UP Top 10 News: बाजार में 'कोरोना से लड़ना है' के संदेश की राखियों ने मचाई धूम, मुस्लिम महिला ने बनवाया श्रीराम का टैटू

कोरोना (Corona Virus) से लड़ना है डरना नहीं’ जैसे उद्देश्य की पूर्ति करने वाली चांदी की राखियां (Rakshabandhan) बाजार में उतारी गई हैं। इन चांदी की राखियों में कोरोना वायरस की फोटो लगाई है

By: Karishma Lalwani

Published: 01 Aug 2020, 01:51 PM IST

'कोरोना से लड़ना है' के संदेश की बिक रही राखियां

लखनऊ. 'कोरोना (Corona Virus) से लड़ना है डरना नहीं’ जैसे उद्देश्य की पूर्ति करने वाली चांदी की राखियां (Rakshabandhan) बाजार में उतारी गई हैं। इन चांदी की राखियों में कोरोना वायरस की फोटो लगाई है। कारोबारियों का कहना है कि यह राखी लोगों को यह संदेश देने के लिए बनाई गई है कि इस वायरस को समाप्त करने के लिए एक संकल्प की जरूरत है कि इससे डरे नहीं, इसका मुकाबला करें।800 से 1200 रुपये के बीच बिक रही इन राखियों में कोरोना वायरस की फोटो लगी है। यह राखियां लोगों को इस बात का संदेश देंगी कि कोरोना का मुकाबला करने के लिए खुद को तैयार करना होगा।

यूपी मेट्रो को मिले तीन नए निदेशक

लखनऊ. उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (यूपीएमआरसीएल) को तीन नए निदेशक मिले हैं। शील कुमार मित्तल को निदेशक (वित्त), अरविंद सिंह को कानपुर और अरविंद कुमार राय को आगरा के परियोजना निदेशक के पद पर नियुक्त किया गया है। शील कुमार मित्तल ने कार्यभार संभाल लिया है। शील कुमार मित्तल ने दिल्ली विश्वविद्यालय से वाणिज्य में स्नातक और एमबीए हैं। उन्होंने अपने 25 वर्षों के लंबे कार्यकाल में यूपी मेट्रो और दिल्ली मेट्रो जैसी प्रतिष्ठित संस्थाओं में अपनी सेवाएं दीं हैं। वहीं, कानपुर मेट्रो प्रोजेक्ट के परियोजना निदेशक के बनाए गए अरविन्द सिंह मौजूदा समय यूपी मेट्रो रेल कार्पोरेशन में मुख्य परियोना प्रबंधक के पद पर कार्यरत हैं। आगरा मेट्रो प्रोजेक्ट के परियोजना निदेशक बने अरविंद कुमार राय मौजूदा समय चेन्नई मेट्रो रेल कार्पोरेशन लिमिटेड में मुख्य महाप्रबंधक के पद पर कार्यरत थे।

ईद पर कटा बकरा केक

वाराणसी. करोना कॉल में आर्थिक तंगी की वजह से कुछ मुस्लिम बंधुओं ने बकरीद पर बकरे की कुर्बानी जगह केक काटकर त्योहार मनाया। केक पर बकरे का फोटो लगवाई और हैप्पी बकरीद लिखा। करीब तीन दर्जन मुस्लिमों ने इस तरह के केक का आर्डर दिया। वाराणसी स्थित एक बेकरी के दुकानदार प्रिंस गुप्ता ने बताया कि बकरीद के त्यौहार को देखते हुए ज्यादा ऑर्डर मिला। बकरीद पर पहले भी आड़े आते थे लेकिन उस पर बकरे का फोटो की मांग नहीं होती थी। ऐसा पहली बार हुआ है।

यूपीपीसीएस मुख्य परीक्षा 22 सितंबर से

प्रयागराज. लोक सेवा आयोग ने पीसीएस और एसीएफ एवं आरएफओ 2019 मुख्य परीक्षा को टाल दिया है। दोनों परीक्षाएं अब सितंबर और अक्टूबर में होंगी। आयोग ने यह फैसला कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए प्रदेश सरकार की ओर से सप्ताह में दो दिन का प्रतिबंध लागू किए जाने के मद्देनजर लिया है। पीसीएस 2019 मुख्य परीक्षा 25 अगस्त से प्रस्तावित थी। यह परीक्षा अब 22 सितंबर से होगी। सहायक वन संरक्षक यानी एसीएफ और क्षेत्रीय वन अधिकारी यानी आरएफओ 2019 मुख्य परीक्षा 19 सितंबर से प्रस्तावित थी, जो अब 15 अक्टूबर से होगी।

सोमवार की साप्ताहिक बंदी समाप्त

वाराणसी. जनपद में सभी दुकानें व निजी कार्यालय (हॉटस्पाट व कन्टेनमेंट जोन कोछोड़कर) सोमवार से शुक्रवार तक खोली जाएंगी तथा शासन के आदेशानुसार साप्ताहिक बंदी शनिवार व रविवार को ही रहेगी। सोमवार की साप्ताहिक बंदी समाप्त की जाती है। सभी प्रकार की दुकानों के खोले जाने की अवधि प्रातः 9 बजे से सायंकाल 7 बजे तक निर्धारित की गयी थी। अब इन दुकानों के खोले जाने की अवधि प्रातः 9 बजे से सायंकाल 5 बजे तक निर्धारित की जाती है।

रामायण श्रंखला के टिकटों के कोलाज से बनाया फोटो फ्रेम

वाराणसी. डाक विभाग की ओर से रामायण आधारित डाक टिकटों की श्रृंखला का शुभारंभ काशी में तुलसी मानस मंदिर प्रांगण से 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था। अब रामायण श्रृंखला के इन्हीं टिकटों का डाक विभाग ने कोलाज बनाकर आकर्षक फ़ोटो फ्रेम में सजा कर तैयार किया है। विशेश्वरगंज प्रधान डाकघर के फिलेटली विभाग में इस खास कलेक्शन को रखा गया है जिसे जनता ले सकती है। डाकघर से इन फ्रेम को खरीदकर लोग पूजा भी कर सकते हैं और चाहें तो राम मंदिर ट्रस्ट को भी भेज सकते हैं। ताकि मंदिर बनने के बाद प्रभु श्रीराम के जीवन की झांकियों को दर्शाते टिकटों का फ्रेम मंदिर में जाने वाले भक्त भी देख सकें।

बिना मास्क 220 सिपाहियों ने किया पासिंग आउट परेड

इटावा. इटावा में प्रशासनिक लापरवाही का नमूना उस वक्त देखने को मिला, जब बिना मास्क 220 सिपाहियों की पासिंग आउट परेड करा दी गई। परेड के बाद काफी देर तक नाच गाना भी चला। नए रिक्रूट्स और अधिकारी एक पल को भूल ही गए कि चौतरफा कोरोना महामारी का खतरा मंडरा रहा है। इस वाकये पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष मलखान सिंह ने पुलिस-प्रशासन पर सवाल खड़े किए हैं। मलखान सिंह ने कहा कि सरकार की कोरोना काल को लेकर जारी गाइडलाइंस सिर्फ और सिर्फ आम जनता पर लागू हैं, बाकी सरकारी मुलाजिमों और सत्ताधारी नेताओं पर इन गाइडलाइंस का कोई असर नहीं है।

रायबरेली में पुलिस मुठभेड़, पांच गिरफ्तार

रायबरेली. रायबरेली के लालगंज फतेहपुर मार्ग पर जनता बाजार के पास मगरा हर मोड़ पर एसओजी और पुलिस टीम के बीच बदमाशों से मुठभेड़ हो गई। दोनों ओर से शुरू हुई जवाबी फायरिंग में एसओजी का एक सिपाही सुरेश वर्मा के कंधे से गोली छूते हुए निकल गई। वहीं पुलिस की फायरिंग में एक बदमाश रत्नेश को गोली लग गई। सिपाही और बदमाश के घायल होने के बाद अन्य बदमाश भागने लगे पुलिस ने घेराबंदी करके 5 बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। वहीं घायल सिपाही और बदमाश को जिला अस्पताल पहुंचाया गया। पुलिस ने पकड़े गए बदमाशों से पूछताछ के बाद उन्हें जेल भेज दिया।

पति ने पत्नी को चाकूओं से गोद कर उतारा मौत के घाट

हरदोई. कोतवाली क्षेत्र के ग्राम कुतुआपुर में हरिविलास नामक व्यक्ति अपनी पत्नी सत्यवती के चरित्र पर शक जताकर टिप्पणी की। पत्नी ने विरोध किया तो चाकू से गोदकर उसकी हत्या कर दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया। दरअसल, हरिविलास ने पत्नी के चरित्र को लेकर गलत टिप्पणी कर दी तो उसने विरोध किया। इस पर हरिविलास गुस्से में आ गया और गाली गलौज कर पास में ही रखे चाकू से सत्यवती के पेट और पीठ में ताबड़तोड़ वार कर दिए। सत्यवती की मौके पर ही मौत हो गई। मौके पर पहुंचे उसके बच्चों और ग्रामीणों ने यूपी 112 पर घटना की जानकारी दी तो पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने आरोपी हरिविलास को हिरासत में ले लिया। घर के अंदर से ही हत्या में इस्तेमाल चाकू बरामद हुआ है। बिलग्राम कोतवाल अमरजीत सिंह ने बताया कि शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। तहरीर मिलते ही रिपोर्ट दर्ज कर ली जाएगी।

मुस्लिम युवती ने बनवाया श्रीराम का परमानेंट टैटू

वाराणसी. वाराणसी में राम मंदिर बनवाए जाने की खुशी में एक मुस्लिम महिला ने श्री राम के नाम का परमानेंट टैटू करवाया है। महिला का नाम इक्रा खान है। वह पीएम मोदी की प्रशसंक है। वाराणसी स्थित सिगरा में टैटू कराने आई इक्रा ने कहा कि उसका सपना था कि राम मंदिर का निर्माण हो, इसका उन्हें बेशब्री से इंतजार था। ये स्थाई टैटू उन्होंने इसलिए बनवाया ताकि लोगों में संदेश जाए और हिन्दू मुस्लिम एकता बनी रहे। उन्होंने कहा कि यह टैटू बनवाकर उन्होंने कौमी एक्ता और गंगा जमुनी तहजीब का उदाहरण पेश किया है। मुस्लिम महिला का ये जोश देख के दुकानदार ने भी राम भक्ति में अपना योगदान दिया और राम नाम के टैटू बनवाने वालों के लिए टैटू बिल्कुल फ्री कर दिया।

ये भी पढ़ें: शिलान्यास से पहले चार जोन में बंटी अयोध्या, सोने के शेषनाग चांदी के कछुए होंगे भूमि पूजन में इस्तेमाल

Corona virus Ram Mandir
Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned