टूरिस्ट विलेज में 1 लाख 17 हजार की रिश्वत लेते सीएमओ रंगे हाथ गिरफ्तार, VIDEO

टूरिस्ट विलेज में 1 लाख 17 हजार की रिश्वत लेते सीएमओ रंगे हाथ गिरफ्तार, VIDEO

monu sahu | Updated: 11 Jul 2019, 08:57:52 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

ग्वालियर लोकायुक्त पुलिस ने दिया कार्रवाई को अंजाम
डेढ़ करोड़ के कामों के वर्कऑर्डर देने के बदले अध्यक्ष पुत्र से ली रिश्वत

ग्वालियर। ग्वालियर लोकायुक्त पुलिस ने गुरुवार की शाम शिवपुरी शहर के टूरिस्ट विलेज होटल में पिछोर नगर परिषद के सीएमओ को एक लाख 17 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों दबोच लिया। इस मामले में रिश्वत देने वाला कोई और नहीं बल्कि नगर परिषद पिछोर अध्यक्ष का पुत्र ही है। सीएमओ ने यह रिश्वत करीब डेढ़ करोड़ के कार्यों के वर्कऑर्डर देने के बदले में मांगी थी। पूरे घटनाक्रम में सीएमओ रिश्वत लेने के बाद भी खुद को बेकसूर बताते हुए मामले को षडय़ंत्र बता रहे हैं।

इसे भी पढ़ें : घर के दरवाजे पर दूल्हा का हो रहा था स्वागत, तभी हुई हर्ष फायर, शादी में मची भगदड़

लोकायुक्त निरीक्षक कविन्द्र सिंह चौहान ने बताया कि 10 जुलाई को नगर परिषद पिछोर के अध्यक्ष संजय पाराशर के पुत्र मयंक पाराशर ने ग्वालियर कार्यालय में शिकायत दर्ज कराई थी कि डेढ़ करोड़ के कामों के वर्कऑर्डर करने की एवज में सीएमओ सुधीर पुत्र स्व. दिनेश चंद्र मिश्रा, एक लाख रूपए से अधिक की रिश्वत मांग रहे हैं।

इसे भी पढ़ें : सावन में बन रहे हैं कई विशेष योग, इन जातकों पर जमकर होगी धन की वर्षा

रिश्वत मांगने की रिकॉर्डिंग भी मयंक ने पुलिस को उपलब्ध कराई। इस पर से लोकायुक्त पुलिस व मयंक ने मिलकर सीएमओ को रंगे हाथों पकडऩे की योजना बनाई और निर्धारित योजना के तहत शिवपुरी में रहने वाले सीएमओ मिश्रा को गुरूवार की सुबह मयंक ने फोन लगाकर पैसे देने की बात कही। इस पर सीएमओ तैयार हो गए और शाम करीब 6 बजे पैसे लेने के लिए शहर के टूरिस्ट विलेज होटल पहुंच गए। यहां पर मयंक ने सीएमओ मिश्रा को एक लाख 17 हजार रूपए दिए, पहले से ही बैठी लोकायुक्त पुलिस ने तुरंत सीएमओ को उक्त रिश्वत के पैसों के साथ दबोच लिया।

इसे भी पढ़ें : शाम को जाना थी बारात, विवाद ने छीन ली परिवार की खुशियां

मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू

पुलिस के पकड़ते ही सीएमओ बोलने लगे कि मुझको तो फंसाया जा रहा है। पुलिस ने जब सीएमओ के हाथ धुलाए तो पैसो से लगे पाउडर के फेर में सीएमओ के हाथ गुलाबी हो गए। बाद में पुलिस ने आरोपी के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी हैं। कार्रवाई करने वाली टीम में निरीक्षक चौहान के अलावा निरीक्षक पीके चतुर्वेदी, आराधना डेविस सहित अन्य स्टॉफ शामिल था।

 

इसे भी पढ़ें : देश धर्म की रक्षा के लिए बने कट्टर हिन्दू, सडक़ पर बैठकर किया हनुमान चालीसा का पाठ, देखें वीडियो

यहां बता दें कि जिले के इतिहास में रिश्वत के रूप में इतनी बड़ी रकम लेने की यह पहली कार्रवाई है। लोकायुक्त ग्वालियर निरीक्षक कविन्द्र सिंह चौहान ने बताया किनगर परिषद पिछोर अध्यक्ष पुत्र ने सीएमओ के खिलाफ रिकॉर्डिग के साथ 10 जुलाई को शिकायत की थी। इसी पर से गुरूवार को सीएमओ को एक लाख 17 हजार रूपए की रिश्वत के साथ गिरफ्तार किया हैं। आगे की कार्रवाई की जा रही हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned