वाराणसी से Statue of Unity के लिये सीधी ट्रेन सेवा शुरू, जानिये Kashi Kevadia Train का किराया और शेड्यूल

  • 27 घंटे 50 मिनट में Kashi Kevadia Train वाराणसी से Statue of Unity के शहर केवड़िया पहुंचा देगी
  • जनरल का किराया महज 470 रुपए, फर्स्ट एसी में सफर करने पर देना होगा 4,945 रुपये

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से स्टेच्यु ऑफ युनिटी की सैर आसान हो गई। पीएम ने रविवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये वाराणसी के कैंट स्टेशन से काशी-केवड़िया महामना एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। ये ट्रेन वाराणसी से केवड़िया का 1614 किलोमीटर का सफर 27 घंटे 5 मिनट में पूरा करेगी। गुजरात के केवड़िया में ही दुनिया की सबसे ऊंची सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा स्टेच्यू ऑफ युनिटी बनी है, जिसे देखने दुनिया भर से लोग आते हैं। सीधी ट्रेन सेवा शुरू होने के बाद अब वाराणसी से वहां जाना और सुगम हो गया। यह साप्ताहिक ट्रेन उद्घाटन वाले दिन ही यात्रियों से फुल होकर केवड़िया के लिये रवाना हुई।

इसे भी पढ़ें- काशी से स्टेच्यू ऑफ युनिटी जाना हुआ आसान, पीएम मोदी ने वाराणसी-केवड़िया ट्रेन को दिखायी हरी झंडी

इस दौरान प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि इतिहास में यह पहला मौका है जब देश के अलग-अलग कोने से एक ही जगह किे लिये इतनी ट्रेनों को हरी झंडी दिखाई गई। पीएम ने कहा कि केवड़िया की पहचान देश को एक भारत श्रेष्ठ भारत का मंत्र देने वाले सरदार पटेल की दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा से है।

इसे भी पढ़ें- IIT BHU देगा Startups को उड़ान, मदद को आगे आया एचडीएफसी बैंक

पीएम ने कहा कि स्टेच्यू ऑफ युनिटी को देखने के लिये अब स्टेच्यु ऑफ लिबर्टी से ज्यादा लोग पहुंचने लगे हैं। प्रतिमा के लोकार्पण के बाद करीब 50 लाख लोग स्टेच्यु ऑफ युनिटी को देखने आ चुके हैं। उन्होंने कहा कि एक अध्ययन के मुताबिक कुछ दिन बाद रोजाना यहां एक लाख लोग पहुंचेंगे। पीएम ने कहा कि रेल कनेक्टिविटी का लाभ पर्यटकों के साथ-साथ केवड़िया के आदिवासी भाई बहनों के जीवन में भी बदलाव लाने जा रह रही है। यहां रोजगार और स्वरोजगार के अवसर पैदा होंगे।

इसे भी पढ़ें- GOLD खरीदने का सही समय, नए साल में जारी है सोने की कीमतों में गिरावट

पीएम ने कहा कि बीते वर्षों में देश में रेलवे के पूरे तंत्र में व्यापक बदलाव करने के लिए काम किया गया है। ये काम सिर्फ बजट बढ़ाना - घटाना, नई ट्रेनों की घोषणा करने तक सीमित नहीं रहा। ये परिवर्तन अनेक मोर्चों पर एक साथ हुआ है।

इसे भी पढ़ें- बुलेट ट्रेन दिल्ली से वाराणसी का किराया 3400 रुपये, जानिये अयोध्या, आगरा और लखनऊ का कितना लगेगा

ये लोग रहे मौजूद

काशी केवड़िया ट्रेन की रवानगी के मौके पर कैंट रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 1 पर कार्यक्रम आयोजित किया गया था। यहां बड़े एलईडी डिस्प्ले से पीएम मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान यूपी के पर्यटन मंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी, राज्यमंत्री रविन्द्र जायसवाल, पिंडरा विधायक डॉ अवधेश सिंह, महापौर मृदुला जायसवाल, भाजपा जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा, उत्तर रेलवे के मंडल रेल प्रबंधक संजय त्रिपाठी, एडीआरएम रवि प्रकाश चतुर्वेदी, स्टेशन निदेशक आनंद मोहन समेत अधिकारी मौजूद रहे।

इसे भी पढ़ें- मृतक आश्रित कोटे पर हाईकोर्ट का बड़ा फैसला, विवाहिता पुत्री भी नौकरी पाने की हकदार

एक नजर में ट्रेन

  • 09130 काशी-केवड़िया (महामना) एक्स्प्रेस
  • गुरुवार सुबह 5.00 बजे वाराणी कैंट से रवाना होगी, अगले दिन 9.15 बजे केवड़िया पहुंचेगी
  • केवड़िया से मंगलवार की शाम 6.55 बजे केवड़िया से वाराणसी के लिये रवाना होगी
  • वाराणसी, प्रयागराज, सतना, कटनी, जबलपुर, इटारसी, भुसावल, नंदूरबार, सूरत, भरूच, वडोदरा के रास्ते केवड़िया पहुंचेगी
  • ट्रेन में 20 कोच, रसोईयान होगा, लेकिन सिर्फ पैक्ड फूड ही मिलेगा
  • कंबल, चादर और तौलिया नहीं मिलेगा, मास्क जरूरी

इसे भी पढ़ें- देश का पहला कोयला क्वालिटी मैनेजमेंट रिसर्च सेंटर आईआईटी बीएचयू में खुलेगा

ये है किराया

  • फर्स्ट एसी 4945
  • सेकेंड एसी 2910
  • थर्ड एसी 2020
  • स्लीपर 770
  • जनरल 470
PM Narendra Modi
Show More
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned