RPSC: भरें खाद्य सुरक्षा अधिकारी पद के आवेदन

RPSC: भरें खाद्य सुरक्षा अधिकारी पद के आवेदन

raktim tiwari | Updated: 09 Aug 2019, 08:14:00 AM (IST) Ajmer, Ajmer, Rajasthan, India

इसके तहत आयोग हाल में विधि विज्ञान प्रयोगशाला, मत्स्य अधिकारी, जनसंपर्क अधिकारी पद के लिए आवेदन (application) मांग चुका है।

अजमेर.राजस्थान लोक सेवा आयोग (rpsc ajmer)ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा विभाग में खाद्य सुरक्षा अधिकारी food security officer की भर्ती के लिए आवेदन मांगे हैं। अभ्यर्थी शुक्रवार से ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे।

कार्मिक विभाग (DOP), संबंधित विभाग (Department) और सरकार (govt) से अभ्यर्थना, पदों का वर्गीकरण मिलने के बाद आयोग भर्ती परीक्षाओं का आयोजन करता है। इसके तहत आयोग हाल में विधि विज्ञान प्रयोगशाला, मत्स्य अधिकारी, जनसंपर्क अधिकारी पद के लिए आवेदन (application) मांग चुका है।

read more: Student union election; लगे चौराहों पर छात्रनेताओं के पोस्टर

8 सितंबर तक मांगे आवेदन
इसी कड़ी में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं विभाग में खाद्य सुरक्षा अधिकारी (food security officer) के 30 पदों के लिए आवेदन मांगे गए हैं। इसमें गैर टीएसपी (non tsp) क्षेत्र में 26 और टीएसपी (tsp area) क्षेत्र में चार पद शामिल हैं। अभ्यर्थी 9 अगस्त से 8 सितंबर तक रात्रि 11.59 बजे तक ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे।

read more: student union election : 27 को होंगे छात्रसंघ चुनाव, मतगणना 28 को

पढ़ें यह खबर भी...........
प्रशासनिक कारणों से रोका 18 अभ्यर्थियों का परिणाम
राजस्थान लोक सेवा आयोग (rpsc)ने वरिष्ठ अध्यापक प्रतियोगी परीक्षा-2018 (माध्यमिक शिक्षा विभाग) के तहत ग्रुप द्वितीय के हिंदी विषय (द्वितीय पेपर) की प्रोविजनल सूची (provisional list) जारी की है। इस सूची में टीएसपी क्षेत्र के 682 और नॉन टीएसपी क्षेत्र के 3570 अभ्यर्थी शामिल है। सचिव के. के. शर्मा ने बताया कि वरिष्ठ अध्यापक प्रतियोगी परीक्षा-2018 (माध्यमिक शिक्षा विभाग) के तहत ग्रुप द्वितीय (group second) में पिछले वर्ष 31 अक्टूबर को सामान्य ज्ञान की परीक्षा और 1 नवंबर को हिंदी विषय (द्वितीय पेपर) की परीक्षा हुई थी।

read more: mdsu ajmer: सीए-सीएस और जर्नलिस्ट नहीं कर सकते पीएचडी

18 अभ्यर्थियों का परिणाम नहीं शामिल
हिंदी विषय का नतीजा निकालने को लेकर 7 अगस्त को आयोग में फुल कमीशन (full commission) की बैठक हुई थी। इसमें बाडमेर के परीक्षा केंद्र पर वायरल पेपर (paper virul) मामले की गहन पुलिस जांच कराने और संबंधित केंद्र के अभ्यर्थियों का परिणाम सीलबंद रखने पर चर्चा की गई थी। इसके अनुसार आयोग ने प्रशासिनक कारणों से 18 अभ्यर्थियों को विस्तारित परिणाम में शामिल नहीं किया है। अनुसूचित साधन अपनाने के कारण चार अभ्यर्थी को सूची में शामिल नहीं किया गया है।

read more: Save water: बेशकीमती है बारिश का पानी, समझें इसका मोल

 

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned