ऐसा डर कि बर्तन छूने से भी कर रहे परहेज

खानाबदोश भी कर रहे भागने का प्रयास

By: mukesh gour

Published: 19 Apr 2020, 07:31 PM IST

अजमेर. कुछ खानाबदोश एवं भिखारी लेटे हुए थे तो परिसर में खाना बांटने वाले लोगों की ओर से सब्जी, चपाती के लिए रखे बर्तन भी रखे हुए मिले। पिछले दो दिनों में खाना पहुंचाने वाले भामाशाह व लोगों के संपर्क में आने से बर्तनों पर भी कोरोना वायरस का प्रभाव होने की आशंका के चलते कोई इन्हें ले जाने भी नहीं पहुंचा। शेल्टर होम के बाहर बैठे पुलिसकर्मी भी बिना पीपीई किट के सेवाएं देते मिले। शेलटर होम के बाह संक्रमित पीपीई किट व ग्लव्ज भी खुले में छोड़ दिए गए।

read also : राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षा 7 या 8 मई से!
रेलवे म्यूजियम में बनाए गए शेल्टर होम में शनिवार सुबह दो लोगों को जांच के लिए आइसोलेशन वार्ड में ले जाने के बाद अन्य खानाबदोश लोगों में भय का वातावरण बना हुआ था। पूरे परिसर में कुछ युवा खानाबदोश की नजर दीवारों की ओर थी। करीब चार लोग संभवत: बीमार होने से लेटे हुए थे, इन लोगों ने बाहर बैठे पुलिस जवानों को भी कहा और चिकित्सा विभाग को सूचना पहुंचाई गई। बाद में वहां से टीम ने पहुंच कर उनके सेम्पल लेने के साथ स्क्रीनिंग की एवं कुछ को दवाइयां भी दी। इससे पूर्व पुलिसकर्मी बिना किट व ग्लव्ज के खानाबदोश के लिए दूध व सामान आदि पहुंचाते मिले।

read also : अजमेर की सड़कों पर प्रेरक संदेश उकेर रहा पेंटर
शेल्टर होम में कई बीमार
रेलवे म्यूजियम में शनिवार को भी करीब छह खानाबदोश/भिखारियों के बीमार होने की सूचना पर जेएलएन मेडिकल कॉलेज व चिकित्सा विभाग की टीमें पहुंची। हालांकि सुबह 2 लोगों की स्क्रीनिंग करवाई गई। जबकि अन्य की स्वास्थ्य की जांच के लिए विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम भी पहुंची।

read also : Corona Effect: खाली रही सीट तो इंस्टीट्यूट को देने पड़ेंगे सीधे प्रवेश
सफाई कर्मचारियों के भी करवाए सेम्पल
शेल्टर होम में सफाई करने वाले कई नगर निगम के कई सफाई कर्मचारियों के भी सेम्पल शनिवार को लिए गए। जेएलएन अस्पताल के न्यू आइसोलेशन वार्ड में इनके सेम्पल लेकर जांच के लिए भेजे गए हैं।

COVID-19
Show More
mukesh gour
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned