किसानों के अच्छे दिन की हुई शुरुआत, 82 फीसदी बढ़ा कृषि उत्पादों का निर्यात

  • सितंबर में भारत ने 9,296 करोड़ मूल्य के आवश्यक कृषि वस्तुओं का निर्यात किया
  • पिछले साल समान अवधि में इन वस्तुओं के निर्यात का मूल्य 5,114 था करोड़ रुपए

By: Saurabh Sharma

Updated: 11 Oct 2020, 09:05 AM IST

नई दिल्ली। कोरोना काल में देश से कृषि उत्पादों के निर्यात में जोरदार उछाल आया है। बीते महीने सितंबर में भारत ने पिछले साल के इसी महीनें के मुकाबले करीब 82 फीसदी ज्यादा कृषि से प्राप्त आवश्यक वस्तुओं का निर्यात किया है। यह जानकारी शनिवार को केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय की ओर से एक आधिकारी बयान में दी गई।

यह भी पढ़ेंः- फ्लिपकार्ट सेल शुरू होने पहले खड़ी हुई मुश्किल, देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की मांग

किसानों के अच्छे दिन के आंकड़ें
मंत्रालय ने बताया कि बीते महीने सितंबर में भारत ने 9,296 करोड़ मूल्य के आवश्यक कृषि वस्तुओं का निर्यात किया, जबकि पिछले साल इसी महीने इन वस्तुओं के निर्यात का मूल्य 5,114 करोड़ रुपए था। इस प्रकार पिछले साल के मुकाबले इस साल सितंबर में कृषि संबंधी आवश्यक वस्तुओं के निर्यात में 81.77 फीसदी का इजाफा हुआ। वहीं, चालू वित्त वर्ष के शुरूआती छह महीने यानी अप्रैल से लेकर सितंबर तक कृषि संबंधी आवश्यक वस्तुओं के निर्यात का मूल्य 53,636.6 करोड़ रुपए है, जबकि पिछले साल की समान अवधि में इन्हीं वस्तुओं के निर्यात का मूल्य 37,397 करोड़ रुपए था।

यह भी पढ़ेंः- आईटी दिग्गज कंपनी व्रिप्रो ने बनाया था शेयर की कीमत का यह रिकॉर्ड, टूटने के कगार पर पहुंचा

कोरोना महामारी के बाद तोड़ा रिकॉर्ड
कोरोना काल में देश के किसानों द्वारा उत्पादित वस्तुओं के निर्यात में हुई इस जबरदस्त वृद्धि के संबंध में कृषि मंत्रालय ने कहा कि कृषि निर्यात को बढ़ावा देने की दिशा में सरकार द्वारा लगातार व संगठित तौर पर किए गए प्रयासों नतीजा सामने आ रहा है कि कोरोना महामारी के संकट के बावजूद देश से कृषि वस्तुओं के निर्यात में अप्रैल-सितंबर के दौरान 43.4 फीसदी का इजाफा हुआ है।

यह भी पढ़ेंः- एक साल की एफडी पर यह बैंक दे रहे हैं सबसे ज्यादा मुनाफा, लिस्ट में नहीं है सरकारी बैंक का नाम

इनका बढ़ा निर्यात
कृषि मंत्रालय ने बताया कि कोरोना काल में बीते छह महीने यानी अप्रैल से सितंबर के दौरान देश से मूंगफली के निर्यात में पिछले साल के मुकाबले 35 फीसदी का इजाफा हुआ है, जबकि रिफाइंड चीनी का निर्यात 104 फीसदी बढ़ा है। वहीं, बासमती चावल का निर्यात अप्रैल-सितंबर के दौरान पिछले साल से 13 फीसदी, जबकि गैर-बासमती चावल का निर्यात 105 फीसदी बढ़ा है। मंत्रालय के आंकड़े बताते हैं कि गेहूं के निर्यात में पिछले साल से 206 फीसदी का इजाफा हुआ है।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned