scriptThe kin of the leaders in the elections of Panchayats | MP Panchayat Elections 2022 अब पंचायतों में परिवारवाद, बड़े नेताओं के बेटे-बहू गांव के चुनाव में कूदे | Patrika News

MP Panchayat Elections 2022 अब पंचायतों में परिवारवाद, बड़े नेताओं के बेटे-बहू गांव के चुनाव में कूदे

भाजपा और कांग्रेस के राष्ट्रीय नेतृत्व के इंकार के बाद नेताओं ने अपने परिजनों के कैरियर के लिए ढूंढ़ा नया ठिकाना

भोपाल

Published: June 07, 2022 07:27:46 pm

भोपाल. मध्यप्रदेश में अब पंचायतों में परिवारवाद चलेगा। भाजपा और कांग्रेस दोनों ही प्रमुख दलों का राष्ट्रीय नेतृत्व परिवारवाद से तौबा करने की बात कह चुका है। इससे दोनों दलों के बड़े नेता बहुत बेचैन हैं क्योंकि उनके बेटे—बहुओं को अब विधानसभा या लोकसभा की टिकट मिलने की उम्मीदें बहुत कम हो चुकी हैं. ऐसे में इन नेताओं ने अपने परिजनों का कैरियर संवारने के लिए अपने गांव—शहर में ही नया ठौर—ठिकाना ढूंढ़ लिया है. यही वजह है कि मध्यप्रदेश के स्थानीय निकायों के चुनाव में बड़ी संख्या में वरिष्ठ नेताओं के भाई—बहन—बेटे—बहू कूद पड़े हैं। अब इन्हें गांवों या शहरों की सरकार से ही आस बची है।

panchayat_chu.jpg

मप्र में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में मंत्रियों और दोनों दलों के विधायकों से लेकर पूर्व मुख्यमंत्री तक की प्रतिष्ठा दांव पर लग गई है। बडे़ नेताओं की पत्नी, बहू, बेटे से लेकर भाई-बहन तक इन चुनावों में लड़ रहे हैं। पंचायत के चुनावों में हालांकि पार्टी के सिंबल नहीं दिए जाते, ये गैरदलीय आधार पर होते हैं लेकिन हर कोई जानता है कि कौन सा प्रत्याशी किस पार्टी से संबंधित है।

राज्य में इस बार अलग—अलग प्रदेशों के दो पूर्व सीएम की प्रतिष्ठा दांव पर लग गई है. टीकमगढ़ से मप्र की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती की बहू जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रही हैं। उमा के भतीजे खरगापुर से ‌BJP विधायक राहुल सिंह लोधी की पत्नी उमिता सिंह जिला पंचायत के वार्ड नंबर 8 से चुनाव लड़ रही हैं। साथ ही उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और मप्र के पूर्व राज्यपाल रामनरेश यादव की पौत्रवधु रोशनी यादव भी निवाड़ी जिले से जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रही हैं। रोशनी भाजपा की जिला उपाध्यक्ष भी हैं।

निवाड़ी जिले के BJP विधायक अनिल जैन की पत्नी निरंजना जैन यहां से जनपद पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रही हैं। टीकमगढ़ से भाजपा विधायक राकेश गिरी की तो दो बहनों ने जनपद पंचायत सदस्य के लिए नामांकन पत्र जमा किया है। विधायक की बहन कामिनी गिरी अभी टीकमगढ़ जनपद पंचायत की अध्यक्ष भी हैं। मप्र के वन मंत्री विजय शाह के बेटे दिव्यादित्य शाह ने खंडवा में जिला पंचायत के वार्ड नंबर 14 से अपना नामांकन दाखिल किया है। इधर गुना जिले की चाचौड़ा से भाजपा की पूर्व विधायक ममता मीणा ने नामांकन दाखिल किया है. उनके रिटायर IPS पति रघुवीर सिंह मीणा ने भी यहां से जिला पंचायत सदस्य के लिए नामांकन दाखिल किया है।

इसी तरह सतना जिले की रैगांव के विधायक रहे स्व. जुगल किशोर बागरी के बेटे पुष्पराज बागरी जिला पंचायत सदस्य के लिए चुनाव लड़ रहे हैं। पुष्पराज ने बीते विधानसभा उपचुनाव में भी बागी होकर पर्चा भर दिया था लेकिन बाद में BJP नेताओं के आश्वासन पर उन्होंने पर्चा वापस ले लिया था।

ज्ञातव्य है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वंशवाद को लोकतंत्र के लिए सबसे बड़ा खतरा बताया है। उन्होंने परिवारवाद के खिलाफ जंग लड़ने की बात भी की. उन्होंने भाजपा के लिए भी यह कहा था कि अगर सांसदों के बेटों को टिकट नहीं मिला है तो उसके लिए मैं जिम्मेदार हूं। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा ने भी परिवारवाद का विरोध किया है. उन्होंने स्पष्ट कहा कि आगामी चुनावों में सांसद, विधायकों के परिजनों को पार्टी का टिकट नहीं मिलेगा. कांग्रेस ने भी एक परिवार से केवल एक टिकट ही देने का ऐलान किया है.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Maharashtra Politics: संजय राउत का बड़ा दावा, कहा-मुझे भी गुवाहाटी जाने का प्रस्ताव मिला था; बताया क्यों नहीं गएक्या कैप्टन अमरिंदर सिंह बीजेपी में होने वाले हैं शामिल?कानपुर में भी उदयपुर घटना जैसी धमकी, केंद्रीय मंत्री और साक्षी महाराज समेत इन साध्वी नेताओं पर निशानाआतंकी सोच ऐसी कि बाइक का नम्बर भी 2611, मुम्बई हमले की तारीख से जुड़ा है नंबर, इसी बाइक से भागे थे दरिंदेपाकिस्तान में चुनावी पोस्टर में दिख रहीं सिद्धू मूसेवाला की तस्वीरें, जानिए क्या है पूरा मामला500 रुपए के नोट पर RBI ने बैंकों को दिए ये अहम निर्देश, जानिए क्या होता है फिट और अनफिट नोटनूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट लिखने पर अमरावती में दुकान मालिक की हुई हत्या!Maharashtra Politics: उद्धव और शिंदे के बीच सुलह कराना चाहते हैं शिवसेना के सांसद, बीजेपी का बड़ा दावा-12 एमपी पाला बदलने के लिए तैयार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.