निषाद पार्टी का बड़ा बयान, गोरखपुर में बीजेपी कर रही धांधली, सपा को मिली है २२ हजार से अधिक की लीड

निषाद पार्टी का बड़ा बयान, गोरखपुर में बीजेपी कर रही धांधली, सपा को मिली है २२ हजार से अधिक की लीड

Devesh Singh | Publish: Mar, 14 2018 12:12:00 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ में हार सकती है बीजेपी, यूपी के सीएम के कार्यकाल में हो रहे उपचुनाव में भगवा पार्टी की हालत खराब

वाराणसी. गोरखपुर उपचुनाव को लेकर निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा.संजय निषाद ने बड़ा बयान दिया है। डा.संजय निषाद ने कहा कि उनके बेटे पीयूष निषाद को बीजेपी प्रत्याशी से 22 हजार से अधिक मतों की लीड मिल चुकी है लेकिन गोरखपुर के जिलाधिकारी इस बात को छिपाने में लगे हैं। डा.संजय निषाद ने कहा कि सपा प्रत्याशी की जीत तय है जिला प्रशासन आंकड़ों में हेराफेरी करके भी बीजेपी को नहीं जीता सकता है।
यह भी पढ़े:-गोरखपुर में जिलाधिकारी की भूमिका पर उठने लगे सवाल, देरी कर दी जा रही मीडिया को मतदान की जानकारी

सीएम योगी के गढ़ गोरखपुर में बीजेपी प्रत्याशी के पिछडऩे से हड़कंप मच गया है। जिला प्रशासन ने अधिकृत परिणाम जारी करने के लिए लेकर तमाम तरह की बहानेबाजी कर रहा है इसी बीच सपा प्रत्याशी ने बीजेपी के प्रत्याशी को पीछे छोड़ दिया है जिसके बाद से बीजेपी की नीद उड़ गयी है। गोरखपुर से मिली जानकारी के अनुसार पिपराइच में सप को 32096 व बीजेपी को 2746 मत मिली है। सहजनवा से बीजेपी को 2575 व सपा को 2305मत मिले हैं। अभी तक की जानकारी के अनुसार कैम्पिरगंज में सपा को 20262 व बीजेपी को 16474 मत मिले है। शहर विधानसभा में बीजेपी प्रत्याशी चार हजार मतों से आगे हैं।
यह भीपढ़े:-सीएम योगी को तगड़ा झटका, गोरखपुर में सपा से पिछड़ी बीजेपी

फूलपुर के बाद गोरखपुर में मिल सकती है हार
बीजेपी को फूलपुर व गोरखपुर दोनों ही सीट में हार मिल सकती है। फूलपुर में लगातार बीजेपी पीछे चल रही है और गोरखपुर में तीन राउंड के बाद बीजेपी पीछे चल रही है यदि दोनों सीटों पर हार मिलती है तो सीएम योगी की कार्यप्रणाली पर सवाल उठना तय है। गोरखपुर में पूरा प्रशासनिक अमला बीजेपी की संभावित हार से परेशान हो गया है। जिलाधिकारी राजीव रौतेला ने मतगणना स्थल पर मीडिया पर जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है, लेकिन जब मीडिया में यह जानकारी फैली तो जिलाधिकारी ने दो और राउंड की जानकारी साझा की है इससे पता चलता है कि गोरखपुर सीट पर बीजेपी प्रत्याशी की स्थिति अच्छी नहीं है।
यह भी पढ़े:-अखिलेश का ऐलान सपा व बसपा गठबंधन को सांप व छछूंदर कहने वाली बीजेपी को बिल में डाल देंगे, उमड़ा जनसैलाब

Ad Block is Banned