भाजपा सांसद डामोर के खिलाफ सिंहस्थ में टंकी खरीदी मामले में ईओडब्ल्यू ने दर्ज की प्राथमिक जांच

शिकायत की जांच में 12 करोड़, 25 लाख रुपए की गड़बड़ी आई सामने

By: Radhyshyam dangi

Published: 03 Dec 2019, 10:58 AM IST

भोपाल. रतलाम लोकसभा से सांसद चुने गए भाजपा नेता व लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग (पीएचई) के रिटायर्ड चीफ इंजीनियर गुमान सिंह डामोर के खिलाफ आर्थिक अपराध अन्वेषण प्रकोष्ठ (ईओडब्ल्यू) ने टंकी खरीदी के मामले में प्राथमिक जांच (पीई) पंजीबद्ध कर ली है। आरोप है कि इंदौर जोन में चीफ इंजीनियर रहते हुए डामोर ने सिंहस्थ-2016 में पानी की टंकियों की खरीदी में आर्थिक गड़बड़ी की है।

सितंबर में शिकायतकर्ता आत्मजीत सलूजा ने ईओडब्ल्यू को शिकायत की थी। इसमें डामोर, तत्कालीन कार्यपालन यंत्री, उप व सहायक यंत्री सहित टेंडर कमेटी के पदाधिकारियों पर अनियमितता का आरोप लगाया गया था। ईओडब्ल्यू ने शिकायत की जांच के बाद पीई दर्ज कर ली।

आरोप है कि करीब 12 करोड़ 25 लाख रुपए की टंकी खरीदी में तीन टुकड़ों में टेंडर किए गए। इनमें कीमतें बढ़ा-बढ़ाकर खरीदी की गई। जबकि बाजार दर पर टंकियां कम दर पर भी उपलब्ध थी। जांच में पाया गया है कि खरीदी गई सामग्री में से कई टंकियां सिंहस्थ समापन के बाद स्टोर में नहीं मिली है।


तीन टुकड़ों में किया टेंडर

5 हजार लीटर की 9 हजार टंकियां और 2 हजार लीटर की 300 टंकियां खरीदी गई थी। आरोप है कि डामोर ने अधिकार क्षेत्र से बाहर जाकर एक टेंडर के तीन टुकड़े कर खरीदी की । इससे शासन को आर्थिक हानि हुई हैं। टेंडर व क्रय प्रक्रिया में प्रशासकीय त्रुटियां भी सामने आई है। एक टेंडर में पारस कंस्ट्रक्शन से 37500 रुपए में 5 हजार लीटर की टंकियां खरीदी का दिसंबर 2015 में आदेश दिया।

कुछ ही दिन बाद दूसरी कंपनी पार्थ कंस्ट्रक्शन से यही टंकी 40 हजार रुपए में खरीदी। एक टंकी की खरीदी में 2500 रुपए का अंतर आया। 5 हजार लीटर की 9 हजार टंकियां खरीदी। 2 हजार लीटर की 300 टंकियां 16 हजार रुपए में खरीदी गई हैं। इसमें भी गड़बड़ी के आरोप हैं।
हो सकती है एफआईआर

ईओडब्ल्यू के सूत्रों का कहना है कि शिकायत की जांच में आर्थिक गड़बडिय़ों की पुष्ठि हुई है इसके बाद ही प्राथमिक जांच पंजीबद्ध की गई है। इसकी जांच की जाएगी, दस्तावेज मंगाए जाएंगे। जरुरत पड़ी तो दस्तावेज जब्त भी किए जाएंगे। पीई की जांच के बाद एफआईआर दर्ज करने का रास्ता साफ हो जाता है।

Show More
Radhyshyam dangi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned