दस साल की बच्ची को सांप ने काटा, छह घंटे तक झाड—फूंक करते रहे परिजन और फिर हो गया ऐसा

दस साल की बच्ची को सांप ने काटा, छह घंटे तक झाड—फूंक करते रहे परिजन और फिर हो गया ऐसा

dinesh saini | Publish: Sep, 05 2018 11:36:16 AM (IST) Dholpur, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news/

धौलपुर। राजस्थान में एक बार फिर से अंधविश्वास ने एक मासूम की दर्दनाक तरीके से जान ले ली है। प्रदेश के धौलपुर के ग्रामीण इलाके में अंधविश्वास के चलते समय पर इलाज नहीं मिलने के कारण दस साल की एक बच्ची की दर्दनाक मौत हो गई। बड़ी बात यह है कि उसकी मौत के जिम्मेदार उसके ही परिजन हैं। दरअसल सर्प दंश की शिकार बच्ची को छह घंटे तक परिजनों ने इलाज ही नहीं लेने दिया, उसे झाड—फूंक से ही सही करने की कोशिश करते रहे। इस बीच बच्ची की मौत हो गई।

 

धौलपुर में हुई इस घटना में मिली जानकारी के अनुसार सरमथुरा थाना इलाके में स्थित डागरीपुरा गांव में कल दोपहर खेत पर काम कर रही दस साल की रुबी को अचानक सांप ने काट लिया। उसके परिजनों ने उसे अस्पाल ले जाने की कोशिश की इस बीच गांव के लोगों ने पास के गांव से दो तांत्रिकों को बुला लिया।

 

Read More: SC-ST संशोधित बिल के विरोध में राजस्थान बंद कल, सफल बनाने के लिए टीमें गठित, देखें VIDEO

 

रुबी उनके सामने तड़पती रही लेकिन इस बीच तांत्रिक उसे बचाने की कोशिश में पूजा पाठ करते रहे। उन्होंने बच्ची के पिता से पूजा का सामान भी मंगवाया। तांत्रिकों और गांव वालों के सामने ही छह से सात घंटे तक बच्ची के शरीर से जहर निकालने के लिए तंत्र साधना चलती रही और बच्ची तड़पती रही। उसकी हालत में कोई सुधार नहीं हो से बच्ची ने दम तोड़ दिया।

 

Read More: करौली में 3 इंच बारिश, घरों में घुसा पानी, 24 घंटे में प्रदेश के पूर्वी हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी

 

धौलपुर में हुई ये घटना कोई पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी कई घटनाओं में अंधविश्वास के चलते कई लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है। लेकिन फिर भी लोग तांत्रिकों के चक्कर में पडकऱ जीवन को दांव में लगा रहे हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned