मुलायम के आजमगढ़ में पहली बार आमने-सामने होगा दो बाहुबलियों का परिवार

मुलायम के आजमगढ़ में पहली बार आमने-सामने होगा दो बाहुबलियों का परिवार
Ramakant Yadav and Mukhtar Ansari

Devesh Singh | Updated: 28 Feb 2018, 02:18:51 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

लोक सभा चुनाव 2019 में दिलचस्प हो जायेगा मुकाबला, जानिए क्या है कहानी

वाराणसी. सपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ में एक बार फिर दिलचस्प मुकाबला देखने को मिल सकता है। पहली बार दो बाहुबलियों के परिवार आमने-सामने आ सकते हैं ऐसे में चुनाव कौन जीतेगा यह कहना कठिन हो जायेगा। सपा ने पहले ही संकेत दिया है कि इस बार मुलायम सिंह यादव आजमगढ़ से चुनाव नहीं लड़ेंगे। इसके चलते अन्य दल के नेताओं ने इस सीट पर कब्जा जमाने के लिए खास रणनीति बनानी शुरू कर दी है।
यह भी पढ़े:-भगवा पार्टी की बनायी रणनीति पर चले अखिलेश यादव , बीजेपी को लगेगा झटका


बीजेपी के बाहुबली नेता रमाकांत यादव का ही आजमगढ़ पर सिक्का चलता है। संसदीय चुनाव २०१४ में सपा के तत्कालीन सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने खास समीकरण बनाने के लिए यहां से चुनाव लड़ा है। मुलायम सिंह यादव भले ही चुनाव जीत गये हैं, लेकिन जिस तरह से बीजेपी के बाहुबली पूर्व सांसद रमाकांत यादव ने मुलायम सिंह को टक्कर दी थी उससे सपा के बड़े-बड़े नेताओं को पसीने निकल गये थे। अगले साल लोक सभा चुनाव 2019 होना है ऐसे में बीजेपी के बाहुबली नेता रमाकांत यादव फिर से चुनावी मैदान में उतरने के लिए तैयार है उनका सामना पहली बार इस बाहुबली परिवार से हो सकता है।
यह भी पढ़े:-माफिया से माननीय बने बृजेश सिंह के सबसे बड़े मुकदमे की मुख्य गवाह हुई लापता, मचा है हड़कंप

पहली बार आमने-सामने होंगे दो बाहुबली परिवार के लोग
आजमगढ़ में जो चुनावी समीकरण बना रहा है उससे पहली बार दो बाहुबली परिवार आमने-सामने होंगे। बीजेपी की तरफ से बाहुबली रमाकांत यादव अपनी ताकत दिखायेंगे तो बसपा के टिकट से बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी चुनावी मैदान में उतरेंगे। राजनीतिक जगत में इस बात की जबरदस्त चर्चा हो रही है कि मुख्तार अंसारी खुद घोसी सीट से संसदीय चुनाव लड़ेंगे और बेटे को आजमगढ़ से चुनाव लड़ायेंगे। यूपी विधानसभा चुनाव 2017हार चुके अब्बास अंसारी ने अभी से आजमगढ़ जीतने की तैयारी शुरू कर दी है। जिस तरह से अब्बास इस समय मेहनत कर रहे हैं उससे उनका वोट बैंक तेजी से मजबूत हो रहा है। बीजेपी से रमाकांत यादव व बसपा से मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी को टिकट मिलने के बाद से यहां का चुनाव प्रदेश में सबसे दिलचस्प हो जायेगा।
यह भी पढ़े:-गजब जब चलती ट्रेन से बोगी छोड़ कर इंजन हुआ रवाना तो यात्रियों ने किया हंगामा, रेलवे में मचा हड़कंप

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned