Agra: दक्षिण कोरिया के रक्षामंत्री के सामने भारतीय सेना के जवानों ने 10 हजार फीट से लगाई छलांग

Highlights

- दक्षिण कोरिया के रक्षामंत्री सुह वुक तीन दिवसीय भारत दौरे पर

- आगरा में कार्यक्रम के दौरान भारतीय सैनिकों ने दिखाए हैरतअंगेज कारनामे

- जवानों ने 10 हजार फीट की ऊंचाई से कूदकर किया अचंभित

By: lokesh verma

Published: 27 Mar 2021, 03:01 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आगरा. दक्षिण कोरिया के रक्षामंत्री सुह वुक (South Korea's Defense Minister Suh Wook) इन दिनों भारत की यात्रा पर हैं। अपने तीन दिवसीय भारत दौरे के दौरान सुह वूक शनिवार को आगरा (Agra) पहुंचे। इस दौरान उन्होंने आगरा में भारतीय सेना प्रमुख मनोज मुंकुंद नरवणे (Indian Army Chief Manoj Munkund Narwane)के साथ भारतीय सैनिकों की पैराट्रूपर्स के हैरतअंगेज करतब देखे। भारतीय सेना के जवानों ने इस मौके पर 10 हजार फीट की ऊंचाई से कूदकर सबको अचंभित कर दिया।

यह भी पढ़ें- कानपुर के कमिश्नर बने असीम अरुण, देश की सुरक्षा में रहा बड़ा हाथ, बनाई थी देश की पहली स्वाट टीम

दरअसल, दक्षिण कोरिया के रक्षामंत्री सुह वुक की भारत यात्रा के दौरान आगरा में भारतीय सेना की पैराट्रूपर्स के जवानों के प्रदर्शन का एक कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस दौरान करीब आधा घंटे तक पैराट्रूपर्स ने फ्रीफॉल, पैरा ड्रापिंग, स्टैटिक लाइन जंप का प्रदर्शन कर सबको आश्चर्यचकित कर दिया। जवानों ने इस दौरान विमान से 10 हजार फीट की ऊंचाई से कूदते हुए पैरा जंपिंग कर अद्भुत शौर्य का प्रदर्शन भी किया। वहीं, सेना के जवानों ने पैदल सेना लड़ने वाले वाहन और टैंक आदि का नजारा पेश किया। बता दें कि इस कार्यक्रम के दौरान कुल 650 जवानों ने प्रदर्शन किया, जिनमें 25 पैराट्रूपर्स भी शामिल रहे।

दोनों देशों में आपसी सहयोग बढ़ाने पर सहमति

बता दें कि द्विपक्षीय रक्षा सहयोग पर वार्ता करने के लिए दक्षिण कोरिया के रक्षामंत्री सुह वुक इन दिनों तीन दिवसीय भारत यात्रा पर हैं। इसी कड़ी में शुक्रवार को उन्होंने भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्विपक्षीय रक्षा सहयोग पर वार्ता की थी। इस दौरान दोनों ओर से आपसी सहयोग बढ़ाने पर सहमति बनी है। एक कार्यक्रम के दौरान रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और रक्षामंत्री सुह वुक ने संयुक्त रूप से दिल्ली कैंट में एक कार्यक्रम के दौरान भारत-कोरिया मैत्री पार्क का भी उद्घाटन किया था। बता दें कि भारत-कोरिया मैत्री पार्क दोनों देशों के बीच घनिष्ठता का प्रतीक है, जो भारतीय सेना के चिकित्सा मिशन को कोरियाई युद्ध के दौरान दिए गए योगदान को दर्शाता है।

यह भी पढ़ें- अब गांवों तक पहुंचेगा रोजगार, तीन लाख लोगों को मिलेगा खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों का फायदा

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned