एफसीआई के अधिकारी, कर्मचारी एवं श्रमिक निभा रहे है दोहरी भूमिका

कोरोना के चलते लॉकडाउन में भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) के अधिकारी, कर्मचारी व इससे जुड़े श्रमिक भी दिनरात काम कर एफसीआई के गोदामों से राज्यों को गेहूं पहुंचाने में जुटे हैं। साथ ही कोटा में अधिकारियों, कर्मचारियों ने सामाजिक दायित्व निभाते हुए जरूरतमंदों को भोजन के पैकेट वितरित करने का भी पहल की है।

By: Habulal Prakash Sharma

Published: 09 Apr 2020, 09:42 PM IST

कोटा. कोरोना के चलते लॉकडाउन में भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) के अधिकारी, कर्मचारी व इससे जुड़े श्रमिक भी दिनरात काम कर एफसीआई के गोदामों से राज्यों को गेहूं पहुंचाने में जुटे हैं। साथ ही कोटा में अधिकारियों, कर्मचारियों ने सामाजिक दायित्व निभाते हुए जरूरतमंदों को भोजन के पैकेट वितरित करने का भी पहल की है।

आरबीएसके टीम बनी कोरोना वॉरियर्स


भारतीय खाद्य निगम भारत सरकार का अग्रणी उपक्रम है। कोरोना महामारी के दौरान लॉकडाउन की अवधि में 8 अप्रेल तक निगम के अधिकारियों, कर्मचारियों, श्रमिकों ने दिन-रात मेहनत करके लगभग 20 लाख मीट्रिक टन गेंहू, चावल का परिचालन कर देश के विभिन्न भागों में राज्य सरकारों को उपलब्ध करवाया है तथा आगे भी इसी प्रकार खाद्यान की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी। एफसीआई के कोटा के मंडल प्रबंधक पवन कुमार बोथरा ने बताया कि निगम के समस्त अधिकारियों व कार्मिको ने अपनी दोहरी भूमिका निभाते हुए व्यक्तिगत योगदान के माध्यम से प्रतिदिन हाईजनिक तरीके से भेाजन तैयार करवा कर शहर में अलग-अलग क्षेत्रों में जरूरतमंदो को 400 पैकेट वितरित किए जा रहे हैं। यह सेवा लॉक डाउन तक जारी रहेगी।

Habulal Prakash Sharma Photographer
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned