जेईई मेन 2020: ये 7 टिप्स परीक्षा में करेंगे मदद, मिलेगी सफलता

जेईई मेन देश की सबसे बड़ी प्रतियोगी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा में से एक है। हर साल, IIT में प्रवेश के लिए लक्ष्य रखने वाले लाखों छात्र जेईई मेन्स के लिए उपस्थित होते हैं। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) जनवरी के महीने में इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE) आयोजित करती है (पहला प्रयास) और अप्रैल (दूसरा प्रयास)। टॉप जेईई मेन रैंक धारकों को जेईई एडवांस परीक्षा के लिए उपस्थित होना पड़ता है जो प्रतिष्ठित भारतीय प्रबंधन संस्थानों (आईआईएम) का प्रवेश द्वार है।

जेईई मेन देश की सबसे बड़ी प्रतियोगी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा में से एक है। हर साल, IIT में प्रवेश के लिए लक्ष्य रखने वाले लाखों छात्र जेईई मेन्स के लिए उपस्थित होते हैं। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) जनवरी के महीने में इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE) आयोजित करती है (पहला प्रयास) और अप्रैल (दूसरा प्रयास)। टॉप जेईई मेन रैंक धारकों को जेईई एडवांस परीक्षा के लिए उपस्थित होना पड़ता है जो प्रतिष्ठित भारतीय प्रबंधन संस्थानों (आईआईएम) का प्रवेश द्वार है।

हालांकि, इस साल, COEID-19 के प्रकोप के कारण JEE मेन अप्रैल परीक्षा स्थगित कर दी गई है। JEE अप्रैल परीक्षा का संशोधित परीक्षा शेड्यूल अगले महीने तक NTA की आधिकारिक वेबसाइट पर जारी किया जाएगा। इस बीच, छात्रों को जेईई मेन परीक्षा की तैयारी पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए ताकि परीक्षा में शीर्ष स्थान प्राप्त किया जा सके। यहां कुछ सबसे महत्वपूर्ण बिंदु दिए गए हैं जो छात्रों को जेईई मेन परीक्षा को क्रैक करने और अच्छी रैंकिंग स्कोर करने में मदद करेंगे:

1. सिलेबस की जाँच करें: NTA ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर JEE परीक्षा के लिए सिलेबस जारी किया और परीक्षा में पूछे गए अधिकांश प्रश्न उसी पर आधारित हैं। इसलिए, छात्रों को परीक्षा की आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध नवीनतम और अद्यतन पाठ्यक्रम की जांच करने की सलाह दी जाती है।

2. पेपर पैटर्न और मार्किंग स्कीम: अब, प्रवेश परीक्षा के पेपर पैटर्न, प्रश्नों के प्रकार, मार्किंग स्कीम, प्रश्नों की वेटेज आदि के बारे में जानना भी महत्वपूर्ण है।

3. अपनी अध्ययन सामग्री की जांच करें: जेईई परीक्षा की तैयारी के लिए सबसे उपयुक्त अध्ययन सामग्री कक्षा 11 वीं और कक्षा 12 वीं की पाठ्यपुस्तकें हैं। इसके अलावा, अभ्यास के लिए पिछले कुछ वर्षों के प्रश्न पत्र, मॉक टेस्ट आदि शामिल हैं।

4. अपनी अवधारणाओं को सही से लें: पहले अपनी सभी बुनियादी अवधारणाओं को साफ़ करें, अन्यथा, आप अपना समय बर्बाद करने के लिए लंबे समय तक सवालों में फंसे रहेंगे। यदि अवधारणा स्पष्ट है, तो आप परीक्षा में पूछे गए किसी भी जटिल प्रश्न का प्रयास कर सकते हैं।

5. अपनी पढ़ाई और तैयारी का आनंद लें: आपको परीक्षा और उसकी तैयारी का सकारात्मक रूप से आनंद लेना चाहिए। यदि आप परीक्षा को एक बोझ या दायित्व के रूप में लेते हैं तो यह आप पर अनावश्यक तनाव जोड़ देगा।


6. आत्म-विश्लेषण: अपनी ताकत और कमजोरियों को जानने के लिए, आपके द्वारा अध्ययन किए गए अध्यायों से मॉक टेस्ट का प्रयास करें। अपने क्षेत्रों में सुधार के लिए मॉक टेस्ट में अपने प्रदर्शन का विश्लेषण करें। यह आगामी JEE मेन परीक्षा के लिए आपकी गति और सटीकता को बेहतर बनाने में भी आपकी मदद करेगा।

7. ऑनलाइन मॉक टेस्ट लें: जेईई परीक्षा कंप्यूटर आधारित टेस्ट मोड (सीबीटी मोड) में ऑनलाइन आयोजित की जाएगी। छात्रों को वास्तविक समय के आधार पर ऑनलाइन पेपर का प्रयास करने का अनुभव प्राप्त करने के लिए ऑनलाइन मॉक टेस्ट लेना चाहिए।

Show More
Jitendra Rangey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned