न्यूजीलैंड ने जीता आईसीसी वर्ल्ड चैंपियनशिप का खिताब, टीम इंडिया ने किया निराश

न्यूजीलैंड ने द रोज बाउल में खेले गए विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (ICC World Test Championship) के फाइनल मुकाबले के छठे और अंतिम दिन बुधवार को भारत (India) को आठ विकेट से हराकर इसका खिताब को अपने नाम किया।

By: भूप सिंह

Updated: 24 Jun 2021, 01:03 AM IST

नई दिल्ली। कप्तान केन विलियम्सन (नाबाद 52) के अर्धशतक और रॉस टेलर (नाबाद 47) की शानदार पारी तथा दोनों बल्लेबाजों के बीच तीसरे विकेट के लिए हुई 96 रनों की साझेदारी के दम पर न्यूजीलैंड ने द रोज बाउल में खेले गए विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (ICC World Test Championship) के फाइनल मुकाबले के छठे और अंतिम दिन बुधवार को भारत (India) को आठ विकेट से हराकर इसका खिताब को अपने नाम किया।

यह भी पढ़ें:—ICC WTC Final: फैन ने ऋषभ पंत से की गाबा के प्रदर्शन को दोहराने की डिमांड

भारत ने न्यूजीलैंड को दिया था 139 रनों का लक्ष्य
भारत की दूसरी पारी 170 रन पर सिमटी और उसने 138 रनों की बढ़त लेने के साथ ही कीवी टीम को जीत के लिए 139 रनों का लक्ष्य दिया। इसके जवाब में न्यूजीलैंड की टीम ने दूसरी पारी में दो विकेट पर 140 रन बनाकर मैच जीत लिया और डब्ल्यूटीसी के पहले संस्करण का खिताब अपने नाम किया।

विलियमसन ने खेली कप्तानी पारी
न्यूजीलैंड की पारी में विलियम्सन 89 गेंदों पर आठ चौकों की मदद से 52 रन और टेलर 100 गेंदों पर छह चौकों की मदद से 47 रन बनाकर नाबाद रहे। भारत की तरफ से ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने दो विकेट लिए। काइल जैमिसन को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

सस्ते में आउट हुए न्यूजीलैंड के ओपनर्स
इससे पहले, लक्ष्य का पीछा करने उतरी कीवी टीम को टॉम लाथम और डेवोन कॉनवे ने बेहतर शुरुआत दिलाई और दोनों के बीच पहले विकेट के लिए 33 रनों की साझेदारी हुई। इस साझेदारी को अश्विन ने लाथम (9) को आउट कर तोड़ा। इसके कुछ देर बाद कॉनवे भी अश्विन का शिकार बने। कॉनवे ने 47 गेंदों पर चार चौकों की मदद से 19 रन का योगदान दिया। दो झटके लगने के बाद विलियम्सन और टेलर ने कीवी टीम की पारी को संभाला और अंत तक टिक कर टीम को जीत दिलाई।

यह भी पढ़ें— WTC Final: आईसीसी पर भड़के पीटरसन तो वीरेन्द्र सहवाग ने मजाकिया अंदाज में कसा तंज

न्यूजीलैंड ने जीता दूसरा आईसीसी टूर्नामेंट
न्यूजीलैंड ने इसके साथ ही अपना दूसरा आईसीसी टूर्नामेंट जीता। उसने इससे पहले 2000 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी जीती थी। न्यूजीलैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज बीजे वाटलिंग के करियर का यह आखिरी मुकाबला था और कीवी टीम ने खिताबी जीत के साथ उन्हें विदाई दी।

लड़खड़ाई भारतीय पारी
भारत ने दो विकेट पर 64 रन से खेलना शुरू किया और चेतेश्वर पुजारा ने 12 और कप्तान विराट कोहली ने आठ रन से आगे पारी बढ़ाई। लेकिन पहले सत्र में ही भारत ने कोहली (13), पुजारा (15) और अजिंक्य रहाणे (15) के विकेट गंवा दिए। लंच ब्रेक के बाद रवींद्र जडेजा भी अपना विकेट गंवा बैठे। उन्होंने 49 गेंदों पर दो चौकों की मदद से 16 रन बनाए। एक छोर से जहां भारत के विकेट गिर रहे थे तो वहीं ऋषभ पंत दूसरे छोर से पारी को संभाले रहे। हालांकि, वह बहुत ज्यादा देर तक संघर्ष नहीं कर सके और ट्रेंट बोल्ट की गेंद पर आउट हुए। पंत ने 88 गेंदों पर चार चौकों की मदद से सर्वाधिक 41 रन बनाए।

यह भी पढ़ें:—होल्डर को पीछे छोड़ दुनिया के नंबर-1 ऑलराउंडर बने रवींद्र जडेजा, कोहली चौथे बेस्ट टेस्ट बल्लेबाज

इसके एक गेंद बाद ही अश्विन 19 गेंदों पर सात रन बनाकर आठवें बल्लेबाज के रूप में आउट हुए। शमी ने अंत में कुछ जोर लगाया लेकिन उन्हें टिम साउदी ने आउट किया। शमी ने 10 गेंदों पर तीन चौकों की मदद से 13 रन बनाए। फिर साउदी ने जसप्रीत बुमराह को खाता खोले बिना आउट कर भारत की पारी को समेट दिया। इशांत शर्मा छह गेंदों पर एक रन बनाकर नाबाद रहे।न्यूजीलैंड की ओर से साउदी ने चार विकेट, बोल्ट ने तीन विकेट, जैमिसन ने दो विकेट और नील वेगनर ने एक विकेट लिया।

Show More
भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned