परिवार के सदस्यों को घर नहीं छोड़ा तो कांस्टेबल ने किशोर को बेरहमी से पीटा, थाने पहुंचा तो पुलिस ने भगाया

परिवार के सदस्यों को घर नहीं छोड़ा तो कांस्टेबल ने किशोर को बेरहमी से पीटा, थाने पहुंचा तो पुलिस ने भगाया
परिवार के सदस्यों को घर नहीं छोड़ा तो कांस्टेबल ने किशोर को बेरहमी से पीट किया लहूलुहान, थाने पहुंचा तो पुलिस ने भगाया

Zuber Khan | Publish: Aug, 24 2019 05:52:21 PM (IST) Kota, Kota, Rajasthan, India

Crime news, Police: जेकेलॉन अस्पताल के सामने एक पुलिसकर्मी ने ऑटो में बैठे 16 वर्षीय किशोर से मारपीट कर दी।

कोटा. जेके लॉन अस्पताल के सामने एक पुलिसकर्मी ने ऑटो में बैठे 16 वर्षीय किशोर से मारपीट कर दी। पुलिसकर्मी ( kota police ) किशोर से उसके परिजनों को ऑटो से घर छोड़कर आने को कह रहा था। किशोर ने कहा कि वह ऑटो चलाना नहीं जानता, तो पुलिसकर्मी आग-बबूला हो गया और मारपीट कर दी। ( constable Beating from teenager ) वह ऑटो की चाबी भी ले गया। शुक्रवार को पत्रिका कार्यालय पहुंचे किशोर के परिजन ने बताया कि जब इसकी शिकायत नयापुरा थाने में की गई तो कोई कार्रवाई नहीं की गई। बाद में वे शिकायत लेकर पुलिस महानिरीक्षक के पास गए।

Read More: कोटा के मुख्य चौराहे से चोर उड़ा ले गए लग्जरी कार, फरियादी थाने पहुंचा तो पुलिस बोली-तुम ही ढूंढों कहां गई कार

कोटा जक्शंन जगदम्बा कॉलोनी निवासी राजू मेघवाल ने आईजी को सौंपे ज्ञापन में बताया कि वह उसके पुत्र इस्लाम (16) के साथ ऑटो से जेके लॉन में 21 अगस्त रात पौने 12 बजे ढाई वर्षीय नवासे आदिल को देखने आया था। इस्लाम बाहर ऑटो में ही रुक गया। पुलिसकर्मी राजेश वहां शराब के नशे में आया और इस्लाम को कहा कि उसके परिवार को घर छोड़ आ। इस्लाम ने कहा कि उसे ऑटो चलाना नहीं आता। इससे गुस्साए राजेश ने इस्लाम को बुरी तरह से पीटा। उसके कान से खून आने लगा।

Read More: नमाज पढ़कर घर लौट रहे युवक पर लठ बरसाने वाला कांस्टेबल लाइन हाजिर, जांच में जुटी पुलि‍स

एमबीएस में उसका उपचार करवाया। जब इस पर नयापुरा पुलिस ने कार्रवाई नहीं की, तो उन्होंने इसकी शिकायत पुलिस महानिरीक्षक कार्यालय में की। मेघवाल ने बताया कि शिकायत के बाद से पुलिसकर्मी राजेश फोन पर धमकियां दे रहा है। जब पत्रिका संवाददाता ने पुलिसकर्मी राजेश से बात करने की कोशिश की गई तो उनका सरकारी नम्बर कॉल फारवार्डिंग बताता रहा।
मामले की जानकारी नहीं है। पता करवाते है। मुझसे कोई पीडि़त या परिजन आकर नहीं मिला।
भगवत सिंह हिंगड, पुलिस उप अधीक्षक, नयापुरा

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned