नए शोध में कोरोना वायरस के नए लक्षण का खुलासा, आंखों में दर्द की भी शिकायत

  • कोरोना से पीड़ित लोगों पर किए गए शोध में सामने आई बड़ी बात।
  • कोरोना वायरस के नए लक्षण के रूप में आंखों में दर्द भी शामिल।
  • पीड़ितों से पूछा गया पॉजिटिव पाए जाने से पहले क्या थे उनके लक्षण।

नई दिल्ली। अगर आपकी आंखें पानी से भरी हुई हैं और आप इसकी वजह का दोष स्क्रीन टाइम को दे रहे हैं, तो ऐसा नहीं है। वास्तव में ऐसा कोरोना वायरस के कारण भी हो सकता है। वैज्ञानिकों को हर दिन कोरोना वायरस के बारे में कुछ ना कुछ नई जानकारी मिल रही है और इसके लक्षणों की सूची बढ़ती दिख रही है।

कोरोना वायरस से ठीक होने के बावजूद करना पड़ रहा है तकलीफों का सामना, अपनाएं ये शानदार उपाय

नए शोध के मुताबिक सूजी हुई आंखें COVID-19 का सबसे महत्वपूर्ण दृष्टि-आधारित संकेतक हैं। एक भारतीय मूल के वैज्ञानिक के नेतृत्व में किया गया अध्ययन, हमारी उस समझ को बढ़ाता है कि कोरोना वायरस शरीर में कैसे यात्रा करता है।

शोधकर्ताओं का कहना है कि कंजेक्टिवाइटिस भी कोरोना वायरस का एक लक्षण हो सकता है। ब्रिटेन में एंग्लिया रस्किन विश्वविद्यालय (एआरयू) के शोधकर्ताओं ने कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों से उनके लक्षणों को लेकर कई सवालात किए और सकारात्मक परीक्षण करने (पॉजिटिव पाए जाने) से पहले उनकी स्वास्थ्य स्थिति की तुलना में वे कैसे थे, जाना।

होम आइसोलेशन में रहने वाले COVID-19 मरीजों के लिए जल्द ठीक होने का रामबाण नुस्खा

एआरयू में विजन एंड आई रिसर्च इंस्टीट्यूट की निदेशक और शोध की प्रमुख लेखक शाहिना प्रधान ने कहा, "यह पहला अध्ययन है जिसमें कोविड-19 के संबंध में नेत्र संबंधी विभिन्न लक्षणों की जांच, अन्य प्रसिद्ध कोरोना वायरस लक्षणों और उनकी अवधि के संबंध में उनके समय सीमा की जांच की गई है।"

बीएमजे ओपन ऑप्थल्मोलॉजी नामक पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन में पाया गया है कि जब प्रतिभागियों में COVID-19 था, तो एक लक्षण के रूप में 18 प्रतिशत लोगों की आंखों में समस्या थी। जबकि सिर्फ 5 फीसदी प्रतिभागियों ने कहा कि उनकी हालत पहले से खराब थी।

WHO ने दी दुनिया को चेतावनी, अगली महामारी के लिए हो जाएं तैयार

अध्ययन में पाया गया है कि 83 उत्तरदाताओं में से 81 प्रतिशत ने अन्य COVID-19 लक्षणों के दो सप्ताह के भीतर आंखों की परेशानी की सूचना दी। इनमें से 80 फीसदी ने बताया कि उनकी आंखों की समस्या दो सप्ताह से कम समय तक रही।

बुखार के बाद थकान कोरोना वायरस का सबसे आम लक्षण

90 प्रतिशत उत्तरदाताओं ने बताया कि उनमें कोरोना वायरस के सबसे आम लक्षण थकान थे, जबकि 76 प्रतिशत में बुखार देखा गया और 66 प्रतिशत में सूखी खांसी रिपोर्ट की गई थी।

देश में कोरोना वैक्सीन को लेकर सामने आ गई बड़ी सूचना, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने खुद दी जानकारी

प्रधान ने कहा, "जबकि यह महत्वपूर्ण है कि कोणीय लक्षणों को संभावित COVID-19 लक्षणों की सूची में शामिल किया गया है, हम तर्क देते हैं कि 'कंजंक्टिवाइटिस' को सूजी आंखों से प्रतिस्थापित करना चाहिए क्योंकि इसे अन्य प्रकार के संक्रमणों (जीवाणु संक्रमण) के लक्षणों से अलग करना महत्वपूर्ण है।"

"यह अध्ययन महत्वपूर्ण है क्योंकि यह हमें इस बारे में अधिक समझने में मदद करता है कि COVID-19 कंजंक्टिवा को कैसे संक्रमित कर सकता है और यह तब कैसे वायरस को शरीर में फैलने देता है।"

Coronavirus symptoms
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned