कोरोना पॉजिटिव युवक की मौत के बाद झोलाछाप डॉक्टर की डिस्पेंसरी सील, मिली 35 प्रकार की दवाइयां

Death From corona: सूचना पर स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की टीम ने डिस्पेंसरी में छापा मारकर (Raid) 35 प्रकार की दवाइयां की जब्त, झोलाछाप डॉक्टर (Jholachhap doctor) पर कार्रवाई के लिए बीएमओ (BMO) को भेजा गया प्रतिवेदन

By: rampravesh vishwakarma

Published: 25 Apr 2021, 03:24 PM IST

खडग़वां. झोलाछाप डॉक्टर से बुखार का इलाज कराने के बाद युवक की तबीयत दोबारा खराब हो गई। जब उसने सरकारी अस्पताल में कोविड टेस्ट (Covid test) कराया तो पॉजिटिव (Corona positive) निकला था। संक्रमित युवक को कोविड केयर सेंटर चरचा कॉलरी में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी गुरुवार को मौत (Death from corona) हो गई थी।

परिजनों द्वारा जब यह आरोप लगाया गया कि झोलाछाप डॉक्टर (Jholachhap Doctor) की डिस्पेंसरी में मृतक का इलाज चल रहा था। इसके बाद स्वास्थ्य अमले ने छापा मारकर डिस्पेंसरी को सील कर दिया तथा वहां से 35 प्रकार की दवाइयां बरामद कीं। वहीं झोलाछाप डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई के लिए प्रतिवेदन बीएमओ के पास भेजा गया है।

Read More: अस्पताल से नदारद रहते हैं Doctor, इसलिए झोलाछाप से करा रहे इलाज


कोरिया जिले के ग्राम पंचायत सलका निवासी सुरेश पिता जयकरण (30) की गुरुवार को कोविड केयर सेंटर चरचा कॉलरी में मौत हो गई। बुखार आने पर युवक झोलाछाप डॉक्टर राजू राय निवासी देवाडांड़ से इलाज करा रहा था। दोबारा बुखार आने पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खंडग़वां में कोविड जांच कराने गया तो रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

इसके बाद उसे कोविड हॉस्पिटल चरचा कॉलरी रेफर कर दिया गया। इस दौरान 2-3 दिन के बाद उसकी मौत (Death from corona) हो गई। वहीं युवक की मौत के अगले दिन ग्राम सलका में 14 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। मामले में नायब तहसीलदार पुलिस बल, स्वास्थ्य अमले के साथ झोलाछाप डॉक्टर (Jholachhap doctor) की डिस्पेंसरी को सील (Dispensary sealed) कर दिया गया है।

साथ ही उसकी डिस्पेंसरी से 35 प्रकार की दवाइयां मिली है। फिलहाल झोलाछाप डॉक्टर का अब तक कोरोना टेस्ट नहीं किया गया है। सुरेश की कोरोना से मौत के बाद अब ग्रामीण टेस्ट कराने हॉस्पिटल पहुंच रहे हैं। साथ ही कोरोना पॉजिटिव आए मरीजों के प्राइमरी कांटेक्ट में आए लोगों की जांच जारी है।

Read More: उल्टी-दस्त पीडि़त महिलाओं को झोलाछाप Doctor ने चढ़ा दी गलत स्लाइन, मौत


गांव-गांव में झोलाछाप डॉक्टर
गौरतलब है कि खडग़वां विकासखंड में गांव-गांव में झोलाछाप डॉक्टर हैं और लोगों के घर पहुंच कर धड़ल्ले से इलाज कर रहे हैं। वहीं सरकारी अस्पताल के लैब टेक्नीशियन, सुपरवाइजर द्वारा घर-घर जाकर इलाज कर मोटी रकम वसूलने की चर्चा भी हो रही है।


कार्रवाई के लिए भेजा गया प्रतिवेदन
झोलाछाप डॉक्टर राजू राय पिता अरविंद राय, निवासी प्रेमनगर जिला सूरजपुर द्वारा बिना अधिकार अंग्रेजी दवा से इलाज किया जा रहा था। मामले में स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा क्लीनिक में रखी दवाई की सूची बनाकर बरामद किया गया है। 35 प्रकार की अंग्रेजी दवाई सील की गई। कार्यवाही करने बीएमओ खडग़वां को प्रतिवेदन भेजा गया है।
बीडी कुशवाहा, नायब तहसीलदार खडग़वां

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned