Covid हॉस्पिटल में ड्यूटी नहीं करने वाले 4 डॉक्टर समेत 33 स्वास्थ्यकर्मियों को नोटिस, होगा पंजीयन रद्द

दुर्ग जिले के कोविड अस्पताल (covid hospital) में ड्यूटी लगाए जाने के बावजूद अनुपस्थित रहने वाले चार डॉक्टरों सहित 33 स्वास्थकर्मियों को सीएमएचओ डॉ. गंभीर सिंह ठाकुर ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

By: Dakshi Sahu

Published: 22 Apr 2021, 01:27 PM IST

दुर्ग. छत्तीसगढ़ में कोरोना (coronavirus in chhattisgarh) की दूसरी लहर कहर बरपा रही है। ऐसे में दुर्ग जिले के कोविड अस्पताल में ड्यूटी लगाए जाने के बावजूद अनुपस्थित रहने वाले चार डॉक्टरों सहित 33 स्वास्थकर्मियों को सीएमएचओ डॉ. गंभीर सिंह ठाकुर ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है। साथ ही जवाब नहीं देने और ड्यूटी पर अनुपस्थिति बरकार रहने की दिशा में पंजीयन रद्द करने की बात कही है। प्रदेश में कोविड संकट को देखते हुए स्वास्थ्य सेवाओं की आवश्यक स्थिति के चलते एस्मा एक्ट लागू है।

Read more: कोरोना लॉकडाउन में ड्यूटी में लापरवाही पड़ी भारी, दुर्ग में पांच सरकारी कर्मचारियों पर गिरेगी निलंबन की गाज ....

महामारी एक्ट के तहत की जाएगी कार्रवाई
कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए मरीजों के इलाज एवं अन्य स्वास्थ्य सेवाओं हेतु स्वास्थ्य अमले की ड्यूटी जिला चिकित्सालय और चंदूलाल चंद्राकर अस्पताल में लगाई गई है। इनमें कुछ स्टाफ ने अब तक उपस्थिति नहीं दी है। सीएमएचओ ने इन्हें प्रदेश में प्रभावी एस्मा एक्ट के अंतर्गत ड्यूटी में तत्काल उपस्थित होने के निर्देश दिए हैं। सूचना के बाद भी अनुपस्थिति में महामारी एक्ट के अंतर्गत इनका पंजीयन रद्द करने की कार्रवाई की जाएगी।

Read more: मरीज को ऑक्सीजन बेड की कमी के नाम पर नहीं भेजा जाएगा वापस, अस्पताल में हो दिक्कत तो पुलिस को करें फोन ....

इन्हें थमाया नोटिस
चंदूलाल चंद्राकर मेडिकल कॉलेज कोविड केयर सेंटर में ड्यूटी लगाए जाने पर अभी तक उपस्थिति नहीं देने वाले 1 चिकित्सा अधिकारी, 1 बीडीएस, 2 इंटर्न डॉक्टर, 5 आईसीयू स्टाफ नर्स, 9 स्टाफ नर्स एवं 3 एएनएम को यह नोटिस दी गई है। इसी प्रकार जिला चिकित्सालय में ड्यूटी लगाए जाने पर अभी तक उपस्थिति नहीं देने वाले 1 आईसीयू स्टाफ नर्स, 1 स्टाफ नर्स, 8 वार्ड ब्वाय एवं 2 आया को शो काज नोटिस जारी की गई है। राज्य में 15 अप्रैल से एस्मा एक्ट लागू है जिसके तहत समस्त स्वास्थ्य सुविधाएं तथा डॉक्टर, नर्स एवं अन्य स्वास्थ्यकर्मियों को आवश्यक सेवाओं में शामिल किया गया है।

Dakshi Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned