को समर्थन


सीएम योगी आदित्यनाथ ने सरकार गठन के साथ ही चुनावी वायदों को पूरा करना शुरू कर दिया है। किसानों की कर्ज माफी का जो वायदा किया गया था वह पूरा किया जा रहा है, लेकिन छात्रों को लैपटाप व फ्री डाटा का मुद्दा ठंडे बस्ते में चला गया है। सपा सरकार के तत्कालीन सीएम अखिलेश यादव ने ही छात्रों को लैपटाप बांटने की योजना शुरू की थी और उनकी सरकार गठन होने के साल भर के अंदर लैपटाप वितरण शुरू हो गया था। सीएम योगी सरकार में लैपटाप वितरण को लेकर किसी तरह की चर्चा तक नहीं हो रही है न तो किसी तरह का आश्वासन दिया जा रहा है। ऐसे में सवाल उठता है कि नगर निगम चुनाव बीजेपी जीत भी जाती है तो कब प्रमुख सार्वजनिक स्थलों पर फ्री वाई फाई की सुविधा मिलेगी।
यह भी पढ़े:-आप ने नहीं उतारा प्रत्याशी, मेयर पद के लिए इस बटन को दबायेंगे कार्यकर्ता

युवा वर्ग में बढ़ी नाराजगी तो पार्टी को उठाना पड़ सकता नुकसान
लैपटाप वितरण कार्यक्रम में जितनी देरी होगी। उतना ही युवा वर्ग में नाराजगी बढ़ती जायेगी। युवा वर्ग नाराज हुआ तो बीजेपी को भविष्य में नुकसान उठाना पड़ सकता है। वर्ष २०१४ में गुजरात के तत्कालीन सीएम नरेन्द्र मोदी की लहर के चलते बीजेपी को पहली बार केन्द्र में पूर्ण बहुमत बना है। उस समय यूपी के तत्कालीन सीएम अखिलेश यादव ने कहा था कि लैपटाप हमने दिये थे और उस पर चुनाव प्रचार बीजेपी का हुआ। ऐसे में यह कहना गलत नहीं है कि लैपटाप की ताकत बीजेपी जानती है और युवाओं को आज भी लैपटाप व फ्री डाटा का इंतजार है।
यह भी पढ़े:-सीएम योगी से मिलने पहुंचे बसपा के बाहुबली क्षत्रिय नेता ने ओढ़ा भगवा गमछा, उड़े सबके होश

1
Ad Block is Banned