गुस्साए गुर्जर समाज के लोगों ने तोड़ा प्रदेश काग्रेस अध्यक्ष पायलट व विधायक गुर्जर के नाम का शिलापट्ट, आम चौखला समाज की बैठक में विवाद

tej narayan

Publish: May, 17 2018 11:02:47 PM (IST)

Bhilwara, Rajasthan, India
गुस्साए गुर्जर समाज के लोगों ने तोड़ा प्रदेश काग्रेस अध्यक्ष पायलट व विधायक गुर्जर के नाम का शिलापट्ट, आम चौखला समाज की बैठक में विवाद

विधायक धीरज गुर्जर पर मनमर्जी का आरोप लगाते कुछ लोगों ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पायलट के नाम की पट्टिका तोड़ दी

कोटड़ी।

कोटड़ी चारभुजानाथ मंदिर में 5 से 13 मई तक हुए विष्णु महायज्ञ एवं कलश स्थापना महोत्सव के चार दिन बाद ही गुरुवार को गुर्जर समाज आम चौखला की बैठक में विवाद हो गया। जहाजपुर विधायक धीरज गुर्जर पर मनमर्जी का आरोप लगाते कुछ लोगों ने कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट के नाम की पट्टिका तोड़ दी। इस बात से समाज के दो गुट आमने-सामने हो गए।

 

READ: जेल में प्रहरियों ने एक बंदी के साथ मिलकर आर्म्‍स एक्‍ट के बंदी को पीटा, जेलर को पता न लगे इसके लिए कर दिया टॉयलेट में बंद

 

यज्ञ समापन के बाद कोषाध्यक्ष छोटूलाल गुर्जर की अध्यक्षता में आम चौखला गुर्जर समाज की बैठक में समाजजनों ने कई प्रस्ताव पास किए। इसमें कहा कि गुर्जर समाज महोत्सव में बुलाई गई फिल्म अभिनेत्री अमीषा पटेल व दो भैंसों सुल्तान व सम्राट के खर्चे का भार नहीं उठाएगा। यज्ञ में मिले 2 हजार क्विंटल गेहूं को कमेटी बना कर उचित दर पर बेचने पर एकराय बनी।

 

READ: दादा के साथ करने गया था खरीदारी किसी ने नहीं सोचा था वापस नहीं लौटेगा मासूम

 

गुर्जर समाज युवा महासभा के जिला अध्यक्ष कांटी निवासी कालू लाल गुर्जर, यज्ञ में प्रधानकुंड के यजमान मगनालाल नारद, रामस्वरुप गुर्जर, तहसील अध्यक्ष कन्हैया लाल गुर्जर, किशोर गुर्जर, मांडलगढ़ के युवा तहसील अध्यक्ष राधेश्याम गुर्जर, शाहपुरा के मिश्रीलाल सहित आम चोकला के पंच पटेल मौजूद थे।

 

भगवान के कार्यक्रम में राजनीति का विरोध
बैठक में समाजजनों ने सर्वसम्मति से मंदिर से कांग्रेस अध्यक्ष पायलट व विधायक धीरज के नाम की पट्टिका हटाने का निर्णय लिया। रासेड़ सरपंच हरलाल गुर्जर एवं कुछ लोगों ने विरोध किया। इस पर हंगामा हो गया। पुलिस ने मामला शांत कराया। निर्णय के बाद मौके पर पहुंच गुर्जरों ने पट्टिका उखाड़कर तोड़ दी। लोगों ने एकसुर में कहा कि यह समाज का कार्यक्रम था लेकिन विधायक धीरज ने श्रेय लेने के लिए निजी कार्यक्रम बना दिया।

 

 

अच्छे काम में विघ्न नहीं डालना चाहते थे

व्यक्ति विशेष के नाम का पत्थर मंदिर में लगाना गलत है। समाज का निर्णय सही है। वे सभी जनप्रतिनिधियों को बुलाना चाहते थे पर कुछ लोगों ने कार्यक्रम पर कब्जा कर लिया। अभिनेत्री अमीषा को बुलाने का पहले भी विरोध था लेकिन अच्छे काम में विघ्न नहीं डालना चाहते थे। कोई भी शख्स समाज से ऊंचा नहीं है।

कालूलाल गुर्जर, मुख्य सचेतक

 

कुछ लोग हमारी सफलता नहीं पचा पा रहे

कोटड़ी में पांच लाख लोगों की मौजूदगी मेंएेतिहासिक कार्यक्रम हुआ। उस वक्त समाज ने निर्णय कर पत्थर लगाया। इस आयोजन से पूरे समाज का नाम देश में हुआ। इसकी सफलता को पचा नहीं पाने के कारण कुछ असामाजिक तत्वों ने भगवान के मंदिर में जो तोडफ़ोड़ की है, उसका जवाब गुर्जर समाज और चारभुजानाथ देंगे।

धीरज गुर्जर, विधायक जहाजपुर

 

समझाइश को गई थी पुलिस

चारभुजा मंदिर में पत्थर लगाने या हटाने से हमारा कोई लेना देना नहीं है। पुलिस मंदिर में गुर्जर समाज की बैठक में आक्रोशित लोगों को समझाइश को पहुंची व मामला शांत कराया। कानून व्यवस्था बनाए रखने को वहां गए थे।

भंवर सिंह गौड़, थाना प्रभारी कोटड़ी

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned