ऑक्सीजन सिलेंडर देखते ही लूटने लगे लोग, एक दिन में दो बार हुई घटना

Oxygen cylinders looted: दमोह के जिला अस्पताल में कोविड मरीजों के परिजनों ने लूट लिए ऑक्सीजन के सिलेंडर।

By: Manish Gite

Published: 21 Apr 2021, 02:17 PM IST

दमोह। मध्यप्रदेश के दमोह जिले में बुधवार को ऑक्सीजन सिलेंडर लूटने (Oxygen cylinders looted) का मामला सामने आया है। जिला अस्पताल में जब ऑक्सीजन सिलेंडर की खेप पहुची तो कोविड वार्ड में मौजूद मरीजों के परिजनों ने सिलेंडरों को लूट लिया। बताया जा रहा है कि मंगलवार रात को और बुधवार सुबह दो बार हंगामे की ऐसी ही स्थिति बनी। परिजनों ने अस्पताल में तोड़फोड़ भी की और कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवहार भी किया। इसके बाद अस्पताल प्रबंधन ने पुलिस प्रशासन से सुरक्षा मांगी है।

 

यह भी पढ़ेंः सरकार का दावाः ऑक्सीजन की किल्लत के बीच सुकून देने वाली खबर

 

oxygen2.png

मध्यप्रदेश के दमोह के जिला अस्पताल में जैसे ही ऑक्सीजन के सिलेंडरों की खेप पहुंची, वहां प्री कोविड वार्ड में मौजूद मरीजों के परिजनों ने सिलेंडर लूट लिए और एक-एक सिलेंडरों की जगह दो-दो सिलेंडर अपने पास रख लिए। लोगों का कहना था कि हमें अस्पताल पर भरोसा नहीं है।

 

ऑक्सीजन सिलेंडरों को लूटने की खबर के बाद एएसपी शिवकुमार सिंह अपने दल-बल के साथ अस्पताल परिसर में पहुंच गए, जहां परिवार वालों पर दबाव बनाया गया, लेकिन परिवार वाले नहीं माने। एएसपी ने बताया कि सिलेंडर अस्पताल के भीतर ही हैं और मरीजों को लग रहे हैं। छीनकर ले जाने वाली बात नहीं है। सभी मरीजों को सिलेंडर की जरूरत है, इसलिए अस्पताल की ओर से ही सप्लाई की जानी चाहिए।

 

इसके बाद एएसपी वहां से चले गए। सुबह जब सिलेंडरों की जरूरत पड़ी तो फिर से हंगामा होने लगा। जो मरीज सिलेंडर की मांग कर रहे थे, उन्हें प्री कोविड वार्ड से सिलेंडर लाने के लिए कहा गया, लेकिन वार्ड में जो लोग पहले से भर्ती थे, वे सिलेंडर देने को तैयार नहीं थे।

 

यह भी पढ़ेंः ऑक्सीजन की कमी से कोई मरा तो सीधे एफआईआर दर्ज

 

oxygencylinder.png

छीनकर अपने पास रख लिए सिलेंडर

गौरतलब है कि अस्पताल में एक मरीज को एक सिलेंडर देने का नियम है, लेकिन मरीजों के परिजनों ने दो-दो सिलेंडर अपने पास रख लिए, क्योंकि वे डरे हुए हैं कि सिलेंडर कहीं कम नहीं हो जाए। अस्पताल की सिविल सर्जन डा. ममता तिमोरी के मुताबिक प्री कोविड वार्ड के मरीजों ने जबरन सिलेंडर छीन लिए थे और वापस नहीं कर रहे थे। हालांकि कुछ सिलेंडर वापस कर दिए गए हैं।

 

यह भी पढ़ेंः MP Corona Update: 24 घंटे में 12727 पॉजिटिव, संक्रमितों की संख्या पहुंची 4 लाख 33 हजार के पार, 24 घंटे में 77 की मौत

मंगलवार देर रात को साढ़े 11 बजे जब आक्सीजन सिलेंडर लेकर कर्मचारी अस्पताल परिसर पहुंचे तो मरीजों के परिजन कर्मचारियों पर दबाव बनाते रहे। इसके बाद विवाद की स्थिति निर्मित हो गई। डा. तिमोरी के मुताबिक एसपी को पत्र लिखकर ऑक्सीजन सिलेंडर का ट्रक आने पर मरीजों के परिजन की ओर से सिलेंडर उठा ले जाने की बात कही है। जबकि मंगलवार को ही तिमोरी ने प्रशासन को सूचित करके सुरक्षा की भी मांग की गई थी।

 

यह भी पढ़ेंः Triple Murder: पूर्व डिप्टी सीएम के परिवार पर हमला, बेटे, बहू और 4 साल की पोती की हत्या

Manish Gite
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned