नहीं हुई अधिकारियों से कोई गलती, इस वजह से सिर्फ 40 से 50 पैसे ऋण हुआ माफ

Akhilesh Tripathi

Publish: Sep, 16 2017 12:51:19 (IST)

Azamgarh, Uttar Pradesh, India
नहीं हुई अधिकारियों से कोई गलती, इस वजह से सिर्फ 40 से 50 पैसे ऋण हुआ माफ

जिले में 21 ऐसे किसान है जिनका 40 पैसे से लेकर 969 रूपये तक माफ हुआ है, अधिकारियों का दावा है कि जो कर्जमाफी का प्रमाण पत्र दिया है वह सही है ।

रणविजय सिंह की रिपोर्ट

आजमगढ़. योगी सरकार किसानों की ऋण माफी की घोषणा के बाद से ही विवादों में घिरी हुई है। यह विवाद उस समय और बढ़ गया जब मंत्रियों ने समारोह में किसानों को 40 पैसे से लेकर एक रूपये तक कर्जमाफी का प्रमाण पत्र पकड़ा दिया। केवल आजमगढ़ में 21 ऐसे किसान है जिनका 40 पैसे से लेकर 969 रूपये तक माफ हुआ है लेकिन अधिकारियों का दावा है कि उन्‍होंने जो कर्जमाफी का प्रमाण पत्र दिया है वह विल्‍कुल सही है। 31 मार्च 2017 के पहले की ऋण माफ किये गये हैं। उक्‍त तिथि के बाद जो लोग ऋण लिए वह माफ नही किया गया है और ना ही इस तरह का कोई आदेश है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

बता दें कि आजमगढ़ में पहले चरण में 14188 किसानों का करीब 81 करोड़ रूपये ऋण माफ किया गया है। इसमें 21 किसान ऐसे हैं जो जिनका एक हजार रूपये से कम माफ हुआ है। अहम बात है कि ये सारे किसान इलाहाबाद बैंक से किसान क्रेडिट कार्ड पर ऋण लिये थे। इसके अलावा 114 किसानों को एक लाख रूपये ऋण माफ किया गया है। अन्‍य किसानों का एक लाख रूपये से कम ऋण माफ किया गया है।

 

11 सितंबर को डिप्‍टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने शहर के आईटीआई मैदान में 25 किसानों को अपने हाथ से ऋण मोचन योजना का प्रमाण पत्र देकर इसकी औपचारिक शुरूआत की। अब प्रमाण पत्र तहसील स्‍तर पर दिये जाने है। सीएम के कार्यक्रम के बाद से ही इस बात को लेकर हो हल्‍ला मचा है कि सरकार ने किसानों के साथ धोखा किया और 40 पैसे तक माफ कर उनका मजाक उड़ाया।

 

जबकि हकीकत यह है कि सरकार ने चुनावी वादे के मुताबिक काम किया है और अधिकारियों ने शासनादेश के अनुरूप। जिला कृषि अधिकारी उमेश गुप्‍ता के मुताबिक शासना देश के मुताबिक 31 मार्च 2016 से पहले लघु और सीमांत किसानों ने जितना ऋण लिया था और 31 मार्च 2017 के पूर्व उन्‍होंने जो जमा किया उसके बाद जो अवशेष बचा था उसमें एक लाख तक माफ करना था। कुछ किसान जो 31 मार्च के बाद ऋण लिए उनका माफ नहीं होना है।

 

अब अगर किसी किसान का निर्धारित अवधि के ऋण में 40 पैसा बकाया था तो उसका 40 पैसे माफ हुआ और जिसका एक लाख था उसका एक लाख। इसमें सरकार और विभाग क्‍या कर सकता है। हमने प्रथम चरण में 14188 किसानों के खाते में करीब 81 करोड़ भेज दिया है। अभी जिन किसानों के खाते एनपीए हो गये है उनकी ऋण माफी नहीं हुई है। इनके लिए हम बाद में स्‍कीम ला रहे है। साथ ही दूसरे चरण में किसानों के चयन का कार्य चल रहा है जल्‍द ही इनकी भी सूची जारी कर दी जायेगी।

 

आजमगढ़ में 40 पैसे से लेकर 969 रूपये तक कर्जमाफी पाने वाले किसान

महुवार निजामाबाद निवासी शिरागू पुत्र बद्री 40 पैसे

बेरमा गांव निवासिनी भानुमती पत्नी जयनाथ सिंह 969 रुपये

हेंगापुर शाहगढ़ निवासिनी परमी देवी पत्नी बद्री प्रसाद 462 रुपये

जिगरसंडी निवासी रूपचंद पुत्र वीरा 56 रुपये

शाह असलमचक निवासी अवधेश सिंह पुत्र उदयराज सिंह 85 रुपये

बड़ौरा गांव निवासी कैलाश सिंह पुत्र दुर्ग विजय सिंह 742

मैऩुद्दीनपुर गांव निवासी रामकुमार पुत्र रामस्वरूप 323 रुपये

जहानागंज निवासी छेदी राजभर पुत्र अज्ञात 23.13 पैसा

मुस्तफाबाद निवासी फौजदार यादव पुत्र साथी 604.05 पैसा

पुनर्जी निवासी प्रभाकर पांडेय पुत्र अज्ञात 436 रुपये

बुजुर्ग बड़ौरा निवासी जमादार सिंह पुत्र जनार्दन सिंह 122 रुपये

कनैला निवासी बेचई यादव पुत्र धामू यादव 697 रुपये

कनैला निवासी गौरीशंकर पुत्र रामधीर 121 रुपये

नरेहथा कनैला किशनपुर निवासी बृजेश राम पुत्र लुरझुन राम 466.25 पैसा

जलालपुर निवासी सीताराम यादव पुत्र वासदेव यादव 735.25 पैसा

किशनपुर निवासी दिनेश पुत्र मेवा 71.25 पैसा

कटेहरी निवासी रविंद्र सिंह पुत्र गुलाब सिंह 558 रुपये

बोहना सेमा निवासी बृजराज पुत्र जमादार 783 रुपये

बोहना सेमा निवासी सुरेश पुत्र जमादार 268 रुपये

खानपुर भागवत निवासी ललित कुमार पुत्र हरिहर 713 रुपये

रोशनपुर सेमा निवासी सत्य प्रकाश पुत्र सत्यनरायन 736 रुपये

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned