scriptalami ijtima 10 lakh Muslims will come in bulandshahar | बाबरी ढांचे को गिराने की बरसी से पहले यूपी के इस शहर में जुटेंगे दुनियाभर के 10 लाख से ज्यादा मुसलमान, जानिये क्यों- | Patrika News

बाबरी ढांचे को गिराने की बरसी से पहले यूपी के इस शहर में जुटेंगे दुनियाभर के 10 लाख से ज्यादा मुसलमान, जानिये क्यों-

1 से 3 दिसंबर तक होने वाले आलमी इज्तिमा में 10 लाख से ज्यादा मुसलमानों के साथ दुनियाभर के धर्म गुरु करेंगे शिरकत

बुलंदशहर

Published: November 26, 2018 11:18:51 am

बुलंदशहर. बाबरी ढांचे को गिराने की बरसी यानी 6 दिसंबर से पहले बुलंदशहर की सरजमीं पर आगामी 1 से 3 दिसंबर तक एेतिहासिक 3 दिवसीय तबलीगी इज्तिमा होने जा रहा है। इसके लिए जोर-शोर से तैयारियां चल रही हैं। हजारों लोग दिन-रात इज्तिमा की तैयारियों में लगे हुए हैं। बता दें कि बुलंदशहर के एनएच-91 के दरियापुर कमालपुर के पास होने वाले मुसलमानों के आलमी में करीब 10 लाख से ज्यादा लोग आने की संभावना जताई जा रही है। साथ ही इस कार्यक्रम में दुनियाभर के मुस्लिम धर्मगुरु भी शिरकत करेंगे। यह कार्यक्रम करीब एक हजार बीघा जमीन पर आयोजित किया जाएगा।
bulandshahr
हिंदूओं के जमावड़े के बीच अब इस शहर में जुटेंगे लाखों मुसलमान, राम मंदिर पर लिया जाएगा यह अहम फैसला

बता दें कि आलमी इज्तिमा की तैयारी के लिए पिछले 60 दिन से लगभग 7 हजार लोग तैयारी में जुटे हैं। ये लोग बुलंदशहर के साथ आगरा, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली, इलाहाबाद, हापुड़, गाजियाबाद और मेरठ से यहां आए हैं। देश के साथ अन्य देशों से आने वाली जमातों व मेहमानों के इस्तकबाल के लिए पूरे इंतजाम कर रहे हैं। बता दें कि यहां इज्तिमा में बैठने के इंतजामात, वसी (विशाल) आरजी मस्जिद, उम्दा वजू खाने, साफ शफ्फाफ पीने का पानी, साफ-सुथरे शौचालय (बेतुल खलायें) व इस्तंजा खानों के निर्माण और सर्दी-बारिश से बचने के लिए आकर्षक टेंट का इंतजाम आलमी इज्तिमा की कहानी बयां कर रहे हैं।
सिर्फ इतना ही नहीं इज्तिमागाह में आने वाले लाखों लोगों की सहूलियत के लिहाज से हर बीमारी और अनहोनी से बचने के लिए मैयारी दवाखाने, डिस्पेंसरी भी बनाई गईं हैं। साथ ही इज्तिमागाह में कुतुबखाने, पंसारी की दुकानें व कपड़े आदि सहित इज्तिमा के हवाले से जरूरत का हर सामान सस्ता और बेहतर मुहैया कराने के लिए स्वयंसेवी संस्थाओं ने कैम्प लगाए हुए हैं, ताकि लोगों को किसी भी चीज के लिए कहीं दूर न जाना पड़े।
एकतरफा प्यार में युवक ने चाकू से किए ताबड़तोड़ वार, तड़पने लगी युवती तो फिर किया ऐसा काम कि देखने वालों की कांप गई रूह

एनएच-91 पर तीन दिन रूट डायवर्जन

कार्यक्रम के लिए एनएच-91 को अतिक्रमण मुक्त करा लिया गया है। साथ नगर पालिका की तरफ से भी सफाई का विशेष ध्यान रखा जा रहा है और बाकायदा सीसीटीवी कैमरे और ड्रॉन कैमरे से भी इस पूरे प्रोग्राम पर प्रशासन नजर बनाए हुए है। एक से तीन दिसंबर तक एनएच-91 को भी डाइवर्ट किया जाएगा। सिकंदराबाद-खुर्जा से एनएच-91 को डाइवर्ट किया जाएगा। वहीं बदायूं और गुलावठी से आने वाले रोड को भी डायवर्ट किया जाएगा।
पुलिस ने किए सुरक्षा के कड़े इंतजाम

कार्यक्रम का जायजा लेते हुए डीएम, एसएसपी, सीओ और कई थानों की पुलिस ने जमीनी हकीकत जानकर सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम किए हैं। मौके पर पहुंची जिलाधिकारी अनुजा ने बताया कार्यक्रम के लिए 5 लाख लोगों के आने की परमिशन ली गई है। हमने सारे इंतजाम कर लिए हैं। बाकायदा यहां पर पीडब्ल्यूडी, पुलिस और एसडीएम के अलावा आला अधिकारियों को यहां भेजा गया है। वहीं एसएसपी केवी सिंह बुलंदशहर ने भी कड़ी सुरक्षा के इंतजाम का दावा भी किया है।
1926 में शुरूहुआ था तबलीगी जमाअत का काम

गौरतलब है कि तबलीगी जमाअत का काम मौलाना इलियास रहमतुल्लाहिअलैह ने 1926 में शुरू किया था। 1944 में उनके इंतकाल के बाद मौलान यूसुफ़ ररहमतुल्लाहिअलैह ने इसकी बागडोर संभाली। उन्होंने इस ज़िम्मेदारी को बखूबी निभाया, जिससे तबलीगी जमाअतों का आना-जाना शुरू हो गया। 1965 में उनके इंतकाल के बाद मौलाना इनामुल हसन के कंधों पर इस अहम काम की ज़िम्मेदारी आई और उन्होंने भी पूरी लगन और मेहनत से इस काम को बखूबी अंजाम दिया। मगर 1995 में उनके इंतकाल के बाद से इस तबलीगी काम की ज़िम्मेदारी को मौलाना साद साहब अंजाम दे रहे हैं, जो आज भी पूरी दुनिया में जारी है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: एक्शन में शिवसेना! अयोग्य करार देने के लिए डिप्टी स्पीकर को भेजा 4 और MLA के नाम, 16 बागियों पर भी कार्रवाई की तैयारीMaharashtra Political Crisis: सड़क पर शिवसैनिकों के उपद्रव का डर, हाई अलर्ट पर मुंबई समेत राज्य के सभी पुलिस थानेMumbai News Live Updates: शिंदे के गढ़ ठाणे में निषेधाज्ञा लागू, 30 जून तक खुलेआम लाठी-डंडे, हथियार लेकर चलना व पोस्टर जलाना प्रतिबंधितNDA की राष्ट्रपति उम्मीदवार पर रामगोपाल वर्मा ने किया विवादित ट्वीट, BJP ने दर्ज कराई शिकायतपाकिस्तान की खुली पोल, 26/11 मुंबई हमले का मास्टर माइंड साजिद मीर जिंदा, ISI ने मोस्ट वांटेड आतंकी को बताया था मराअमरीकी सुप्रीम कोर्ट ने खत्म किया गर्भपात का अधिकार: बाइडेन बोले, ट्रंप द्वारा नियुक्त जज छीन रहे महिलाओं के फंडामेंटल राइटयूपी में नमाज के बाद उपद्रव मचाने वालों के घर पर चला बाबा का बुलडोजर, देखें वीडियोनॉर्वे की राजधानी ओस्लो में नाइट क्लब में अंधाधुंध फायरिंग, 2 की मौत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.