इंजीनियर के जज्बे को सलाम, पुरानी राजदूत को बना दिया सेनेटाइजर मशीन

कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने में मददगार साबित होगी इंजीनियर की ये सेनेटाइजर मशीन, तंग गलियों में जाकर घरों को कर रहे सेनेटाइज..

By: Shailendra Sharma

Published: 04 May 2021, 07:57 PM IST

छिंदवाड़ा. कहते हैं आवश्यकता ही अविष्कार की जननी है और यह बात एक इंजीनियर ने साबित भी कर दिखाई है। इंजीनियर (engineer) ने कोरोना संक्रमण (corona virus) के दौरान एक ऐसी मशीन की कल्पना की जो बहुत सस्ती, सुंदर और टिकाउ भी हो। सोच को कुछ ही दिनों में इंजीनियर ने अपनी पुरानी बाइक (old bike) पर साकार कर दिखाया, अब उसकी चर्चा चारों तरफ हो रही है। मामला छिंदवाड़ा (chhindwara) का है जहां इंजीनियर हुजैफी खान ने पुरानी राजदूत (rajdoot bike) को सेनेटाइजर मशीन (sanitizer machine) में तब्दील कर दिया है और जनसेवा के कार्य में जुटे हुए हैं।

ये भी पढ़ें- एक तरफ हो रही थी ननद की विदाई और दूसरी तरफ भाभी की उठी अर्थी, रुला देगी ये घटना

devdoodh2.png

राजदूत वाला 'देवदूत'
छिंदवाड़ा के उबेद नगर निवासी इंजीनियर हुजैफी खान अबुशहमा खान ने एक सेनेटाइजर बाइक बनाई है इस सेनेटाइजर बाइक को राजदूत मोटरसाइकिल पर बनाया गया है। न्यू युवा परिवर्तन के संस्थापक सदस्य नोनिया निवासी शेख फारुख (शानू भाई) ने बताया कि कोविड काल में भीड़ भाड़ वाली जगहों जैसे मेडिकल, क्लीनिक, सिटी स्कैन सेंटर या जिन घरों में संक्रमित मरीज है वहां से संक्रमण फैलने का खतरा बहुत ज्यादा रहता है इस खतरे को दूर करने के लिए सेनेटाइजर बाइक बनाई गई है। जिससे संक्रमण को काफी हद तक खत्म किया जा सकेगा।

ये भी पढ़ें- बाइक पर लेकर भटकते रहे मां और भाई, इलाज मिलने से पहले ही बाइक पर ही थम गईं सांसें

devdoodh1.png

हमारा देश और शहर ज्यादातर गली और कस्बों में बसा हुआ है जहां पर बड़ी गाड़ियां नहीं जा सकतीं, जिस वजह से यह संक्रमण तेजी से फैल रहा है और संक्रमण की चेन हमें तोड़नी है। इस चीज को ध्यान में रखते हुए गाड़ी कंपैक्ट डिजाइन की चाहिए जो छोटी गली मोहल्ले और जहां पर भी बड़ी गाड़ियां नहीं जा पा रही हैं वहां पर आसानी से जा सके। इसलिए पेशे से इंजीनियर हुजैफी खान ने अपने पापा अबुशहमा खान की पुरानी गाड़ी को सेनेटाइजेशन बाइक बना दिया।

ये भी पढ़ें- एक बाइक पर 6 सवारी, पुलिस ने रोका और हाथ जोड़कर बोली- धन्य हो प्रभु !

devdoodh3.png

हुजैफी खान का कहना है कि इंजीनियर्स को आगे आकर इस माहामारी को रोकने के लिए पोर्टेबल और कॉम्पैक्ट मशीन का निर्माण करना चाहिए। हुनर सब के पास है निखारना होना। उनके मार्गदर्शक बड़े भाई इंजीनियर कैफ़ी खान है और प्रेरणा स्त्रोत उनका परिवार है।

देखें वीडियो-

COVID-19
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned