scriptIIT BHU scientists discovered way to prevent cancer | IIT BHU के वैज्ञानिकों ने खोजा कैंसर से बचाव का उपाय | Patrika News

IIT BHU के वैज्ञानिकों ने खोजा कैंसर से बचाव का उपाय

IIT BHU के वैज्ञानिक लगातार मानव जीवन की रक्षा के उपाय खोजने में जुटे रहते हैं। इसी कड़ी में वैज्ञानिकों ने लंबे शोध के बाद कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से बचाव का रास्ता खोज निकाला है। खास तौर पर कैंसर से बच्चों को कैसे बचाया जाए इसके उपाय की बड़ी खोज की है।

वाराणसी

Published: December 21, 2021 06:06:19 pm

वाराणसी. कैंसर का नाम सुनते ही रुह कांप जाती है। रोगी ही नहीं पूरा परिवार सिहर उठता है। ऐसे में कैंसर से बचाव का अगग कोई उपाय मिल जाए तो उससे बेहतर इंसान के लिए और क्या हो सकता है। ऐसा ही कुछ किया है आईआईटी बीएचयू के वैज्ञानिकों ने।
IIT BHU Pr Vihal Mishra
IIT BHU Pr Vihal Mishra
आईआईटी बीएचयू के स्कूल ऑफ बायोकेमिकल इंजीनियरिंग शोधकर्ताओं ने पर्यावरण के अनुकूल और लागत प्रभावी एडसार्बेंट (adsorbent) संश्लेषित किया है जो दूषित पानी से हेक्सावलेंट क्रोमियम जैसे जहरीले भारी धातु आयनों को हटा सकता है। हेक्सावलेंट क्रोमियम मानव में कई प्रकार की स्वास्थ्य समस्याओं जैसे विभिन्न प्रकार के कैंसर, लीवर और किडनी तथा लीवर की खराबी के साथ-साथ त्वचा की समस्याओं के लिए जिम्मेदार है। यह मौसमी के छिलके से संश्लेषित नया पर्यावरण-अनुकूल उत्पाद है। यह अन्य पारंपरिक तरीकों की तुलना में अपशिष्ट जल से हेक्सावलेंट क्रोमियम को हटाने के लिए बहुत प्रभावी है और जलीय घोल से हेक्सावलेंट क्रोमियम में कम समय लेता है। धातु हटाने की प्रक्रिया के बाद यह सोखना आसानी से जलीय माध्यम से अलग हो सकता है। शोधकर्ताओं ने सिंथेटिक अपशिष्ट जल में इसकी हेक्सावलेंट क्रोमियम हटाने की क्षमता का परीक्षण किया है और संतोषजनक परिणाम पाए हैं। इस एडसार्बेंट की भारी धातु हटाने की दक्षता का परीक्षण अन्य भारी धातु आयनों जैसे लेड और कैडमियम के लिए भी किया गया था और इस एडसार्बेंट की भारी धातु हटाने की अच्छी दक्षता पाई गई। इस संबंध में स्कूल ऑफ बायोकेमिकल इंजीनियरिंग के प्रोफेसर डॉ. विशाल मिश्रा ने इस शोध को अंतर्राष्ट्रीय जर्नल "सेपरेशन साइंस एंड टेक्नोलॉजी" में प्रकाशित कर दिया है।
प्रो मिश्र बताते हैं कि विकासशील देशों में, जल जनित बीमारियां प्रमुख समस्या हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार, प्रत्येक वर्ष 3.4 मिलियन लोग, ज्यादातर बच्चे, पानी से संबंधित बीमारियों से मर जाते हैं। संयुक्त राष्ट्र बालकोष (यूनिसेफ) के आकलन के अनुसार, प्रतिदिन 4000 बच्चे दूषित पानी के सेवन के कारण मर जाते हैं। डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट है कि 2.6 बिलियन से अधिक लोगों को स्वच्छ पानी तक पहुंच की कमी है, जो सालाना लगभग 2.2 मिलियन मौतों के लिए जिम्मेदार है, जिनमें से 1.4 मिलियन बच्चे हैं। पानी की गुणवत्ता में सुधार से वैश्विक जल-जनित बीमारियों को कम किया जा सकता है।
भारी धातुओं के कारण कैंसर दुनिया भर में एक गंभीर समस्या है। भारत और चीन जैसे विकासशील देशों को भारी धातु प्रदूषण का खतरा है। मानव से वन भारी धातु मुख्य रूप से त्वचा के संपर्क के माध्यम से, दूषित पानी का सेवन या खाद्य उत्पाद में संदूषण है। भारी धातुएं न केवल मानव शरीर में सामान्य बीमारियों का कारण बनती हैं, बल्कि कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी का कारण भी बनती हैं। जल संसाधन मंत्रालय की रिपोर्ट कहती है कि बड़ी संख्या में भारतीय आबादी जहरीली धातुओं के घातक स्तर के साथ पानी पीती है, भारत में 153 जिलों के लगभग 239 मिलियन लोग पानी पीते हैं जिसमें अस्वीकार्य रूप से उच्चस्तर के जहरीले धातु आयन होते हैं। डब्ल्यूएचओ ने चेतावनी दी है कि लंबे समय तक सेवन करने वाले पानी में जहरीली धातुओं जैसे लेड और कैडमियम से त्वचा, पित्ताशय, गुर्दे या फेफड़ों में कैंसर हो सकता है।
इस शोध का सामाजिक तथा आर्थिक पहलू: यह शोध पानी से भारी धातु आयनों को हटाने के लिए लागत प्रभावी, पर्यावरण के अनुकूल तरीके पर केंद्रित है। पी.फ्लोरिडा आसानी से उपलब्ध है, सस्ती है और खेती करने में आसान है।
इस बायोमास से आम आदमी को लाभ

- सस्ती (सरल बनाने की विधियों और कम लागत वाले कच्चे माल के उपयोग के कारण)
- गैर-विषाक्त
- उपयोग करने में आसानी और उपयोग के बाद पृथक्करण के लिए ऊर्जा देने की आवश्यकता नहीं होती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Eknath Shinde Property: मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे से 12 गुना ज्यादा अमीर हैं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, जानें किसके पास कितनी संपत्तिपश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री के आवास में घुसने वाले शख्स ने परिसर को समझ लिया था कोलकाता पुलिस का मुख्यालयबीजेपी नेता कपिल मिश्रा को मिली जान से मारने की धमकी, ईमेल में लिखा - 'हम तुम्हें जीने नहीं देंगे'हैदराबाद के एक कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे RCP सिंह तो BJP में शामिल होने की लगने लगी अटकलें, भाजपा ने कही ये बातप्रदेश के भोपाल, इंदौर समेत 11 नगर निगमों में मतदान 6 को, चुनावी शोर थमाकानपुर मेट्रो: टनल बनाने का काम शुरू, देश को समर्पित करने के विषय में मिली ये जानकारीउदयपुर कन्हैया हत्याकांड का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर युवक गिरफ्तारवरिष्ठता क्रम सही करने आरक्षकों की याचिका पर विभाग को 21 दिन में निर्णय लेने का आदेश
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.