तीन दिन के बांग्लादेश दौरे पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह, आतंकवाद और रोहिंग्या मुद्दे पर शेख हसीना से करेंगे बात

Siddharth Priyadarshi

Publish: Jul, 14 2018 08:45:17 AM (IST)

एशिया
तीन दिन के बांग्लादेश दौरे पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह, आतंकवाद और रोहिंग्या मुद्दे पर शेख हसीना से करेंगे बात

गृह मंत्री राजनाथ सिंह अपनी यात्रा के दौरान वह बांग्लादेश के राजनीतिक नेतृत्व से आतंकवाद विरोधी सहयोग, युवाओं और रोहिंग्या शरणार्थियों को कट्टरपंथी बनाने के लिए आतंकवादी समूहों के प्रयासों सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करेंगे। यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच विभिन्न द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा होने की उम्मीद है।

नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह अपनी तीन दिवसीय बांग्लादेश यात्रा पर ढाका पहुंचे गए हैं। शुक्रवार शाम को ढाका हवाई अड्डे पर उनके बांग्लादेशी समकक्ष असदुज़मान खान ने राजनाथ सिंह का स्वागत किया। अपनी यात्रा के दौरान राजनाथ सिंह बांग्लादेश की प्रधान मंत्री शेख हसीना से मुलाकात करेंगे और द्विपक्षीय मुद्दों पर बातचीत करेंगे। आतंकवाद विरोधी सहयोग और रोहिंग्या मुद्दे पर दोनों देशों के बीच विशेष बातचीत होने की संभावना है।

क्या कहा गृह मंत्री ने

ढाका प्रस्थान से पूर्व गृह मंत्री ने ट्वीट कर कहा कि, 'बांग्लादेश के तीन दिवसीय दौरे के लिए ढाका रवाना हो रहा हूं। भारत और बांग्लादेश के रिश्ते इतिहास, संस्कृति, भाषा और लोकतंत्र के साझा मूल्यों से बंधे हुए हैं। भारत बांग्लादेश के साथ संबंधों को बहुत महत्व देता है।' एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, ‘दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मित्रता और विश्वास के आधार को मजबूत करने में अपना योगदान देने को उत्सुक हूं।'

खास है गृह मंत्री की यात्रा

गृह मंत्री राजनाथ सिंह अपनी यात्रा के दौरान वह बांग्लादेश के राजनीतिक नेतृत्व से आतंकवाद विरोधी सहयोग, युवाओं और रोहिंग्या शरणार्थियों को कट्टरपंथी बनाने के लिए आतंकवादी समूहों के प्रयासों सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करेंगे। यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच विभिन्न द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा होने की उम्मीद है।

आतंकवाद के खात्मे पर होगा जोर

गृह मंत्रालय ने गृहमंत्री के कार्यक्रम की जानकारी देते हुए बताया है कि बांग्लादेश के गृह मंत्री असदुज्मान खान के साथ उनकी बैठक में दोनों देशों के बीच आतंकवाद विरोधी तंत्र को मजबूत करने पर चर्चा होगी। इसके अलावा दोनों नेता आतंकवादी समूहों द्वारा युवाओं को आतंकी बनाने के मामले पर भी चर्चा करेंगे।राजनाथ सिंह के साथ गृह मंत्रालय और सीमा सुरक्षा बल के शीर्ष अधिकारी भी गए हैं।।

बातचीत के मुख्य मुद्दे

दोनों देशों के बीच होने वाली बातचीत के मुख्य मुद्दे चिन्हित कर लिए गए हैं। भारतीय पक्ष द्वारा सीमा पार से नकली भारतीय मुद्रा के निरंतर प्रवाह और बांग्लादेश स्थित अपराधियों द्वारा बीएसएफ कर्मियों पर हमलों का मुद्दा उठाने की उम्मीद है। पिछले साल आपराधिक हमलों में दो बीएसएफ जवानों की मौत हो गई थी और 122 घायल हो गए थे। इसके अलावा अवैध आप्रवासियों की समस्या और भारत-बांग्लादेश सीमा के माध्यम से मवेशी, हथियार और गोला बारूद, नशीले पदार्थों और अन्य वस्तुओं की तस्करी पर भी चर्चा होगी।

Ad Block is Banned