अब शहर में चलता-फिरता लैब करेगा मिलावटखोरों का सफाया

इस चलित वैन में ऑन द स्पॉट 40 प्रकार की खाद्य सामग्रियों, पानी पाउच, शीतल पेय, तेल , मिठाइयां आदि की जांच करने की सुविधा है।

By: Amil Shrivas

Published: 04 Jan 2018, 11:25 AM IST

बिलासपुर . अब मिलावटी खाद्य सामग्रियों से काफी हद तक बचाव हो सकेगा। वजह ये कि खाद्य औषधि प्रशासन अब चलित लैब में मौके पर ही खाद्य सामग्रियों की जांच करेगा। 20 मिनट की जांच के बाद यह स्पष्ट हो जाएगा कि संंबंधित खाद्य सामग्री खाने योग्य है, या नहीं। यदि इसमें मिलावट पाई गई, तो उस खाद्य सामग्री को तत्काल नष्ट कर दिया जाएगा। साथ ही संबंधित संस्थान पर कार्रवाई भी जाएगी। यह अत्याधुनिक चलित वैन केंद्र शासन ने राज्य को उपलब्ध कराई है। चलित लैब 10 जनवरी को शहर पहुंच जाएगी। एक दिन में 40 सैंपलों की जांच की जा सकेगी। इससे पहले सैंपल लेकर उसे जांच के लिए रायपुर के शासकीय लैब में भेजा जाता था। वहां से जांच रिपोर्ट आने में काफी समय लगता था। तब तक लोग मिलावटी सामग्री खा चुके होते थे। डीजल व बैटरी चलित वैन (अत्याधुनिक लैब) पूरी तरह से वातानुकूलित है। इसमें खाद्य सामग्रियों की जांच की सभी सुविधाएं उपलब्ध हैं। केंद्र सरकार जल्द ही राज्य सरकार को एक और चलित वैन शीघ्र उपलब्ध कराएगी। इस चलित वैन में ऑन द स्पॉट 40 प्रकार की खाद्य सामग्रियों, पानी पाउच, शीतल पेय, तेल , मिठाइयां आदि की जांच करने की सुविधा है। वैन में एलसीडी डिसप्ले लगाया गया है। इसमें खाद्य सामग्रियों में मिलावट के तरीके बारे में प्रचार-प्रसार किया जाएगा। ताकि आम नागरिक जागरूक हो सकें।

चांदी का वर्क, कलर मिठाइयों की होगी जांच : मिठाइयों में चांदी का वर्क परत लगाने की जांच की भी जाएगी। यह वर्क सेहत के लिए कितना घातक है, इसकी परख की जाएगी। जलेबी, बूंदी व मगज समेत बेसन से बनने वाले लड्डुओं में किस कलर का उपयोग किया गया है। यह कलर मानव सेहत के लिए कितना हानिकारक है, इसकी जांच भी हो सकेगी।
मौके पर नष्ट करेंगे मिलावटी खाद्य सामग्री : चलित वैन सेंपल लेने के बीस मिनट के अंतराल में रिपोर्ट देगी। रिपोर्ट आने के बाद संबंधित खाद्य सामग्रियां मिसब्रांड, अनसेफ मिलने पर दुकानदार की सभी सामग्रियों को तुरंत नष्ट कराया जाएगा। दुकान संचालक को चेतावनी दी जाएगी। गंभीर मामला होने पर संबंधित दुकान संचालक के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
10 जनवरी को बिलासपुर आएगी वैन : खाद्य सामग्रियों समेत सभी प्रकार की जांच करने के लिए बिलासपुर शहर में चलित वैन भेजने की तारीख 10 जनवरी निर्धारित की गई है। इसके लिए प्रदेश के सभी जिलों का रूट चार्ट तय किया गया है।

स्थानीय टीम रहेगी शामिल : इस चलित वैन में प्रयोगशाला जांच तकनीशियन रहेंगे। इसके साथ ही जिले के खाद्य सुरक्षा अधिकारियों की टीम शामिल रहेगी।
तुरंत होगी जांच व कार्रवाई : खाद्य सामग्रियों के सैंपल लेकर तुरंत जांच की जाएगी। बीस मिनट में रिपोर्ट मिल जाएगी। इससे यह पता चल सकेगा कि संबंधित खाद्य सामग्री खाने योग्य है, या नहीं। मिलावट या मिसब्रांड मिलने पर तुरंत उसे नष्ट कराया जाएगा।
अजय कन्नौजे, एसी, खाद्य सुरक्षा, रायपुर

Amil Shrivas
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned